CWC Live Update: CWC बैठक पर कांग्रेस थोड़ी देर में करेगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

CWC Live Update: बैठक में सोनिया गांधी ने जताई पद छोड़ने की इच्छा, राहुल ने उठाए चिट्ठी की टाइमिंग पर सवाल

CWC Live Update: कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC Meeting) की बैठक 24 अगस्‍त सुबह 11 बजे शुरू हो चुकी है. इस बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने सदस्यों से कहा कि उन्हें अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी से मुक्त कर दें और पार्टी को संकट से उबारने के लिए प्रयास करें. साथ ही बैठक में सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी को लेकर चर्चा जारी है. कई वरिष्ठ नेताओं ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की है. इससे पहले पार्टी मुख्यालय के बाहर कांग्रे कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की और गांधी परिवार से ही किसी को अध्यक्ष बनाने की मांग की.

Congress Working Committee Meeting Live Updates:

कांग्रेस कार्यसमिति बैठक में चिट्टी को लेकर संग्राम छिड़ गया है. राहुल गांधी की टिप्पणी से कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता नाखुश नजर आए. इस चिट्ठी संग्राम पर कांग्रेस आज यानि सोमवार की शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी. प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई वरिष्ठ नेता शामिल हो सकते हैं.

CWC में अंबिका सोनी ने कहा कि पार्टी के नेतृत्व को लेकर सोनिया गांधी को पत्र लिखने वालों के खिलाफ पार्टी संविधान के तहत कार्रवाई की जा सकती है

CWC में जी.एन. आज़ाद और आनंद शर्मा ने कहा कि उन्होंने सीमा में रहकर ही चिंताएं व्यक्त की अगर फिर भी किसी को लगता है कि हमने अनुशासन भंग किया है तो कार्रवाई की जा सकती है

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने “भाजपा के साथ मिलीभगत” पर किए गए अपने ट्वीट को वापिस लिया.

गुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि अगर राहुल गांधी की “भाजपा के साथ मिलीभगत” की टिप्पणी सही साबित हुई तो वे इस्तीफा दे देंगे

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने अपने वॉल पर एक भावुक ट्वीट किया है. उन्‍होंने लिखा है राहुल गांधी कहते हैं, “हमारी भाजपा से मिलीभगत है” … पिछले 30 सालों में कभी भी किसी मुद्दे पर बीजेपी के पक्ष में बयान नहीं दिया। फिर भी “हमारी भाजपा से मिलीभगत है”!

कार्यसमिति की बैठक में गुलाम नबी आज़ाद ने पत्र लिखने के कारण बताए साथ ही इस्तीफे की भी पेशकश की. गुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि वह इस्तीफा दे देंगे अगर वह किसी भी तरह से भी भाजपा की मदद कर रहे थे या दूसरे के इशारे पर ऐसा कर रहे थे.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी ने सीडब्ल्यूसी की बैठक के दौरान कहा कि पत्र को उस समय लिखा गया था जब राजस्थान में कांग्रेस सरकार संकट का सामना कर रही थी. इस पर चर्चा करने के लिए सीडब्ल्यूसी सही स्थान था.

कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी की टाइमिंग को गलता बताया. उन्होंने कहा कि जब वह अस्पताल में भर्ती थी, तब पत्र क्यों भेजा गया। वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि चिट्ठी से आहत हूं.

कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोनिया गांधी को अध्यक्ष बने रहने के लिए आग्रह किया. एके एंटनी ने कहा कि आलाकमान को कमजोर करना पार्टी को कमजोर करना है. कोई सहयोगी कैसे ऐसा पत्र लिख सकता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top
रांची के TOP Selfie Pandal लव राशिफल: 3 अक्‍टूबर 2022 India की सबसे सस्‍ती EV Car लव राशिफल: 2 अक्‍टूबर 2022 नोट पर गांधीजी कब से?