CTET Exam पहली कोशिश में पास करना अब आसान, जानिए Tips & Tricks

by

जो लोग टीचर बनना चाहते हैं या सरकारी स्कूल में शिक्षक बनने की इच्छा रखते हैं, उन्हें सीटीईटी (CTET Exam) के बारे में जरूर पता होगा. सीटीईटी (CTET full form) का अर्थ है, सामान्य शिक्षक पात्रता परीक्षा. यह सरकारी स्कूलों या केंद्रीय विद्यालय में प्राथमिक कक्षाओं (पहली से आठवीं कक्षा) के लिए शिक्षकों की भर्ती के लिए CBSE (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) द्वारा CTET Exam आयोजित किया जाता है. CTET की परीक्षा साल में दो बार होती है इसलिए सीटीईटी की परीक्षा में परीक्षा में लाखों उम्मीदवार साल में दो बार अपनी किस्मत और ज्ञान को आजमाते हैं. केवल कुछ उम्मीदवार ही पर्याप्त अंक प्राप्त करते हैं और शिक्षक बनने के योग्य होते हैं. आप में से कई लोग सोच सकते हैं कि इस तरह की प्रतियोगी परीक्षा को पहले प्रयास में पास करना मजाक है. लेकिन, सच्चाई अलग है क्योंकि हमने कुछ टिप्स एंड ट्रिक्स पर प्रकाश डाला है जो आपको पहले प्रयास में CTET Exam Results पास करने में मदद करती हैं.

CTET Syllabus: पैटर्न और टिप्स

परीक्षा पैटर्न में दो पेपर होते हैं. पेपर- I उन उम्मीदवारों के लिए है जो कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक बनना चाहते हैं. जबकि, 6वीं से 8वीं तक के उम्मीदवारों को पेपर- II के लिए उपस्थित होना होगा. हालांकि, कुछ उम्मीदवार दोनों पेपर के लिए अपनी ज्ञान और किस्मत आजमाने को तैयार हैं.

CTET Exam में पांच मॉड्यूल शामिल हैं जिनमें शामिल हैं:

● बाल विकास और शिक्षाशास्त्र
● भाषा- I
● भाषा-द्वितीय

● गणित
● पर्यावरण अध्ययन

परीक्षा की कुल अवधि 2:30 घंटे है. परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले पहले कट-ऑफ मानदंड को ध्यान में रखें. कंपटीशन के कारण, यह हर साल बदलता रहता है. लेकिन उम्मीदवारों के लिए एक बड़ी राहत यह है कि कोई निगेटिव मार्क्स नहीं है. निगेटिव मार्क्स नहीं होने के कारण यह उम्मीदवारों के आत्मविश्वास को बढ़ाता है.

CTET Question Paper: प्रैक्टिस बहुत जरुरी है

CTET Exam में सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ (CTET Question Paper) आधारित होते हैं. इसका मतलब है कि 150 प्रश्नों – पेपर- I और पेपर- II दोनों के लिए, के बहुविकल्पीय प्रश्न यानी कि मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन (MCQ) होंगे. दोनों परीक्षाओं में 150 प्रत्येक के बराबर अंक होते हैं. खास बात यह है कि इसमें कोई निगेटिव मार्क्स योजना नहीं है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं की उम्मीदवार परीक्षा के दौरान अपने आंखों को बंद करके परीक्षा दे. संपूर्ण ज्ञान के बिना, इन एमसीक्यू का सही उत्तर देना आसान काम नहीं है. इसलिए, अभ्यास महत्वपूर्ण है. प्रतिदिन परीक्षा मॉड्यूल का अभ्यास करें और अपने ज्ञान को बेहतर बनाएं. इंटरनेट पर मॉक टेस्ट, सैंपल पेपर और अन्य सामग्री आसानी से उपलब्ध हैं. कुछ तो ऐसे मॉक टेस्ट और सैंपल पेपर है जिसकी कीमत शून्य है. इसलिए, CTET Exam & Results प्राप्त करने के लिए अभ्यास के लिए कुछ वक्त निकालें.

CTET Question Paper के पैटर्न और मानक को पहले से निर्धारित करें

परीक्षा देने से पहले, प्रश्नों की प्रकृति को समझ लें. ऑनलाइन सर्च इंजन, अभ्यास प्रश्न पत्र, मॉक टेस्ट या अन्य अध्ययन सामग्री का उल्लेख कर सकते हैं. यह तैयारी शुरू करने के तरीके के बारे में एक संक्षिप्त विचार देता है. साथ ही यह आपकी ताकत और कमजोरियों का पता लगाने में मदद करता है. परीक्षा के प्रश्न को समझने से आप की बेसिक मजबूत होती है, आप बुनियादी बातों से अच्छी तरह वाकिफ हैं तो परीक्षा में सफल आसान है. सीबीएसई अधिसूचना (CBSE Notification) को ध्यान से पढ़ें जानने के लिए परीक्षा में किस स्तर के प्रश्न आएंगे. शीर्ष शिक्षा बोर्ड ने कुछ सुझाव और संकेत भी दिए गए हैं जो उम्मीदवार की तैयारी में सहायता करते हैं. साथ ही प्रश्न पत्र की सामग्री संरचना को पढ़ना महत्वपूर्ण है.

सबसे अहम बात घबराहट के कारण कुछ विद्यार्थी अपना CTET Exam Admit Card परीक्षा से पहले ले जाना भूल जाते हैं इसलिए याद रखें कि परीक्षा के एक दिन पहले ही CTET Admit Card अपने साथ रख ले.

CTET Exam से पूर्व मन को शांत रखना जरूरी

उम्मीदवारों की विफलता के पीछे सबसे अहम कारण है परीक्षा के दिन से पहले ध्यान खोना और घबराहट में रहना. अवधारणाओं को समझने के लिए मानसिक स्थिरता की भी आवश्यकता होती है इसलिए तनाव मुक्त रहें और मन को शांत रखें. किसी भी परीक्षा को निकालने के लिए एकाग्रता एक अहम पहलू है इसलिए योग या हल्के व्यायाम का अभ्यास अपनी दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बनाएं जो आपकी एकाग्रता के स्तर को बढ़ाते हैं. साथ ही योग करने से पहले मेडिटेशन भी करने का आपको लाभ मिलेगा. परीक्षा से पहले यह परीक्षा के वक्त चिंतित या नर्वस होना पूरी तरह से सामान्य बात है. कुछ उम्मीदवार मानसिक दबाव मैं आने के कारण परीक्षा के वक्त घबरा जाते हैं. हालांकि बेहतर परिणाम के लिए याद रखें कि अपनी नसों को नियंत्रित करें और केवल प्रश्नों पर ध्यान दें, परिणामों की चिंता न करें. वह कहते हैं ना कर्म करते जाओ फल की चिंता ना करो.

अंतिम शब्द –

किसी को शिक्षित करना देश के सम्मानित व्यवसायों में से एक है. इसलिए ऐसे उम्मीदवार जो सरकारी स्कूल के छात्रों को पढ़ाना चाहते हैं, देश की शिक्षा व्यवस्था को बढ़ाना चाहते हैं वे CTET Exam के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसमें खास बात यह भी है वेतन पैकेज काफी अच्छा हैं. उसके साथ ही 100% नौकरी की सुरक्षा है. यह कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा की इस Dream job ड्रीम को पाने के लिए केवल एक चीज की आवश्यकता है समर्पण और कड़ी मेहनत.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.