Take a fresh look at your lifestyle.

CSK vs MI Final: मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स आमने-सामने

0

Hydrabad: आईपीएल (Indian Premier League) के 12वें सीजन का फाइनल मुकाबला आज हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्‍टेडियम में खेला जाएगा. फाइनल मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच होगा.

दोनों ही टीमें टक्‍कर की हैं. मुंबई और चेन्नई दोनों ने ही अब तक सबसे ज्यादा 3-3 बार आईपीएल खिताब अपने नाम किया है. ऐसे में आज जो भी टीम जीतेगी वो आईपीएल में अब तक की सबसे सफल टीम बन जाएगी.

दोनों टीमें चौथी बार फाइनल में आमने-सामने हैं और इत्तेफाक यह भी है कि यह दोनों अपने चौथे खिताब के लिए लड़ेंगी. इन दोनों टीमों के बीच हुए बीते तीन फाइनल मैचों में से दो में मुंबई को जीत मिली है, वहीं एक बार चेन्नई जीत हासिल करने में सफल रही है.

चेन्नई को एक ऐसी टीम माना जाता है जो ग्रुप स्टेज में दमदार खेल दिखाती है. वहीं मुंबई को धीमी शुरुआत करने वाली टीम के तौर पर देखा जाता है.

CSK vs MI टीम के तीन बड़े संयोग

पहला संयोग: जो पहले बल्लेबाजी करेगा वही जीतेगा?

मुंबई इंडियंस और चेन्नै सुपर किंग्स के बीच आज चौथी बार आईपीएल के फाइनल में भिड़ंत में होगी. इससे पहले की तीन भिड़ंत को देखें तो जिस टीम ने पहले बल्लेबाजी की उसने जीत हासिल की है.

2010 में पहले फाइनल में हुई भिड़ंत में चेन्नई ने 22 रन से तो 2013 में मुंबई ने 23 रन से जीत हासिल की थी. 2015 में भी मुंबई ने चेन्नई को 41 रन से हराया था.

इतना ही नहीं, चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 2017 में जब राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स का कप्तान थे, उस समय भी फाइनल में उनकी भिड़ंत मुंबई से हुई थी. तब भी मुंबई ने ही एक रन से खिताब अपने नाम किया था. तो क्या इस बार भी जो टीम पहले बल्लेबाजी करेगी, वही चैंपियन बनेगी.

दूसरा संयोग: क्या अब चेन्नई को मिलेगा कर्ण के भाग्य का साथ?

चेन्नै सुपर किंग्स के लेग ब्रेक गेंदबाज कर्ण शर्मा की टीम जब भी फाइनल खेली, वह आईपीएल में चैंपियन बनी. कर्ण सबसे पहले 2016 में सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा थे. टीम फाइनल में पहुंची और चैंपियन बनी.

2017 में वह मुंबई इंडियंस से जुड़े तो मुंबई ने तीसरी बार खिताब अपने नाम कर लिया. 2018 में वह चेन्नई आ गये तो चेन्नई भी तीसरी बार खिताब जीतने में सफल हो गया. अब देखना यह है कि क्या इस बार भी उनका यह भाग्य चेन्नई का बेड़ा पार लगाएगा.

तीसरा संयोग: अंकों की गणना में मुंबई भारी

हालांकि, अंकों की गणना में जाएं तो फिर मुंबई का दावा मजबूत लग रहा है. मुंबई ने 2013, 2015 और 2017 में खिताब जीते हैं. तीनों बार वर्ष विषम संख्या में रहा है. साथ ही एक साल छोड़कर मुंबई खिताब जीत रही है. ऐसे में देखना है कि भाग्य किसका साथ देती है.

टीमें (संभावित)

मुंबई: रोहित शर्मा (कप्तान), हार्दिक पंड्या, युवराज सिंह, क्रुणाल पंड्या, ईशान किशन (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, मयंक मार्कंडेय, राहुल चाहर, अनूकुल रॉय, सिद्धेश लाड, आदित्य तारे, क्विंटन डि कॉक, एविन लुइस, कायरन पोलार्ड, बेन कटिंग, मिशेल मैक्लेनगन, एडम मिल्ने, जेसन बेहरेनडॉर्फ, अनमोलप्रीत सिंह, बरिंदर सरां, पंकज जायसवाल, रसिख सलाम, जसप्रीत बुमराह.

चेन्नई: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), अंबाती रायुडू, शेन वॉटसन, सुरेश रैना, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, दीपक चहर, शार्दुल ठाकुर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर, मुरली विजय, ध्रुव शौरे, फॉफ डु प्लेसिस, ऋतुराज गायकवाड़, मिशेल सैंटनर, डेविड विली, सैम बिलिंग्स, समीर, मोनू कुमार, कर्ण शर्मा, केएम आसिफ, मोहित शर्मा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More