मोदी की गलत नीतियों के कारण देश दोबारा गुलाम हो चुकी है : सुप्रियो भट्टाचार्य

by

Ranchi: झारखण्ड मुक्ति मोर्चा रांची जिला समिति द्वारा जिला मुख्यालय के समक्ष धरना-प्रदर्शन किया गया.  कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष मुशताक आलम एवं संचालन कार्यवाहक जिला सचिव डॉ हेमलाल कुमार मेहता हेमू ने किया.

इस धरना प्रदर्शन कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में झामुमो के केन्द्रीय महासचिव सह प्रवक्ता श्री सुप्रियो भट्टाचार्य शामिल हुए. उन्‍होंने ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए  कहा कि जब से मोदी सरकार बनी है जनता दिन व दिन  पूँजीपतियों की चंगुल में फंसती गई. सभी सरकारी संस्थाओं को मोदी सरकार ने पूँजीपतियों के हाथों बेचने का काम किया है. आज देश में 6 वर्षों में  महंगाई दो गुना हो गया है. केन्द्र सरकार  अपने सभी वादों के विपरीत काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि जब पेट्रोल 168 रू बैरल था तब यहाँ देश सस्ती मिल रही थी. अभी जबकि 42 रुपये बैरल मिल रही है आज पेट्रोल के दाम शताब्दी पार कर गई. देश में सिर्फ़  मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण एक बार पुनः गुलाम हो चुकी.

विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित झामुमो के केन्द्रीय सचिव नन्दकिशोर मेहता ने कहा कि केन्द्र सरकार जब से बनी है जनता त्राहिमाम कर रही है. लागातार महंगाई आसमान छूती जा रही है. पेट्रोल एवं डीजल के मूल्यों में बेतहासा बृद्धि से सभी चीजों की कीमतें जनता का कमर तोड़ रही है.  एक साल से देश की जनता कोरोना से जूझ रही है,  करोड़ों  लोगों की नौकरी चली गई इसकी चिन्ता न कर और देशवासियों को महंगाई का तोहफा दे रहे हैं. 

Read Also  रांची के श्मशान-कब्रिस्तान में 82 शवों का अंतिम संस्कार

उधर देश के अन्नदाता किसान कृषि विधेयक 2020 के विरोध में आन्दोलन करते करते 250 से अधिक दम तोड़ चुके हैं इसलिए आज राज्य में हमारी सरकार रहने के बावजूद हमारी पार्टी को सड़क पर उतरना पड़ा है. इसलिए महंगाई कम करते हुए तीनों कृषि विधेयक वापस लिया जाए.

धरना प्रदर्शन के बाद आदरनीय सुप्रियो भट्टाचार्य जी के नेतृत्व में भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नाम रांची के उपायुक्त  छविरंजन की अनुपस्थिति में जिला मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा गया. कार्यक्रम में मुख्य रूप से  महिला मोर्चा की केन्द्रीय अध्यक्ष डॉ महुआ माजी, केन्द्रीय सदस्य  समनुर मंसुरी, अफरोज अन्सारी, पूर्व केन्द्रीय सदस्य एजाज शाह, रोशन सिंह, कार्यवाहक जिला सचिव डॉ हेमलाल कुमार मेहता हेमू, जिला कोषाध्यक्ष नितिन अग्रवाल,  जिला उपाध्यक्ष श्री बीरू तिर्की, कलाम आजाद,  समेत कई झामुमो कार्यकर्ता और नेता शामिल हुए. अश्विनी शर्मा, रतिश द्विवेदी अप्पू, निरंजन कालिंदी, सह सचिव मुन्ना बडाईक नरेश यादव, सह सचिव रविन्द्र नाथ मुण्डा, साजिद कौशर ,  जुलफीकार ख़ान, सोनु मुण्डा   संयुक्त सचिव  बीरू साहु, आदिल इमाम, मीडिया प्रभारी वसीम राबिया  खान , रामशरण विश्वकर्मा,  कुदुस अन्सारी, साहिल हबीब, परविन्दर सिंह नामधारी,   अल्पसंख्यक मोर्चा के रांची, जिलाध्यक्ष आफताब आलम, जिला उपाध्यक्ष श्री  परवेज आलम गुड्डू, आजाद राजा, दिनेश महतो, जनक नायक, दिनेश तिग्गा, विक्रम सिंह,  भुनेश्वर साहु,  बिरिश मिंज, मकेश्वर महली, विनोद तिर्की,  बेलाल अन्सारी, मांगा तिर्की , सतेन्द्र साहु,  मो असलम,  रामानन्द बेदिया, नागेश्वर महतो, रोशन ईमानुवेल तिग्गा, अनिल पासवान, राजेश गोप, नवीन तिर्की, हलधर महतो,   लालजी रमण, अरूण वर्मा, उमेश यादव,  रेजाउल्लाह अन्सारी,  एनुल खान, 

Read Also  युवती ने स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता को मुंह में सुना दी खरी-खोटी

अख्तर अंसारी, लालजय कुमार नाथ शाहदेव,  मृत्युन्जय सिंह, दानियल एक्का,  राज कच्छप, मो फरीद,  बीके ठाकुर,  संजय राय, आशुतोष वर्मा,  सुनील साहु, सागर वर्मा,  प्रकाश मुण्डा,  महेन्द्र मुण्डा, सीता कच्छप,  बसंत मुण्डा, बिरसा मुंडा,  विष्णु मुण्डा, सुमित टोप्पो, सुजीत उपाध्याय, मोजाहिद हुसैन,  नौशाद आलम, नयन तारा उरांव,  उषा उरांव,  जावेद अनवर, विलियम रिचड लकडा, अजीत गुप्ता,  अजीत नायक,   निखिल मिश्रा,  संध्या गुड़िया,  जया नाग, जयराम विश्वकर्मा, शांति तिर्की, सिलो देवी, योगेन्द्र राम,  रेयाज, सुनीता लिण्डा,  सुनीता देवी,  आरती देवी,  सरफराज, सैलेन्द्र, अंजली कच्छप,  सुषमा बरदेवा, राकेश वर्मा,   देबाशीष मनोरंजन घोष, अमरजीत सिंह, मो साजिद,  गोपाल पाण्डे, राहुल वर्मा,  राजेश सिंह, मन्टु लाला,  सुहैल खान, सलमान अली खान, इमरान अंसारी,  रेहान अन्सारी, प्रदीप उराँव,  शंकर उरांव, बंधु उरांव, खुर्शीद आलम, सुहैल खान, शमीम,  अशोक महली, साहिल यादव,  समीम बड़ेहार, नेजाम भाय, राकेश चौवे,  रमेश साहु, माईकल रूण्डा , अनील ठाकुर, सीमा लकडा,  सुजीत कुजुर, सुनीता लिण्डा, राधा बाउरी, सुसाना केरकेट्टा, अखतर मंसुरी, शौकत अली,  सिकंदर,  ज्योति लकडा, हीरामनी बारला, ईंदु देवी,  नीतु लिण्डा,  गुलाम रब्बानी, अदिव,  रिशु रितेश,  दीपक सिंह,  कृष्णा ठाकुर,  रवि साहु,  दीपक साहु, पवन कुमार, कमरूल हक, जाबीर, सचिन उरांव,  फैयाज आलम,  तसलीम खान, सेफ रहमान, साहिल मलिक, जावेद अख्तर, ललित मुण्डा, अमण ठाकुर, सुकवा महतो, राखी देवी, सुकरमनी देवी,  सोमारी देवी,  नीलम देवी, दयामनी तिर्की, धुचु तिर्की, बान्दे उराँव,  छोटु राम, अखतर  अन्सारी, प्रभा कच्छप गुलाम रब्बानी अन्सारी, रोहित चौधरी, बादल महतो, अशोक महतो,  अमीरा महतो,  हरि महतो, अनुज साहु,  चंडी कोईरी, वरूण महतो, राजु मुण्डा,  घनश्याम मुण्डा, लालु पुराण,  सुभाष महतो, राहुल सिंह,  अनु नायक, राजकुमार,  विजय लोहरा, भुनेश्वर महतो,  श्रीनाथ एक्का,  बंधना उरांव,  पीटर तिर्की,  गोपाल भगत,  अशोक गोप,  लालमोहन महली, दिलीप महली,  लीना देवी, रीता देवी, साहिल के अलावा हजारों कार्यकर्ता  शामिल थे.

Read Also  रांची में लाइटहाउस परियोजना का निर्माणकार्य विरोध प्रदर्शन कर रोका, लोगों ने कहा- पहले मालिकाना हक दे सरकार

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.