कोरोना वायरस: पुरी में बाहर से आने वाले यात्रियों पर रोक

by

Puri: कोरोना वायरस की वजह से पुरे भारत में भय का माहौल है. वहीं इसका असर ओडिसा टूरिज्‍म पर भी पड़ा है. कोरोना वायरस के फैलने की वजह से पुरी में बाहर से आने वाले हर यात्रियों पर रोक लगा दी गई है.

RTO पुरी संबित कुमार रॉय ने कहा है कि जितने भी बाहर से लोग आ रहे हैं हम उन्हें समझा रहे हैं कि वो यहां से वापिस चले जाएं. यहां पुलिस बल और ITBP मौजूद है. हेल्थ चेक अप के लिए डॉक्टर भी हैं.

यहां ओडिसा की सरकार ने कोरेाना वायरस को लेकर हाई अलर्ट घोषित कर दिया है. ऐतिहात के तौर पर सभी तरह के सार्वजनिक स्‍थानों को बंद करा दिया गया है. ओडिसा के स्‍कूल-कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी गई है.

Read Also  कोरोना टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार ने जारी किया गाइडलाइन, कहा- ये लोग टीका लगवाने से बचें

ओडिशा में कोरोना वायरस संक्रमित मरीज

ओडिशा में भी एक मरीज की जांच में कोराना वायरस पॉजिटिव पाया गया है. मरीज का ट्रैवल हिस्‍ट्री इटली है. जिसके बाद उसे भुवनेश्वर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. ओडिशा में कोरोना वायरस से आया ये पहला मामला है.

Read Also  कोरोना टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार ने जारी किया गाइडलाइन, कहा- ये लोग टीका लगवाने से बचें

सोमवार को इस केस के बारे में जानकारी मिली, बताया जा रहा है कि युवक इटली से वापस आया था और उसे नई दिल्ली में कुछ दिनों की निगरानी में रखा गया था. उस वक्त उसमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं मिले, इसलिए उसे भुवनेश्वनर जाने दिया गया.

युवक ने नई दिल्ली से भुवनेश्वर तक ट्रेन से यात्रा की और 12 मार्च को ओडिशा की राजधानी पहुंचा. लेकिन 13 मार्च को उसे कुछ लक्षण दिखने शुरू हुए, जिसके बाद 14 मार्च को वह चेकअप करवाने पहुंचा और उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया.

रिजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर के अनुसार, रविवार की रात को जब उसकी रिपोर्ट सामने आई तो कोरोना वायरस के पॉजिटिव लक्षण सामने आए. अब राज्य के हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम हालात पर नज़र बनाए हुए है और राज्य सरकार व्यक्ति के ट्रैवल का पूरा डाटा इकट्ठा कर रही है.

Read Also  कोरोना टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार ने जारी किया गाइडलाइन, कहा- ये लोग टीका लगवाने से बचें

देश में कोरोना के अब 115 मरीज चिन्हित किये गये हैं. इनमें से 13 मरीजों को ठीक किया गया है. मराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा 33 मरीज चिन्हित किए गए हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.