Take a fresh look at your lifestyle.

कोरोना वायरस: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने स्‍कूलों के लिए जारी की एडवाइजरी

0 37

New Delhi: भारत के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने स्कूलों को एडवाइजरी जारी की है. इसमें कोरोनावायरस से जुड़े लक्षणों के प्रति अलर्ट रहने बच्चों की साफ-सफाई को लेकर खासतौर पर सजग रहने को कहा गया है.

स्‍कूलों के लिए स्‍वास्‍थ्‍य एंव परिवार कल्‍याण मंत्रालय की एडवाइजरी

  • स्कूलों से कहा गया है कि वो बड़े समूहों में बच्चों को परिसर में न घूमने दें. कोई भी छात्र या स्टॉफ जो हाल ही में कोविड 19 प्रभावित किसी बाहरी मुल्क में गया हो उसे 14 दिनों तक अलग रखा जाए.
  • क्लास टीचर ऐसे बच्चों पर खास निगाह रखें जिन्हें बुखार, कफ या सांस लेने में दिक्कत हो रही हो.
  • इसके साथ ही बच्चों के माता-पिता को जानकारी देकर टेस्ट कराने के लिए कहें.
  • टीचर्स,स्कूल स्टॉफ और बच्चे साफ सफाई का ध्यान दें.साबुन से हाथ धोएं,सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें.
  • खांसते और छीकते वक्त मुंह पर टिशू या रुमाल का इस्तेमाल करें और फिर हाथ धोएं.
  • आंख,नाक और मुह टच न करें.
  • कोरोना के लक्षण जैसे खासी,बुखार और सांस लेने में तकलीफ होने पर हेल्पलाइन नम्बर 011-23978046 पर कॉल करें.

परीक्षा केंद्रों पर छात्र ले जा सकेंगे फेस मॉस्क

सीबीएसई ने छात्रों को परीक्षा केंद्रों पर फेस मॉस्क और सैनिटाजर ले जाने की अनुमति दे दी है. अगर कोई छात्र ऐसा चाहेगा तो उसे मना नहीं किया जाएगा. अधिकारियों का कहना है कि मौजूदा हालात में स्वास्थ्य उनके लिए बड़ा मुद्दा है, छात्रों की परीक्षा और स्वास्थ्य दोनों महत्वपूर्ण है और उसके साथ किसी तरह का समझौता नहीं किया जा सकता है.

नोएडा में स्कूली बच्चे खतरे से बाहर

कोराना के खौफ से खलबली के बीच नोएडा से राहत भरी खबर है। नोएडा के 6 स्कूली बच्चों में कोरोना का टेस्ट नेगेटिव पाया गया है. लेकिन इन्हें 14 दिनों तक मेडिकल निगरानी में रखा जाएगा। साथ ही उनके परिजनों का टेस्ट भी नेगेटिव पाया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.