सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

by

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन आज सदर अस्पताल रांची में आयोजित कोरोना टीकाकरण शुभारंभ कार्यक्रम में सम्मिलित हुए. प्रथम चरण में राज्य के 48 सेंटरों में वैक्सीनेशन की तैयारी हुई है.

पहले फेज में हेल्थ वर्कर्स को दी वैक्‍सीन दी गई. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने सदर अस्पताल के वैक्सीनेशन रूम पहुंचकर वैक्सीन लेने वाले हेल्थ वर्कर्स का अनुभव जाना. मौके पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि एक लंबे वैश्विक महामारी के दौर में आज देश को कोरोना संक्रमण की वैक्सीन मिल ही गई. आज यह वैक्सीन हमारे राज्य में भी प्राप्त हुआ और इसकी शुरुआत सदर अस्पताल रांची से हुई. हमारा देश बहुत बड़ा देश है. बड़ा देश होने के साथ-साथ भारत की जनसंख्या लगभग सवा सौ करोड़ है.

Read Also  बंगाल चुनाव में भाजपा ने आजसू के लिए छोड़ी बाघमुंडी सीट, 57 उम्‍मीदवारों की सूची जारी

उन्‍होंने कहा कोरोना वैक्सीन की उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुरूप राज्य सरकार ने पूरी तैयारी की है. प्रथम चरण में राज्य के अस्पतालों में कार्यरत डॉक्टर, नर्स सहित सभी फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जा रहा है.

उम्मीद है कि कोरोना वैक्सीन देश के लिए वरदान साबित होगा

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि मैं यह उम्मीद करता हूं कि कोरोना संक्रमण जैसे वैश्विक महामारी में यह कोरोना टीका देश के लिए वरदान साबित होगा. आज से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम पूरे राज्य में प्रारंभ हो रहा है. राज्य के 24 जिलों में 2-2 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं. राज्यभर में कुल 48 वैक्सीनेशन सेंटरों पर आज टीकाकरण कार्य प्रारंभ हुआ है.

Read Also  भाजपा शाशनकाल में उद्योग लगाने के नाम पर कौड़ियों के भाव में पूँजीपति मित्रों को दी गई थी ज़मीन : अलोक दुबे

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा भारत सरकार के दिशा-निर्देश के अनुरुप टीकाकरण की कार्य योजना तैयार की गई है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से हमसभी लोग वैश्विक महामारी से जंग लड़ रहे हैं. कोरोना वैक्सीन यह एक वैक्सीन नहीं बल्कि महामारी से जंग लड़ रहे फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स के लिए एक हथियार है. आज हमारे समक्ष स्वास्थ्य कर्मियों ने वैक्सीन लगवाई है. वैक्सीनेशन के लिए सभी जरूरी एहतियात बरती गई है. वैक्सीनेशन के बाद किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट अथवा समस्या उत्पन्न न हो इसकी पूरी निगरानी रखी जा रही है.

सभी सेंटरों पर वैक्सीन उपलब्ध हो यही प्राथमिकता

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य के सभी वैक्सीनेशन सेंटरों में जरूरत के अनुरुप पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध हो यही राज्य सरकार की प्राथमिकता है. सभी सेंटर सुचारू रूप से चले इस निमित्त पूरी तैयारियां की गई हैं.

Read Also  शरद पवार ने रांची में रैली कर एनसीपी में जान फूंकने की कोशिश की, धोनी को लेकर कही बड़ी बात

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के शुरुआती दिनों से ही राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ संक्रमण से बचाव के लिए कार्य कर रही है. कोरोना टेस्टिंग व्यवस्था बनाने में झारखंड देश के टॉप तीन चार राज्यों में शामिल है.

इस अवसर पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त केके खंडेलवाल, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नितिन मदन कुलकर्णी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.