डॉक्टर ने कोरोना मरीज का किया यौन शोषण, संक्रमण के डर से पुलिस नहीं कर पा रही गिरफ्तार

by
Advertisements

Mumbai: कोरोना वायरस देश में तेजी से पैर पसार रहा है. कोरोना से चल रही इस लड़ाई में डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ फ्रंटलाइन पर खड़े होकर लड़ रहे हैं. जिसके लिए पूरा देश उनकी सराहना कर रहा है. वहीं दूसरी ओर मुंबई से एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है, जहां पर एक डॉक्टर ने कोरोना मरीज का यौन शोषण किया. डॉक्टर के भी संक्रमित होने का खतरा है, जिस वजह से पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया.

पुलिस के मुताबिक वॉकहार्ट हॉस्पिटल में 44 साल का कोरोना संक्रमित शख्स आईसीयू में भर्ती था. इस दौरान डॉक्टर ने उसके साथ गलत हरकतें शुरू कर दीं. तभी मरीज ने अलार्म बजा दिया, जिससे बाकी का मेडिकल स्टाफ वहां पहुंच गया.

घटना से एक दिन पहले ही डॉक्टर ने अस्पताल में ड्यूटी ज्वाइन की थी. जिस पर अस्पताल प्रशासन ने तुरंत उसे बर्खास्त करके पुलिस को सूचना दी.

अस्पताल प्रशासन के मुताबिक पिछले महीने यहां पर 80 कर्मचारी कोरोना से संक्रमित पाए गए थे. जिसके बाद अस्पातल बंद कर दिया गया था.

वहीं 23 अप्रैल को प्रशासन ने इसे दोबारा खोलने की अनुमति दे दी. एहतियात के तौर पर अस्पताल प्रशासन ने ज्यादा उम्र के डॉक्टर्स को ड्यूटी ज्वाइन करने से मना कर दिया.

आरोपी ने हाल ही में मुंबई के एक मेडिकल कॉलेज से MD का कोर्स पूरा किया था. जिसे 30 अप्रैल को ड्यूटी ज्वाइन करवाई गई.

होम क्वारंटाइन किया गया आरोपी

वहीं एक मई को आरोपी ने घटना को अंजाम दिया. पुलिस ने अस्पताल प्रशासन की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 377, 269 और 270 तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है.

पुलिस को शक है कि आरोपी भी कोरोना पॉजिटिव हो सकता है, जिस वजह से उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है. पुलिस ने उसे होम क्वारंटाइन कर दिया गया है. क्वारंटाइन पीरियड पूरा करने के बाद उसकी गिरफ्तार होगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.