छठ पूजा के लिए झारखंड में कोरोना गाइडलाइन जारी, सार्व‍जनिक जलाशयों में अर्ध्य देने पर रोक

Ranchi: कोरोना संकट के चलते दिल्ली के बाद झारखंड में भी सार्वजनिक तौर पर छठ पूजा मनाने की इजाजत नहीं दी गई है. कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर झारखंड में सार्वजनिक तालाब, बांध, जलाशय और नदी पर छठ पूजा और अर्घ्य की अनुमति नहीं है.

झारखंड सरकार ने छठ पूजा के दौरान क्या करना है और क्या नहीं करना है, इसे लेकर गाइडलाइन जारी की है. कोरोना के असर को देखते हुए झारखंड सरकार ने सार्वजनिक रूप से छठ मनाने की अनुमति नहीं दी है. लोगों से अपने घरों में ही छठ पूजा मनाने की अपील की गई है.

झारखंड में कोरोना के मामले

झारखंड में रविवार को कोरोना के 129 नए मामले सामने आए जबकि दो मरीजों की मौत हो गई. झारखंड में अब तक 1,06,064 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. राहत की बात ये है कि इनमें से 1,02,188 मरीज ठीक हो चुके हैं. झारखंड में अभी 2952 एक्टिव मरीज हैं.

बता दें कि दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक जगह पर छठ पूजा का आयोजन न करने का निर्देश दिया गया है. लोगों से अपील की गई है कि सभी अपने घरों में ही छठ पूजा करें. हालांकि छठ पूजा का आयोजन करवाने वाली समितियों ने दिल्ली सरकार के इस कदम का विरोध किया है.

छठ पूजा समितियों ने जताया विरोध

छठ पूजा समितियों की दलील है कि सोशल डिस्टेंसिंग समेत कई नियमों का पालन करते हुए पूजा की जा सकती है तो फिर मनाही क्यों की जा रही है. उनका कहना है कि बड़ी-बड़ी रैलियों के आयोजन, साप्ताहिक बाजार तक लग रहे हैं जिनमें काफी भीड़ होती है लेकिन पूजा से मनाही क्यों की जा रही है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.