कोरोना महामारी अंडर कंट्रोल, 7 दिनों में देश के 146 जिलों में संक्रमण के नए मामले नहीं

by

New Delhi: कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान के बीच देश में यह महामारी काबू में आती जा रही है. एक तरफ जहां भारत के 18 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों ने पिछले 1 सप्ताह में कोरोना से एक दिन में औसतन एक मौतों की सूचना मिली है. वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि बीते 7 दिन में देश के 146 जिलों में कोरोना संक्रमण का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है.

कोरोना से हो रहे मौत के आंकड़ों के अनुसार अकेले महाराष्ट्र राज्य में पिछले सात दिनों में देशभर की लगभग एक तिहाई यानी 32 प्रतिशत मौतें हुईं हैं. इस वायरस के चपेट में आने वाले 70 प्रतिशत मौते केवल छह राज्यों – महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, पंजाब, पश्चिम बंगाल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में हुई है. वहीं देश में रिकवरी रेट भी 97% के पास पहुंच गया है. यानी हर 100 में से 97 लोग कोरोना को मात दे रहे हैं.

Read Also  रांची में 18 प्लस वैक्सीनेशन के लिए नहीं करना होगा इंतजार, जिला प्रशासन कर रही है खास तैयारी

भारत में पिछले 7 दिनों में हुई मौत के आंकड़ों की बात करें तो गुरूवार को आई रिपोर्ट के अनुसार इस वायरस से होने वाले मौत का आंकड़ा 140 को छू गया .यह संख्या 250 दिनों में सबसे कम रही है.

कोरोना के प्रसार की रफ्तार हुई धीमी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोविड-19 पर मंत्रियों के समूह (जीओएम) की 23वीं बैठक की वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अध्यक्षता करते हुए स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने गुरुवार को कहा कि भारत ने कोविड-19 महामारी के प्रसार को बहुत हद तक रोक दिया है और देश के 146 जिलों में पिछले सात दिनों में इसका एक भी नया मामला सामने नहीं आया है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इसके अलावा, 18 जिलों में 14 दिनों से, छह जिलों में 21 दिनों से और 21 जिलों में पिछले 28 दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है.

Read Also  रांची में 18 प्लस वैक्सीनेशन के लिए नहीं करना होगा इंतजार, जिला प्रशासन कर रही है खास तैयारी

24 घंटों में कोरोना के 12,000 से कम मामले दर्ज

उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों में कोरोना के 12,000 से कम मामले दर्ज किए गए और सक्रिय मामले घटकर सिर्फ 173,000 रह गए हैं. वहीं कुल सक्रिय मामलों में से, केवल 0.46 प्रतिशत पॉजिटिव मामले वेंटिलेटर पर हैं, 2.2 प्रतिशत लोग ICU में हैं और सिर्फ 3 प्रतिशत ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं. वहीं हर्षवर्धन ने कहा कि विशेषज्ञों का कहना है कि आने वाले समय में कोरोना से मरने वालो की संख्या में कमी आने की उम्मीद है.

वहीं भारत में दुनियाभर का सबसे बड़े वैक्सीनेशन अभियान भी जारी है. इसके तहत अब तक देश में 28 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार गुरुवार 28 जनवरी के शाम 7 बजे तक 28,47,608 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है.

Read Also  रांची में 18 प्लस वैक्सीनेशन के लिए नहीं करना होगा इंतजार, जिला प्रशासन कर रही है खास तैयारी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.