देश में 1 करोड़ के पार हुए कोरोना के मामले, अब सबको वैक्सीन का इंतजार

by

New Delhi: भारत समेत दुनियाभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का खौफ देखने को मिल रहा है. अभी तक 7.49 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. ये वायरस 16.61 लाख से ज्यादा संक्रमितों की जिंदगी छीन चुका है. भारत (India) में कोरोना मामलों की संख्या 1 करोड़ के पार पहुंच गई है. दुनिया भर में कोरोना के सबसे ज्यादा मामलों में 220 देशों और आइलैंड की लिस्ट में भारत दूसरे नंबर पर हैं.

अमेरिका कोरोना मामलों में भारत से आगे हैं. यहां सबसे तेज 290 दिनों में ये आंकड़ा 1 करोड़ पहुंच गया था. गनीमत है कि हमारे यहां भारत में इतने मरीज मिलने में 324 दिन लगे हैं. भले ही कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से अमेरिका के बाद भारत दुनिया में सबसे प्रभावित देश है, लेकिन कोरोना से ठीक होने के मामले में भारत की स्थिति दूसरे देशों के मुकाबले बेहतर है.

कई देशों में कोरोना की दूसरी लहर

दुनियाभर में कोरोना मरीजों की संख्या 7.41 करोड़ से अधिक हो चुकी है. मरने वालों का आंकड़ा भी 16 लाख है. कोरोना ग्राफ का एनालिसिस करें तो सितंबर तक दुनियाभर में रोजाना औसतन 3 लाख मरीज बढ़ रहे थे. अब रोज 6 लाख से ज्यादा मरीज आ रहे हैं.

अमेरिका, ब्राजील, फ्रांस, रूस समेत 57 देशों में कोरोना की दूसरी लहर शुरू हो चुकी है. सबसे ज्यादा असर नॉर्थ अमेरिका, यूरोप के देशों में दिख रहा है. यूरोप के 30 देश ऐसे हैं, जहां दूसरी लहर शुरू हो चुकी है. नॉर्थ अमेरिका के 11, अफ्रीका के 7, एशिया के 5 और साउथ अफ्रीका के 4 देश दूसरी लहर की चपेट में हैं. भारत में इसके उलट कोरोना केस में कमी आ रही है. मतलब हमारे यहां हर दिन मिलने वाले नए केस से ज्यादा ठीक होने वालों की संख्या बढ़ रही है.

भारत में बेहतर रिकवरी रेट

पूरी दुनिया में एक्टिव मरीजों की संख्या 2 करोड़ है. सबसे ज्यादा 60 लाख अमेरिका, 21 लाख फ्रांस, 7 लाख ब्राजील, 6.67 लाख इटली, 5.51 लाख बेल्जियम, 5.09 लाख रूस, 3.68 लाख यूक्रेन, 3.35 लाख जर्मनी और 3.05 लाख एक्टिव मरीज भारत में हैं.

भारत में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या अब महज लगभग 3.05 लाख रह गई है. ये वो एक्टिव मरीज हैं, जिनका अस्पताल में या फिर होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है. बाकी 95.41% संक्रमित अब ठीक हो चुके हैं, जबकि 1.45% मरीजों की संक्रमण के चलते जान जा चुकी है.

सक्रिय मामलों में भारत का स्थान

रिकवरी के मामले में भारत दुनिया के टॉप-5 संक्रमित देशों में पहले नंबर पर है. यहां अब तक 95.41% लोग ठीक हो चुके हैं. ब्राजील में 87%, रूस में 79.6%, अमेरिका में 58.4% लोग बीमारी से रिकवर हो चुके हैं. सबसे खराब स्थिति फ्रांस की है. यहां अब तक केवल 7.5% मरीज ही ठीक हो पाए हैं.

महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और केरल में सबसे ज्यादा रिकवरी हुई है. कुल रिकवरी के 52 फीसदी मामले इन्हीं पांच राज्यों में है. राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है.

सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का नौवां स्थान है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है.

भारत में डेथ रेट 1.45 फीसदी

कोरोना से होने वाली मौत के मामले में भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश है. यहां अब तक 1.45 लाख लोग जान गंवा चुके हैं. भारत में डेथ रेट 1.45% है. अमेरिका में 3.19 लाख यानी 1.81% मरीजों की मौत हुई है. ब्राजील में अब तक 2.62%, मैक्सिको में 9.08% और इटली में 3.52% मरीज जान गंवा चुके हैं.

आबादी के लिहाज से भारत में मौतों की ये संख्या अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है. यहां हर 10 लाख की आबादी में 104 लोग जान गंवा रहे हैं, जबकि अमेरिका में 937, ब्राजील में 857 और मैक्सिको में 888 मौतें हो रही हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.