रांची में लाइटहाउस परियोजना का निर्माणकार्य विरोध प्रदर्शन कर रोका, लोगों ने कहा- पहले मालिकाना हक दे सरकार

by

Ranchi: झारखंड की राजधानी रांची में केंद्र सरकार की महत्‍वांकाक्षी योजना लाइट हाउस परियोजना को स्‍थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन कर रोक दिया है. रांची में जगरनाथपुर थाना क्षेत्र के बरकोचा मित्रमंडल मैदान लाइटहाउस परियोजना का निर्माण हो रहा है. यहां के स्‍थानीय लोगों ने निर्माण स्थल बदलने की मांग को लेकर मंगलवार को ग्रामीणों ने विरोध-प्रदर्शन किया और निर्माणकार्य रोक दिया.मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस बल मौजूद थी. इस विरोध प्रदर्शन के दौरान वहां मौजूद राजद के खटाल प्रकोष्‍ठ के अध्‍यक्ष गौरीशंकर यादव को गिरफ्तार कर लिया गया.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हाल ही में रांची के लाइट हाउस परियोजना का ऑनलाइन शिलान्यास किया गया था.इसमें झारखण्ड में जगरनाथपुर थाना क्षेत्र के पंचमुखी मन्दिर के पीछे मैदान में गरीबों के लिए लाईटहाउस का निर्माण होना है.

Read Also  रूपा तिर्की की मां ने न्‍याय के लिए राज्यपाल से लगाई गुहार, पत्र में कहा- बेटी की मौत की सीबीआई जांच हो

ग्रामीणों को जब यह जानकारी हुई तो मंगलवार को बड़ी संख्या में आसपास के बस्ती के ग्रामीणों ने इसका विरोध किया.ग्रामीणों ने कहा कि इस बस्ती में एक ही खेल मैदान है,सरकार उसे भी कंक्रीट में तब्दील कर देगी.और यहां पर जब भवन निर्माण होगा तो हमलोगों की बस्ती को भी आगे उजड़ने का खतरा बन जाएगा.इसलिए हमलोग यहां पर लाईटहाउस का निर्माण नहीं होने देंगे. विरोध-प्रदर्शन होता देख स्थानीय थाना पुलिस पहुंच गई.ग्रामीणों को बहुत समझाने के प्रयास किया.लेकिन ग्रेन अपनी जिद पर अड़े रहे.

मौके पर राष्ट्रीय जनता दल खटाल प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष गौरीशंकर यादव ने कहा कि यहां पर लाईटहाउस का निर्माण होने से आसपास के गरीबों की झोपड़ी उजड़ने खतरा बन सकता है. हमलोग यहां पर बीते कई सालों से रह रहे हैं.बस्ती उजाड़ने के लिए केंद्र सरकार यह साजिश कर रही है.गरीब परिवार सात लाख नहीं दे पाएंगे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इस जगह पर आवास निर्माण होना चाहिए. साथ ही इस खेल मैदान में हमलोग लाईटहाउस का निर्माण होने नहीं देंगे.इस मैदान में बच्चे खेलते हैं.उन्होंने कहा कि कोरोनाकल में कोई भी गरीब 7 लाख कहां से देगा. 22 गांव एचइसी में बसे हुए लोगों व मालिकाना हक दे. इसपर सहमति नहीं बन रही है.

Read Also  Father's Day 2021: एक पिता का संघर्ष जिन्होंने दिव्यांग बेटे के लिए आविष्कार तक कर दिया

यहां पर फ़ुटबाल मैच का आयोजन होता रहता है. श्री यादव ने कहा कि कूटे बस्ती को धीरे-धीरे कर उजाड़ने का यह सरकार प्रयास कर रही है.बस्ती बचाओं संघर्ष समिति और राष्ट्रीय जनता दल खटाल प्रकोष्ठ इसका विरोध करता है. विरोध प्रदर्शन कर रहे राजद नेता को जगरनाथपुर पुलिस कई घंटों तक थाना परिसर में रखा.बाद में उन्हें छोड़ दिया गया.

निर्माण स्‍थल पर करीब 250 पुलिसकर्मी थे. 500 से 600 की भीड़ जुटी थी. प्रशासन भी पहले से मुस्तैद थी. सभी बड़े पदाधिकारी  मौजूद थे. ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए फ़िलहाल  लाइट हाउस का निर्माण कार्य रोक दिया गया. इसमें एक हजार घर बनना है. पीएम हाउस योजना के तहत गरीबों को आवास दिया जाएगा.

Read Also  आदिवासियों में होने वाले सिकल सेल आनुवांशिक बीमारी के उन्‍मूलन के लिए मुहिम शुरू

वहां पर विद्याभूषण यादव, कृष्ण विकास परिषद के सुरेश राय, पप्पू यादव, राजा यादव, मिंटू पासवान, संजय नायक,मिट्ठू नायक,दुर्गा नायक,रविंद्र यादव,सोमनाथ नायक, बुल्लू नायक, हवलदार सिंह, दिनेश सोनी, विक्की गोप सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे. 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.