कोयला कारोबारी की 6 अपराधियों ने घेरकर सरेआम कर दी हत्‍या

by

Ranchi: कोयला कारोबारी प्रेम सागर मुंडा की रांची के सबसे भीड़ वाले इलाके में सोमवार शाम लगभग सात बजे अपराधियों ने हत्या कर दी. कोयला कारोबारी की हत्‍या मोरहाबादी स्थित होटल पार्क प्राइम के पास गोली मार कर की गई है. जानकरी के अनुसार पांच से छह अपराधियों ने घेरकर गोली मारी है.

वारदात के बाद स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में प्रेम सागर मुंडा को गंभीर स्थिति में रिम्स पहुंचाया. वहां डॉक्टरों ने प्रेम सागर मुंडा को मृत घोषित कर दिया. पुलिस मौके पर पहुंच गई है और मामले की जांच कर रही है.

Read Also  झारखंड की 23 लाख महिलाएं कोरोना वारियर्स बन ग्रामीणों को कर रहीं हैं जागरूक

फायरिंग करके स्‍कूटर और बाइक से भागे अपराधी

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक सोमवार की शाम के करीब 7:00 बजे के आसपास प्रेम सागर मुंडा अपने फॉर्च्यूनर कार से मोराबादी स्थित पार्क प्राइम होटल के पास रुके हुए थे. इसी दौरान दो बाइक और स्कूटी पर सवार होकर आए पांच से छह अपराधियों ने प्रेम सागर मुंडा को गोली मार दी. इसके बाद सभी भाग निकले.

प्रेम सागर मुंडा की हत्या की वजह अब तक स्पष्ट नहीं हो पाई है. बताया जा रहा है कि मोरहाबादी स्थित पार्क प्राइम होटल के पास लगे चाय दुकान के सामने पहले से अपराधी मौजूद थे. प्रेम सागर मुंडा से अपराधियों ने बातचीत भी की. इसके बाद अचानक गोली चलने की आवाज सुनाई दी.

Read Also  रांची का टाना भगत स्‍टेडियम बना प्रवासी मजदूरों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर

कोयला कारोबार के विवाद में हत्या की आशंका

बताया जा रहा है कि प्रेम सागर मुंडा की हत्या कोयला कारोबार के विवाद में हुई है. बताया जाता है कि उग्रवादी संगठन प्रेम सागर मुंडा के पीछे पड़ा था. पुलिस इस बिंदु पर भी छानबीन कर रही है. घटना की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर कोतवाली डीएसपी, सिटी डीएसपी, सदर डीएसपी, बरियातू, गोंदा थाना सहित कई थानों के थानेदार मौके पर पहुंचे. मौके पर ट्रैफिक एसपी अजित पीटर डुंगडुंग पहुंचे और घटना की छानबीन की. हत्यारों की तलाश में अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की जा रही है.

प्रेम सागर मुंडा कोयला के बड़े कारोबारी थे. वे चतरा जिला के टंडवा के रहने वाले थे. बताया जाता है कि प्रेम सागर मुंडा कोयला कारोबार और उग्रवादी संगठन के बीच लेवी के पैसे के लाइजनिंग का काम भी करते थे. पुलिस अलग-अलग बिंदुओं पर छानबीन में जुट गई है.

Read Also  झारखंड की 23 लाख महिलाएं कोरोना वारियर्स बन ग्रामीणों को कर रहीं हैं जागरूक

बता दें कि रांची में क्राइम का ग्राफ दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है. आए दिन किसी न किसी की गोली मार कर हत्या कर दी जाती है. बीते दिनों ही एक अधिवक्ता की जमीन कारोबारी से विवाद में हत्या कर दी गई थी. राजधानी होने के बावजूद अपराधियों में पुलिस-प्रशासन का खौफ नजर नहीं आता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.