West Bengal Elections 2021: चुनाव की तारीखों पर भड़की सीएम ममता बनर्जी, साधा पीएम मोदी पर निशाना

by

Kolkata: चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल समेत पांचों राज्यों में चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. चुनाव आयोग की घोषणा के मुताबिक पश्चिम बंगाल में इस बार आठ चरणों में वोट डाले जाएंगे, जिसे लेकर राजनीतिक दलों ने सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में आठ चरण में चुनाव कराए जाने को लेकर निर्वाचन आयोग पर सवाल उठाया है. ममता बनर्जी ने कहा कि चुनाव आयोग बीजेपी के दवाब में काम कर रहा है. इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा है.

Read Also  आर्यन खान कब जेल से बाहर आएंगे, आज बॉम्‍बे हाईकोर्ट करेगा फैसला

मोदी सत्ता का दुरुपयोग कर रहे हैं

उन्होंने कहा कि मोदी सत्ता का दुरुपयोग कर रहे हैं. बीजेपी अपने पैसों की ताकत का इस्तेमाल ना करें. इस दौरान उन्होंने 23 दिनों के चुनावी कार्यक्रम पर सवाल उठाते हुए कहा की राज्य में एक ही चरण में मतदान कराना चाहिए था. विवेक दुबे को चुनाव पर्यवेक्षक बनाए जाने पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि बीजेपी हिंदू-मुस्लिम कार्ड खेल रही है.

वहीं, कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसन ने कहा कि इस चुनाव के लिए हम तैयार हैं और बीजेपी कहीं नहीं आएगी. गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कांग्रेस पश्चिम बंगाल चुनाव में डट कर मुकाबला करेगी. हम चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

Read Also  आर्यन खान कब जेल से बाहर आएंगे, आज बॉम्‍बे हाईकोर्ट करेगा फैसला

चुनाव आयोग शांति के साथ मतदान प्रक्रिया को पूरा कराए

वहीं, बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि चुनाव आयोग शांति के साथ मतदान प्रक्रिया को पूरा कराए ताकि लोग निर्भीक होकर अपने मत का इस्तेमाल कर सकें.

बता दें कि चुनाव आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को पांचों राज्यों के विधानसभा चुनाव का कार्यक्रम जारी कर दिया. पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल की सभी 824 सीटों पर 8 चरणों में मतदान होना है.

पांचों राज्यों में 18.68 करोड़ मतदाता तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, असम और पुडुचेरी में 2.7 लाख मतदान केंद्रों पर वोट डालेंगे. कोरोना के कारण मतदान का समय एक घंटा बढ़ाया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.