कोरोना संकट के बीच चीन पहुंचा चांद पर, मून मिशन का टेस्ट हुआ सफल

by

New Delhi: पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस से जूझ रही है. दुनिया के सभी देशों में फिलहाल सभी तरह का कामकाज बंद है लेकिन ऐसे में चीन दूसरी राह पर चलते हुए अपने सभी कामकाजों को कर रहा है. इसी क्रम में चीन की सरकार ने जानकारी दी है कि उन्होंने स्पेस मिशन के लिए स्पेसक्राफ्ट का एक सफल परीक्षण किया है.

5 मई को किया था परीक्षण

बता दें चीन सरकार ने 5 मई को एक अंतरिक्षयान को को अंतरिक्ष में भेजा है. बता दें इस यान को चीन के वेनचांग लॉन्च पैड से किया गया है.

यह लॉन्च पैड चीन के हैनान प्रांत में स्थित है. चीन का कहना है कि वह अपनी इस सफलता से खुश है क्योंकि इससे पहले उसे लगातार दो असफलताएं मिली है. उनके अनुसार यह सफलता मानव रहित मिशन को सफल बनाने की कड़ी में एक बड़ी सफलता है. चीन ने बताया कि इस लॉन्च पैड से लॉन्ग मार्च 5B रॉकेट ने उड़ान भरी है.

8 मई को होगी वापसी

बता दें यह स्पेशशिप 8 मई को घरती पर वापस लौटेगा. चीन का प्लान है कि वह 2022 तक अपने अपने अंतरिक्ष यात्रियों को चांद पर ले जाए. जिसके लिए वह बहुत तेजी से काम कर रहा है. चीन ने इस मिशन के लिए जो कैप्सूल तैयार किया है. उसमें 6 लोगों के बैठने की क्षमता है. इस कैप्सूल को शुक्रवार को घरती पर वापस आना है.

अभी तक अमेरिका ने ही किया है यह कारनामा

बता दें चांद पर मानव अतंरिक्ष यात्रियों को भेजने वाला फिलहाल अमेरिका ही ऐसा देश है. जिसको अभी यह सफलता हांसिल की है. मगर चीन भी फिलहाल काफी मेहनत कर रहा है ताकि वह भी इस दौड़ में शामिल हो जाए. चीन ऐसी सफलताओं से दुनिया को भरोसा दिलाना चाहता है कि वह ऐसे परीक्षण कर सकता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.