नए साल 2021 की पहली तारीख को दुनिया भर में जन्मे 3 लाख से ज्यादा बच्चे

by

New Delhi: नई उम्मीदों के साथ नए साल का आगाज हो चुका है. इस बीच, यह जानकारी भी कम रोचक नहीं है कि दुनियाभर में साल के पहले दिन कितने बच्चे पैदा हुए. अब न्यूयॉर्क से संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने इसका आंकड़ा जारी कर दिया है. यूनिसेफ के मुताबिक, दुनिया भर में नव वर्ष के पहले दिन करीब 3,71,504 बच्चों ने जन्म लिया. अकेले भारत में करीब 60 हजार बच्चों का जन्म हुआ.

यूनिसेफ के अनुमान के मुताबिक, 2021 में कुल 14 करोड़ बच्चों का जन्म होगा. उनकी औसत उम्र 84 वर्ष रहने का अनुमान है. भारत में जन्म लेने वाले बच्चों की औसत उम्र 80.9 वर्ष होगी. प्रशांत महासागर में फिजी ने 2021 के पहले बच्चे का स्वागत किया और अमेरिका ने सबसे अंतिम बच्चे का स्वागत किया. दुनिया भर में नए साल के पहले दिन 10 देशों में आधे बच्चों का जन्म लेने का अनुमान है.

साल के पहले दिन कहां कितने बच्चे जन्मे

  1. भारत: 59,995 बच्चे
  2. चीन: 35,615 बच्चे
  3. नाइजीरिया: 21,006 बच्चे
  4. पाकिस्तान: 14,161 बच्चे
  5. इंडोनेशिया: 12,336 बच्चे
  6. इथोपिया: 12,006 बच्चे
  7. अमेरिका: 10,312 बच्चे
  8. मिस्र 9,455 बच्चे
  9. बांग्लादेश: 9,236 बच्चे
  10. कांगो: 8,640 बच्चे

यूनिसेफ के कार्यकारी निदेशक हेनरिएट्टा फोर ने कहा है, शुक्रवार को जन्म लेने वाले बच्चों को वह दुनिया विरासत में मिलेगी जो हम उनके लिए बनाने जा रहे हैं. हम 2021 को बच्चों के लिए एक स्वच्छ, सुरक्षित, स्वस्थ बनाने में जुट जाएं.

इस बीच, स्वास्थ्य सेवाओं के लिहाज से नया साल चुनौतीपूर्ण रहने वाला है. सबसे बड़ी चुनौती कोरोना महामारी और इस जैसे बीमारियों से निपटने की होगी. उम्मीद की जा रही है कि साल के शुरू में ही कोरोना वैक्सीन का सफल परीक्षण हो जाएगा और इसके साथ ही दुनिया की एक बड़ी आबादी को टीके लगाने का काम शुरू कर दिया जाएगा. भारत में भी इसकी तैयारियां चल रही हैं. ड्राय रन के जरिए राज्यों में टीकाकरण की व्यवस्था को जांचपरखा जा रहा है. केंद्र के साथ ही राज्य सरकारें भी मिलकर काम कर रही हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.