Extra Income: Ideas and Tips for Increasing Your Earnings

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने 2550 युवाओं को सौंपा नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने 2550 युवाओं को सौंपा नियुक्ति पत्र

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के हाथों आज 2550 युवाओं को जब नियुक्ति पत्र मिला तो उनकी खुशियां देखते ही बन रही थी. अवसर था मोरहाबादी मैदान, रांची में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह का. मुख्यमंत्री ने इस मौके पर 1633 सचिव एवं राजस्व निबंधन एवं भूमि सुधार विभाग में 707, वित्त विभाग में 166 और खाद्य आपूर्ति विभाग में 44 निम्न वर्गीय लिपिकों को नियुक्ति पत्र सौंपा.

मुख्यमंत्री ने नवनियुक्तों से कहा- सरकार के अंग के रूप में आपके जुड़ने से व्यवस्था को मजबूती मिलेगी. विकास योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने और सरकारी कार्यों में तेजी के साथ गुणवत्ता तथा प्रभावशीलता बढ़ेगी.

हर वर्ष चयनित होने वाले पांच आदर्श पंचायत के पंचायत सचिवों को पूरे परिवार के साथ विदेश दौरा कराएगी सरकार

मुख्यमंत्री ने समारोह के मंच से ऐलान किया कि सरकार हर वर्ष चयनित होने वाले पांच आदर्श पंचायतों के पंचायत सचिवों को पूरे परिवार के साथ विदेश दौरा कराएगी. उन्होंने पंचायत सचिवों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि आप अपने पंचायत के सिर्फ पंचायत सचिव ही नहीं बल्कि उसके बीडीओ- सीओ डीसी -एसपी सब कुछ है. आप ऐसा कार्य करें कि आपकी पंचायत पूरे राज्य और देश के लिए मिसाल बन सके.

सरकार के मकसद को पूरा करने में आपका सहयोग बेहद अहम

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपकी नियुक्ति सरकार को ऊर्जा देती है. ऐसे में सरकार जिस मकसद के साथ कार्य करना चाहती है उसमें आपका सहयोग बेहद जरूरी है. आपको जो जिम्मेदारी दी जा रही है उसे पूरी ईमानदारी के साथ निभाएं और राज्य को गरीबी, अशिक्षा और पिछड़ेपन के कुचक्र से बाहर निकालने का काम करें. आप एक कदम चलेंगे तो सरकार सौ कदम चलने को हमेशा तैयार रहेगी.

तमाम चुनौतियों के बाद भी रोजगार देने का हो रहा प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान हालात और अनेकों चुनौतियों के बाद भी नई पीढ़ी को रोजगार देना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है, चाहे वह शिक्षित हो या अशिक्षित. इसी कड़ी में बड़े पैमाने पर सरकारी विभागों में नियुक्तियां हो रही हैं तो निजी क्षेत्र में भी हजारों युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है. इसके अलावा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के माध्यम से व्यवसाय करने के इच्छुक युवाओं को सरकार के द्वारा अनुदान आधारित ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है. आप सरकार की योजनाओं से जुड़े और अपने को स्वावलंबी बनाएं. हर व्यक्ति आगे बढ़े यही हमारा संकल्प है.

READ:  ईडी आंफिस नहीं पहुंचे हेमंत सोरेन, जारी समन को लेकर ईडी अधिकारीयों को दिया गया सीलबंद लिफाफा!

हज़ारों युवाओं को दे चुके हैं नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार लगातार कार्य कर रही है. अब तक हज़ारों युवाओं को नियुक्ति पत्र दिया जा चुका है. इनमें इंजीनियर, डॉक्टर, पशु चिकित्सक, आयुष चिकित्सक, कृषि पदाधिकारी, खेल पदाधिकारी, शिक्षक, फॉरेंसिक विशेषज्ञ और नर्सेज समेत कई पदों पर बड़े पैमाने पर नियुक्तियां शामिल है. युवाओं के सपने को साकार करने का हमारी सरकार ने संकल्प लिया है.

नियुक्तियों का सिलसिला जारी रहेगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि नियुक्तियों का जो सिलसिला शुरू हुआ है, वह लगातार जारी रहेगा. आने वाले दिनों में बड़े पैमाने पर शिक्षक, पुलिस और सरकारी विभागों में खाली पड़े अन्य पदों पर नियुक्तियां होंगी. इस सिलसिले में विभिन्न आयोगों के द्वारा प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि पहले जहां एक-एक नियुक्ति प्रक्रिया पूरी होने में कई वर्ष लग जाते थे. वहीं, हमारी सरकार में रिकॉर्ड समय में नियुक्तियां हो रही हैं. सबसे खास बात है कि आज किसान- मजदूर और गरीब तबके के युवाओं का अधिकारी बनने का सपना पूरा हो रहा है.

हर व्यक्ति को सामाजिक सुरक्षा देने का हो रहा प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड देश का एक ऐसा राज्य है, जो हर व्यक्ति को सामाजिक सुरक्षा देने का कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि ना सिर्फ सरकारी कर्मियों की पुरानी पेंशन योजना को लागू करने जा सरकार ने ऐतिहासिक काम किया है, वहीं सर्वजन पेंशन योजना के माध्यम से सभी बुजुर्गों, विधवाओं, परित्यक्ताओं और दिव्यांगों को पेंशन देने का काम कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि पेंशन किसी भी व्यक्ति के बुढ़ापे की लाठी होती है और सरकार उसे हर हाल में देने का काम करेगी.

READ:  कूल्हे एवं पेल्विस बोंस की दोनों हड्डियाँ टूट चुकी थी, पारस के चिकित्सकों ने सर्जरी कर ठीक किया

पंचायतों को बेहतर से बेहतर बनाने का लें संकल्प

ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा ग्रामीण विकास सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है. ऐसे में पंचायतों के सशक्तिकरण से गांव की सरकार मजबूत बनेगी. इसमे पंचायत सचिवों की अहम जिम्मेदारी होगी. पंचायत के चुने हुए प्रतिनिधियों को सहयोग करने के लिए आपको नियुक्त किया जा रहा है. ऐसे में पंचायतों को बेहतर से बेहतर बनाने का संकल्प लें. इसके अलावा पंचायतों के आधुनिकीकरण की दिशा में भी सरकार आगे बढ़ रही है.

गांव की सरकार को मजबूत बनाने पर विशेष जोर

वित्त मंत्री श्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि हमारी सरकार जनता की आकांक्षाओं और उम्मीदों को पूरा कर रही है. सरकार की योजनाएं लोगों को मिले, इसके लिए हम सभी को मिलजुल कर काम करना होगा. उन्होंने नवनियुक्त पंचायत सचिवों को कहा कि आपकी यह जिम्मेदारी सरकार और जनता के साथ परिवार के प्रति भी है. ऐसे में अपने कार्यों को बेहतर तरीके से करें ताकि गांव की सरकार को मजबूती मिले.

आपको जो जिम्मेदारी मिली है उसे निष्ठा पूर्वक निभाएं

श्रम मंत्री श्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है क्योंकि इतने बड़े पैमाने पर युवाओं को नियुक्ति पत्र दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि गांव के विकास में पंचायत सचिवों की अहम भूमिका है. आप अपने कार्यों से पंचायतों की तस्वीर बदल सकते हैं. ऐसे में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के द्वारा आपको जो जिम्मेदारी की जा रही है उसे निष्ठा पूर्वक निभाएं.

ई- पंचायत ऑफिस को फंक्शनल बनाने में पंचायत सचिवों का अहम रोल

मुख्य सचिव सुखदेव सिंह में कहा कि सरकार पंचायती राज व्यवस्था को सुदृढ़ करने की दिशा में लगातार कदम बढ़ा रही है. इस सिलसिले में सभी पंचायतों में ई- पंचायत ऑफिस खोलने की प्रक्रिया चल रही है. यहां कॉमन सर्विस सेंटर के अलावा बैंक और पोस्ट ऑफिस समेत कई और दफ्तर भी होंगे. ई -पंचायत ऑफिस को प्रभावी एवं फंक्शनल बनाने में पंचायत सचिवों को पूरी जिम्मेदारी के साथ कार्य करना होगा. ताकि, ग्रामीणों को जरूरी प्रमाण पत्र बनवाने और अन्य कार्यों में सुविधा और सहूलियत हो सके.

READ:  रांची के ओरमांझी से शुरू होगी भारत जोड़ो की बात आम जनों के साथ कार्यक्रम

इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता, राज्य सभा सांसद श्रीमती महुआ माजी, विधायक राजेश कच्छप, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्रीमती वंदना दादेल, पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, वित्त विभाग के प्रधान सचिव अजय कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे एवं खाद्य आपूर्ति विभाग के सचिव अमिताभ कौशल समेत कई पदाधिकारी मौजूद थे.

पिछले 10 सालों से रांची में डिजिटल मीडिया से जुड़ाव रहा है. Website Designing, Content Writing, SEO और Social Media Marketing के बदलते नए तकनीकों में दिलचस्‍पी है.

Sharing Is Caring:

Leave a Reply

%d bloggers like this: