कोरोनाकाल में ट्रांसफर-पोस्टिंग CCL को पड़ा भारी, दो अफसर संक्रमित पाये जाने के बाद दरभंगा हाउस सील

Ranchi: सीसीएल के रांची स्थिति दरभंगा हाउस को तीन दिनों के लिए सील कर दिया गया है. यहां दो अधिकारियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अधिकारियों और कर्मचारियों के बीच हड़कंप मच गया. उन्‍होंने सीसीएल दफ्तर के बाहर प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की. इसके बाद सीसीएल प्रबंधन ने तीन दिनों के लिए दरभंगा हाउस को सील करने का फैसला किया.

सीसीएल के एक यूनियन के लीडर राजीव रंजन सिंह ने बताया कि कोरोना की वजह से सीसीएल को कोलकाता सेल्‍स ऑफिस को पिछले दिनों बंद कर दिया गया था. वहां से कई अफिसर को ट्रांसफर करके रांची ज्‍वाइन कराया गया. कोरोनाकाल में इन अफसरों के ज्‍वाइन के साथ इन्‍हें क्‍वारंटिन में रखना चाहिए था. लेकिन ऐसा हुआ नहीं. इनमे से दो अफसर 1 जुलाई को ज्‍वाइनिंग करने के बाद 4 जुलाई को फिर कोलकाता गए और 10 जुलाई को वापस आ गए. 11 से 16 जुलाई तक उन्‍होंने दरभंगा हाउस में काम किया. इस दौरान जांच हुई और दोनों अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

Read Also  36th national games 2022 उद्घाटन समारोह में पीएम के सामने बिना ब्‍लेजर मार्च पास्‍ट करेगी झारखंड टीम

राजीव रंजन ने बाताया कि कोरोना संक्रमित अधिकारी अपने ड्यूटी के दौरान पूरे दरभंगा हाउस में भ्रमण किया है. ऐसे में यहां कोरोना संक्रमण फैलने की पूरी संभावना बढ़ गई है. उन्‍होंने बताया कि पूरे परिसर को संक्रमण मुक्‍त करने के लिए भी हमें आंदोलन करना पड़ा. सीसीएल प्रबंधन काम रोकना नहीं चाहती थी.

एक सीसीएलकर्मी जगरनाथ साहु ने बताया कि संक्रमित पाए गए अधिकारी दरभंगा हाउस के चारों भवनों में घूमें हैं. इसके वहज से यहां काम करने वाले सभी कर्मचारियों के बीच संक्रमण का खतरा बढ़ गया है. यह सीसीएल प्रबंधन के लापरवाही से ऐसा हुआ है. सीसीएल प्रबंधन यहां 100 कर्मचारी और अधिकारियों से काम करा रहा है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.