Take a fresh look at your lifestyle.

car insurance premium calculator in hindi,कार इंश्‍योरेंस कैसे कैलकुलेट करें

कार का insurance कैसे कैल्क्युलेट किया जाता है

0

car insurance premium calculator : क्या आपने कभी सोचा है कि आपकी कार का insurance कैसे कैल्क्युलेट किया जाता है? आपने इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू यानी IVD, नो क्लेम बोनस यानी NCB, डेप्रिसिएशन आदि टर्म कई बार सुने होंगे. लेकिन क्या आपको इनके मायने मालूम हैं? अगर नहीं मालूम तो ड्राइवस्पार्क हिंदी आज आपको insurance से जुड़ी पूरी जानकारी दे रहा है. नीचे दिए गए स्लाइडशो को देखें.

car insurance premium calculator टिप्‍स हिंदी में

ये है सिम्‍पल गाइड हम आपको ऐसा सिम्पली गाइड करेंगे ​जिससे कि आप अपने वाहन का insurance आसानी से कैल्क्युलेट कर सकेंगे.

दो तरह के होते हैं इंश्‍योरेंस insurance दो तरह के होते हैं. पहला है ओन डैमेज कॉम्प्रेहेंसिव कवर और दूसरा है थर्ड पार्टी कवर. Own Damage Comprehensive Cover जिन तीन प्रमुख फैक्टर्स पर निर्भर करता है, वे हैं लोकेशन, कार की एज और इसकी इंजन कैपेसिटी. जबकि थर्ड पार्टी कवर केवल कार की इंजन कैपेसिटी पर निर्भर करता है.

insurance को बारीकी से समझने के लिए हम एक साल पुरानी अल्टो को बतौर उदाहरण लेते हैं.

अगर आपकी अल्टो कार एक साल से ज्यादा पुरानी है और 2 साल से कम की है तो इसपर अप्लाई होने वाली इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू कार की एक्स शोरूम कीमत की 80 फीसदी होगी. अगर कार की एक्स शोरूम कीमत 4 लाख रुपये है तो इसका 80 फीसदी हुआ 3 लाख 20 हजार रुपये.

अब इसके बाद 3.127 फीसदी के हिसाब से प्रीमियम कैल्क्युलेट किया जाएगा. यह 3 लाख 20 हजार रुपये पर लगेगा. इस हिसाब से जो धनराशि बनेगी वह होगी 10 हजार रुपये.

अब, insurance प्रीमियम की बारी आती है. यह कंपनी दर कंपनी अलग होती है. कई कम्पनियां प्रीमियम अमाउंट पर कुछ फीसदी का डिस्काउंट देती हैं. आइए इसे एक उदाहरण की नजर से समझें. मान लीजिए​ कि कोई कंपनी 50 फीसदी डिस्काउंट दे रही है तो 10 हजार रुपये की 50 फीसदी धनराशि हुई 5 हजार रुपये.
अब जो अगला और महत्वपूर्ण पड़ाव होता है, वह है नो क्लेम बोनस.

इससे पता लगता है कि आपको insurance के लिए कितनी धनराशि देनी है. अगर आपने बीते साल insurance के लिए क्लेम नहीं किया होता है तो आपको प्रीमियम में तकरीबन 20 फीसदी की छूट मिल जाती है. यह छूट आगामी सालों में बढ़ती जाती है अगर आप insurance क्लेम नहीं करते हैं.

याद रहे कि हम एक साल से ज्यादा और दो साल से कम उम्र की कार के बारे में बात कर रहे हैं. इस लिहाज से देखा जाए तो 5 हजार रुपये पर 20 फीसदी नो क्लेम बोनस के हिसाब से बनते हैं एक हजार रुपये. इस लिहाज से आपको प्रीमियम धनराशि यानी 5 हजार रुपये में 1 हजार रुपये छूट मिल जाती है और आपको महज 4 हजार रुपये बतौर प्रीमियम चुकाने होते हैं.

अगल पड़ाव है थर्ड पार्टी प्रीमियम. यह आपके अलावा किसी दूसरे शख्स की चोट या नुकसान की भरपाई के लिए होता है. प्रीमियम की धनराशि कार के इंजन की क्षमता के हिसाब से तय होती है. यह साल दर साल रिवाइज होती रहती है.

उदाहरण के तौर पर अल्टो कार 1 हजार सीसी के नीचे है तो इसका प्रीमियम होगा 1,468 रुपये. 1 हजार से 1,500 सीसी क्षमता के इंजन वाली कारों के लिए 1,598 रुपये बतौर प्रीमियम शुल्क चार्ज किए जाते हैं. जबकि 1,500 सीसी से ज्यादा वाले व्हीकल्स के लिए 4,931 रुपये देने होते हैं. ऐसी स्थिति मे आपको 1,468 रुपये, जो कि 1 हजार सीसी इंजन से ज्यादा व्हीकल के लिए है, 4 हजार रुपये में जुड़ जाएगा. ऐसे में कुल धनराशि देनी होगी 5,468 रुपये.

अब बचता है आखिरी स्टेप insurance के प्रीमियम की कुल धनराशि में पर्सनल एक्सिडेंट कवर और सर्विस टैक्स भी जुड़ता है. 100 रुपये बतौर पर्सनल एक्सिडेंट कवर जुड़ते हैं. जबकि 14 फीसदी का सर्विस टैक्स लगता है. अब अगर कुल धनराशि देखी जाए तो 5,486 रुपये का 14 फीसदी और इसमें 100 रुपये एक्स्डिेंट कवर के जोड़ने होंगे. ऐसे में कुल धनराशि बनती है 6,348 रुपये.
तो ये था तरीका car insurance premium calculator का. उम्मीद है कि अब आप खुद भी आसानी से car insurance premium calculator कर सकेंगे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: