झारखंड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पलामू कार्यक्रम में काले रंग पर लगी रोक

by

Ranchi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 जनवरी को चियांकि हवाई अड्डा से उतरी कोयल परियोजना (मंडल डैम) और कोयल सोन परियोजना का शिलान्यास करेंगे. झारखंड के पलामू में आयोजित पीएम के इस कार्यक्रम में काले रंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. कहने का मतलब यह है कि इस कार्यक्रम में लोग काले रंग का कुछ भी पहन कर नहीं आ सकते हैं. लोगों को काला रंग का कपड़ा, बैग, जुता, मोजा, पर्स, टोपी आदि लाने पर भी रोक लगा दी गई है. इसके लिए पलामू के जिला प्रशासन ने आदेश भी जारी कर दिया है. यह फैसला इसलिए लेना पड़ा क्योंकि झारखंड के 67000 पारा शिक्षकों ने पीएम नरेंद्र मोदी के पलामू कार्यक्रम का विरोध करने का ऐलान किया है.
झारखंड में पारा शिक्षक अपनी सेवा के स्थायीकरण और वेतन बढ़ोतरी को लेकर आंदोलन कर रहे हैं और हड़ताल पर हैं. अपनी इन्हीं मांगों को लेकर पारा शिक्षकों ने सीएम रघुवर दास को झारखंड स्थापना दिवस के मौके पर काला झंडा दिखाया था. प्रशासन को डर है कि वैसा ही कहीं पीएम के कार्यक्रम के दौरान न हो जाय. इसी आंशका को देखते हुए पलामू के एसपी ने आदेश जारी किया गया है. इसे लेकर पड़ोसी जिलों के प्रशासन को भी पत्र लिखा गया है.
कार्यक्रम स्थल पर जहां काले रंग का सामान पूरी तरह वर्जित रहेगा, वहीं बिना आईडी कार्ड के किसी भी शख्स की इंट्री नहीं होगी. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहचान पत्र साथ में लाना होगा. सरकारी कर्मी हो या आम लोग काले रंग का मोजा पहन कर जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. पीएम के कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहचान पत्र जारी किया गया है.
27 जनवरी को पारा शिक्षकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सरकार के आमंत्रण पर शिक्षा मंत्री नीरा यादव से मुलाकात की थी. पारा शिक्षक अपनी बहाली के स्थायीकरण और वेतन बढ़ोतरी की मांग पर अड़े रहे, वहीं शिक्षा मंत्री ने इस मामले पर सीएम से मंत्रणा करने के लिए पारा शिक्षकों से वक्त मांगा. तब पारा शिक्षकों ने अपना आंदोलन जारी रखने का फैसला सुनाया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.