भाजपा को प्रायश्चित यात्रा निकाल कर लोगों से क्षमा मांगना चाहिए : Jharkhand  प्रदेश Congress कमेटी के प्रवक्ता ।

by

Ranchi : Jharkhand  प्रदेश Congress कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने देश की जो मौजूदा हालात हो गयी है, उस स्थिति को ध्यान में रखते हुए भाजपा को जन आशीर्वाद यात्रा नहीं, बल्कि केंद्र सरकार के खिलाफ आमजनों में व्याप्त आक्रोश को देखते हुए प्रायश्चित यात्रा निकाल कर लोगों से क्षमा मांगना चाहिए.


प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता Alok Kumar Dubey  ने कहा कि केंद्र में मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री का दायित्व संभालने वाली Annapurna Devi को यह बताना चाहिए कि पिछले सात सालों में देश में शिक्षा-व्यवस्था की दयनीय क्यों होती जा रही हैं। केंद्र सरकार की ओर से पिछले वर्ष जुलाई में नई शिक्षा नीति घोषित की गयी, लेकिन इससे आमजनों को कोई फायदा मिलना तो दूर आज तक नई शिक्षा नीति आम लोगों के समझ से बाहर है.

बल्कि शिक्षा का भगवाकरण करने की कोशिश की गयी, जो देश की सांस्कृतिक विविधता और सामाजिक सद्भाव के लिए अच्छी बात नहीं है. इतना ही नहीं पिछले बीस वर्षों में सबसे अधिक शासन करने वाली भाजपा आजतक ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण नहीं दे सकी जबकि डा रामेश्वर उराँव ने स्पष्ट तौर फर 27 प्रतिशत आरक्षण का वायदा किया है.


प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि केंद्रीय राज्यमंत्री अन्नपूर्णा देवी पिछड़ों को 27 प्रतिशत आरक्षण के मसले पर आज भले ही वाहवाही लूटने की कोशिश में जुटी है, लेकिन हकीकत यह है कि कांग्रेस शासनकाल में ही ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण मिला और संघ-भाजपा की लाख कोशिशों के बावजूद देश से आरक्षण व्यवस्था समाप्त करने की कोशिश नाकाम रही.


प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि भाजपा जानबूझ कर जनता की मूल समस्या महंगाई, बेरोजगारी, बिगड़ती आर्थिक स्थिति, सीमा पर उत्पन्न खतरों से ध्यान हटाने के लिए ऐसे मुद्दों में लोगों को उलझाये रखना चाहती है, जिससे आम लोगों का कोई वास्ता नहीं है. 

अब भी जब लोग बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के कारण परेशान है, तो भाजपा नेता शिक्षा का भगवाकरण में जुटे है और इसे ही अपनी जीत बता रहे है, परंतु सच्चाई यह है कि देश में हाल के दिनों में उच्च शिक्षा की नीति में निरंतर गिरावट दर्ज हो रही है और जिस ओबीसी आरक्षण को लेकर ढोल पीटा जा रहा है, वह वर्षों पहले कांग्रेस शासनकाल में मिल चुका था.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.