आप जो इतना घबरा रहे हैं,क्या-क्या गुल छिपा रहे हैं: BJP

Advertisements

#Ranchi: भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने आज प्रदेश कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आर्चबिशप फेलिक्स टोप्पो के उस बयान को निराधार बताया, जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार ईसाई मिशनरी संगठनों के खिलाफ दमनकारी रवैया अपना रही है. श्री शाहदेव ने कहा कि 88 गैर सरकारी ईसाई संस्थाओं के खिलाफ जो CID की जांच चल रही है वह केंद्रीय गृह मंत्रालय के अनुशंसा पर हो रही है. श्री शाहदेव ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय फॉरेन फंडिंग पर नजर रखने वाला नोडल एजेंसी है.

उसने राज्य सरकार को पत्र लिखकर विदेशों से पैसा प्राप्त करने वाली 88 NGO के कार्यकलापों की गहराई से जांच करने की अनुशंसा की थी. राज्य सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश के आधार पर इन संस्थाओं की सीआईडी जांच शुरू कराई. श्री शाहदेव ने कहा कि आर्चबिशप का यह बयान भी बिल्कुल निराधार है की CID ने एनजीओ को सिर्फ 24 घंटे का समय दिया. उन्होंने कहा की CID ने 15 जून के पहले ही इन संस्थाओं को पत्र लिखकर सभी दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा था. मगर 2-3 को छोड़कर किसी NGO ने भी CID के साथ जांच में सहयोग नहीं किया. अंत में मजबूरन CID को कड़ा रुख अपनाते हुए एनजीओ को 24 घंटे का नोटिस देना पड़ा. सीआईडी की जांच न्यायिक प्रक्रिया का एक हिस्सा है और इस को अवरुद्ध करने का किसी को हक नहीं है.

श्री शाहदेव ने आश्चर्य व्यक्त किया कि आखिर किस सच्चाई के सामने आने से ईसाई मिशनरी संस्थाएं इतना घबरा रही हैं. जांच में सब को सहयोग करना चाहिए. ऐसे भी सभी धर्मों का सिद्धांत है की सांच को आंच नहीं आता।फिर किन कारणों से CID की जांच में रोज नए अवरोध पैदा करने की कोशिश किए जा रही हैं. इससे ऐसा प्रतीत होता है की पूरी की पूरी दाल काली है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.