बीडीओ के खिलाफ भाजपा विधायक ने खोला मोर्चा, धरने में उमड़ा जनसैलाब

by

Ranchi: हजारीबाग सदर भाजपा पूर्वी और पश्चिमी मंडल द्वारा सदर प्रखंड कार्यालय सभागार के समक्ष शुक्रवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप सदर प्रखंड कार्यालय के से संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं में हो रहे विलंब को लेकर सदर प्रखण्ड विकास पदाधिकारी गुंजन कुमारी सिन्हा के अकर्मण्य कार्यशैली के खिलाफ एक दिवसीय धरना कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. जिसमें सदर प्रखंड क्षेत्र के सैकड़ों भुक्तभोगी भाजपा कार्यकर्ता और हजारों महिला-पुरुष आवाम के साथ विशेष रूप से उपस्थित हुए. धरना में बतौर मुख्य अतिथि हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल और विशिष्ट अतिथि हजारीबाग भाजपा जिला अध्यक्ष अशोक यादव शामिल हुए हैं. धरना में भ्रष्ट सदर बीडीओ होश में आओ, सदर बीडीओ मुर्दाबाद के नारे भी खूब लगे वहीं लोगों ने सदर विधायक मनीष जायसवाल जिंदाबाद का नारा लगाते हुए पूरे क्षेत्र को गुंजायमान कर दिया. धरने की अध्यक्षता भाजपा सदरपुर भी मंडल अध्यक्ष रामचंद्र प्रसाद कुशवाहा और सदर पश्चिमी मंडल अध्यक्ष रणधीर पांडेय ने संयुक्त रूप से की. संचालक भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के जिला अध्यक्ष महेंद्र राम बिहारी ने और धन्यवाद ज्ञापन भाजपा के जिला महामंत्री सुनील साहू ने किया. धरने के उपरांत भाजपा सदर पूर्वी मंडल अध्यक्ष रामचंद्र प्रसाद कुशवाहा, सदर पश्चिमी मंडल अध्यक्ष रणधीर पांडेय, सदर विधायक प्रतिनिधि विजय कुमार समेत अन्य लोगों के एक प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त के नाम सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी के खिलाफ एक पत्र भी सौंपा.

धरना में बड़ी संख्या में क्षेत्र के लोगों का उमड़ा जनसैलाब वर्तमान सदर बीडीओ गुंजन कुमारी सिन्हा के कार्यशैली से रूष्ट होने को बखूबी दर्शा रही थी. धरना में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए सदर विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि गलत को गलत नहीं बोलना मनुष्य का सबसे बड़ा कमजोरी होता है. पिछले 3 महीने से जब से वर्तमान सदर बीडीओ गुंजन कुमारी सिन्हा ने पदभार ग्रहण किया है, तब से सदर प्रखंड में प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा योजना, 15 वें वित्त योजना, विभिन्न प्रमाण पत्र, विभिन्न प्रकार के पेंशन योजना, विधायक-सांसद मद का क्रियान्वयन पूरी तरह ठप्प हो गई है. जनता और कार्यकर्ताओं के शिकायत पर कई बार इनसे बात कर जनहित के कार्यों में गति लाने का आग्रह भी किया लेकिन ये सीधे तौर पर कहती रही कि मैं अभी नहीं हूं चीजों को समझने में थोड़ी समय चाहिए. इनका निर्धारित समय भी पूरा हुआ लेकिन इनका आश्वासन ढाक के तीन पात साबित हुआ और जनता त्राहिमाम कर रही है. वर्तमान बीडीओ अकर्मण्य, असंवेदनशील, जनविरोधी और झूठी है. यह 2013 बैच की पदाधिकारी है और पिछले 9 वर्षों में इन्हें अपने कर्तव्य का बोध नहीं हुआ तो ऐसे पदाधिकारी को जन सरोकार से जुड़े कार्यों में लिप्त रहने और कुर्सी पर बैठने का कोई अधिकार नहीं है.

विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि नवरात्र का समय चल रहा है और ऐसे में हजारों की संख्या में इनसे प्रताड़ित लोग इनके कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे हैं और यह कुर्सी पर आराम फरमा रही हैं, अगर इनमें जरा सी भी संवेदना होती और जनहित के प्रति सचेतना होती तो इस सैलाब के बीच आकर माफी मांगती और अपने आत्मसम्मान की रक्षा करती. लेकिन इस धरने को लेकर अपनी रक्षा के लिए यह थाना- थाना मदद मांगती रही और धरने का जो सरकारी स्तर से रिकॉर्डिंग किया जा रहा है वह भी इनके कुत्सित मानसिकता के सोच को बखूबी दर्शाता है.

उन्होंने कहा कि हम किसी आतंकी संगठन के कार्यकर्ता नहीं बल्कि राष्ट्रवादी राजनीतिक दल भाजपा के सिपाही हैं. हमें जो अधिकार संविधान से प्राप्त है उसकी संवैधानिक अधिकार के तहत आज सांकेतिक आंदोलन के माध्यम से सिर्फ़ जगाने आए हैं की आप सुधरिए है और अपनी कार्यशैली सुधारते हुए जनहित में कार्य कीजिए अन्यथा आपके बेमानी, नाकामी, हिटलरशाही और लालफीताशाही को जनता बर्दाश्त नहीं करेगी.

विधायक मनीष जायसवाल ने बताया कि वर्तमान वर्ष सदर प्रखंड क्षेत्र में 750 प्रधानमंत्री आवास की स्वीकृति हुई थी लेकिन इनके कार्यकाल में महज 30 आवास का ही चयन किया गया बाकी गरीब और मजबूर चाइनीस लोगों का आवंटन रद्द कर दिया गया. मनरेगा में कोई कार्य नहीं हुआ. 300 मास्टर रॉल जिसमें 3000 मजदूरों का हस्ताक्षर और अंगूठा के निशान थे उसे सुन कर दिया गया और करीब 3000 मजदूरों कौन की मजदूरी नहीं मिल पाई. अंबेडकर आवास योजना, दीनदयाल आवास योजना, 15 वें वित्त योजना में भी कोई प्रगति नहीं हुई. विभिन्न प्रकार के पेंशन विधवा पेंशन, वृद्धा पेंशन, विकलांग पेंशन और राशन कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र मृत्यु प्रमाण पत्र में भी कोई प्रगति नहीं है. छोटे-छोटे विकास कार्य सांसद और विधायक मद से होते हैं लेकिन उसमें भी सभी योजनाओं को पूर्णत रोक दिया गया है. ऐसे में इस आक्रमण प्रखंड विकास पदाधिकारी से जहां सदर प्रखंड कार्यालय परेशान है वहीं सदर विधानसभा क्षेत्र की जनता त्राहिमाम कर रही है.

विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि आज समझाने आए हैं समझ जाइए अन्यथा लोकतंत्र में सबसे बड़ी ताकत जनता होती है और जनता के हित के लिए हम बतौर जनप्रतिनिधि यहां से लेकर रांची तक आप के खिलाफ आंदोलन करेंगे और ईंट से ईंट बजा देंगे.

विधायक मनीष जायसवाल ने यह भी कहा कि जो गरीबों का हक और अधिकार छीनते हैं, जो गरीबों को उनके अधिकार से वंचित रखते हैं वैसे लोग जीवन में कभी भी खुश नहीं रहते और उनकी बद्दुआ जरूर लगती है.

विधायक मनीष जायसवाल ने झारखंड की वर्तमान गठबंधन की सरकार की कार्यशैली पर भी सवाल उठाया और कहा कि यहां ट्रांसफर पोस्टिंग उद्योग बन चुका है. उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से जन विरोधी कार्य करने वाली आक्रमण सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी गुंजन कुमारी सिन्हा को तत्काल यहां से ट्रांसफर करते हुए ऐसे जगह पदस्थापित करने का आग्रह किया जा जनसरोकार का एक भी कार्य ना हो.

विधायक मनीष जायसवाल ने इस धरने के माध्यम से अन्य सरकारी कर्मचारियों और पदाधिकारियों से भी अपील किया कि आप अपनी कार्यशैली बदलें अन्यथा हम इसी प्रकार आंदोलनरत रहेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि हमारी किसी से कोई बैर या लड़ाई नहीं है न ही भाजपा के किसी नेता या कार्यकर्ता से आप को डरने की जरूरत है बस आप जनहित से जुड़ा हुआ कार्य ईमानदारी पूर्वक करते रहिए अन्यथा जहां जनहित के कार्य में बाधा होगी वहां हम किसी का भी विरोध मुखरता के साथ करते रहेंगे.

भाजपा जिला अध्यक्ष अशोक यादव ने कहा की जन समस्याओं का समाधान अधिकारी और कर्मचारी नहीं करेंगे तो भाजपा सड़क पर उतरकर आंदोलन करेगी. उन्होंने हेमंत सोरेन पर प्रहार करते हुए उनकी सरकार में विधि व्यवस्था से लेकर घटना, दुर्घटना, हत्या दुष्कर्म और नौकरशाह की मनमानी चरम पर होने की बात कही.

अशोक यादव ने भी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से सदर प्रखंड की वर्तमान भ्रष्ट और कर्तव्यहिन बीडीओ को तत्काल हटाते हुए जनता को राहत देने का आग्रह किया साथ ही उन्होंने कहा कि अगर इस जनविरोधी बीडीओ के खिलाफ सरकार कोई ठोस कदम नहीं उठाती है तो सदर प्रखंड में अधिकारियों का हुक्का पानी बंद करेंगे और आज विरोध का जो बिगुल यहां से फूंका गया है. उसे हजारीबाग के सभी 16 ब्लॉक और भारतीय जनता पार्टी के 26 मंडल में लेकर जाएंगे और व्यापक आंदोलन करेंगे. धरने को कई गणमान्य नेताओं ने संबोधित किया और सभी ने एक स्वर में वर्तमान सदर बीडीओ के कार्यशैली की कड़ी भर्त्सना की और हेमंत सरकार से ऐसे भ्रष्ट अधिकारी को तत्काल यहां से ट्रांसफर करने की मांग की.

धरने में विशेष रुप से भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अमरदीप यादव, भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष रेणुका कुमारी, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला अध्यक्ष तनवीर अहमद, भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के जिला अध्यक्ष अजीत चंद्रवंशी, भाजयुमो जिला अध्यक्ष विकास सिन्हा, विधायक प्रतिनिधि दिनेश सिंह राठौर, सदर विधायक प्रतिनिधि विजय कुमार, विधायक प्रतिनिधि विशाल बाल्मीकि, विधायक प्रतिनिधि शिवपाल यादव, विधायक प्रतिनिधि किशोरी राणा, भाजपा नगर पूर्वी मंडल अध्यक्ष बबन गुप्ता, सांसद प्रतिनिधि चौधरी प्रसाद साहू, सुरेश कुमार, राजेश गुप्ता, विजय वर्मा, कुंवर मनोज सिंह, सत्यभामा, ज्योत्सना देवी, सोनी देवी, अर्जुन साव, राजू सिंह, अविनाश यादव, उमा पाठक, भानुमति पासवान, कौलेश्वर रजक, महेश प्रसाद, विनोद प्रसाद, अनिल पांडेय, प्रशांत सिन्हा, संतोष गुप्ता, राजकरण पांडेय, विक्रमादित्य, कृष्णा मेहता, दामोदर प्रसाद, जितेंद्र कुमार साहू, संतोष गुप्ता, सुबोध पासवान, पप्पू पासवान, रंजीत कुमार, राजेंद्र पासवान, श्रवण पासवान, विनीता पासवान, सरफराज हैदर, मुखिया अनूप कुमार,  वासुदेव पांडेय, पार्वती देवी, रोहित कुमार कुशवाहा, सामेंद्र सिन्हा, लिलो महतो, अजीत सिंह, नरेंद्र प्रजापति सहित हजारों लोग मौजूद रहे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.