BJP एकसाथ Election के पक्ष में, कहा देश हमेशा चुनावी मोड में नहीं रह सकता

BJP एकसाथ Election के पक्ष में, कहा देश हमेशा चुनावी मोड में नहीं रह सकता

#New Delhi: कुछ वर्गों की ओर से इन संकेतों के बीच कि LokSabha Election अगले साल के शुरू में 10-11 विधानसभाओं के साथ कराने को लेकर प्रयास किए जा सकते हैं, BJP ने ‘खर्च पर अंकुश’ के लिए एकसाथ Election कराने पर सोमवार को जोर दिया जिसके लिए BJP शासित तीन राज्यों का Election विलंबित किया जा सकता है और 2019 में बाद में होने वाले कुछ राज्यों के Election पहले कराये जा सकते हैं.

BJP सूत्रों ने यद्यपि कहा कि राज्यों का Election विलंबित करने या पहले कराने को लेकर कोई ठोस प्रस्ताव नहीं है और इस विचार पर पार्टी के भीतर औपचारिक रूप से चर्चा नहीं की गई है क्योंकि ऐसे कदमों की संवैधानिक वैधता को ध्यान में रखना होगा.

चुनाव से पहले कुछ राज्‍यों में राज्‍यपाल शासन की संभावना

ऐसे में जब मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ विधानसभाओं का कार्यकाल अगले वर्ष जनवरी में समाप्त हो रहा है, पार्टी के नेता ने संकेत दिया कि BJP शासित इन राज्यों के लिए कुछ समय के लिए राज्यपाल शासन की संभावना तलाशी जा सकती है ताकि वहां विधानसभा Election अगले वर्ष के शुरू में लोकसभा Election के साथ हों. उन्होंने यद्यपि स्पष्ट किया कि अभी कोई ठोस प्रस्ताव तैयार नहीं किया गया है.

कांग्रेस शासित मिजोरम विधानसभा का कार्यकाल भी इस वर्ष दिसम्बर में समाप्त हो रहा है. पूर्व लोकसभा महासचिव एवं संवैधानिक विशेषज्ञ पीडीटी अचार्य ने यद्यपि उन राज्यों में राज्यपाल शासन लगाने की विधिक वैधता पर सवाल उठाया जहां विधानसभा Election लोकसभा Election से पहले होने हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top