Take a fresh look at your lifestyle.

अरुण जेटली के निधन की सूचना के बाद झारखंड में भाजपा और सीएम के कार्यक्रम रद्द

0 0

Ranchi: पूर्व वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के निधन बे बाद झारखंड के मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने आज और कल के सभी तरह के कार्यक्रम रद्द कर दिया है. झारखंड आईपीआरडी द्वारा जारी सूचना में कहा गया है कि अरुण जेटली जी के निधन के कारण मुख्यमंत्री रघुवर दास के आज और कल के सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए गये हैं. कल का दुमका दौरा भी स्थगित कर दिया गया है.

इधर अरुण जेटली के निधन की सूचना प्राप्त होते ही रांची स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय में चल रही कोर कमेटी की बैठक बीच में ही स्थगित कर दी गई.

भाजपा के प्रदेश महामंत्री सांसद सुनील सिंह ने बताया कि बैठक में स्वर्गीय जेटली के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए पार्टी केआज  निर्धारित सभी बैठक और कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया गया है.

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 चुनाव को लेकर आज भाजपा की महत्‍वपूर्ण बैठक चल रही थी. इस बैठक में विधानसभा प्रभारी ओमप्रकाश माथुर के साथ सह प्रभारी नन्द किशोर यादव,प्रदेश सह प्रभारी रामविचार नेताम, मुख्यमंत्री रघुवर दास, प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, प्रदेश संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह सांसद और प्रदेश महामंत्री सुनील सिंह दीपक प्रकाश,सांसद सुदर्शन भगत, नीलकंठ सिंह मुंडा, डॉ रविन्द्र कुमार राय शामिल थे.

मुख्‍यमंत्री रघुवर दास द्वारा एक शोक संदेश भी जारी किया गया है. इस शोक संदेश में कहा गया है कि अरुण जेटली जी के निधन से मैं बहुत दुखी हूं. आज हमारी पार्टी ने अपने परिवार के एक अभिन्न सदस्य तो खो ही दिया है, साथ में देश ने अपना एक प्रखर नेता खो दिया. अरुण जेटली जी के विचार सदैव हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे. उनकी शानदार भाषण शैली पक्ष और विपक्ष दोनों को मुग्ध करने की क्षमता रखती थी. देश के विकास में उनका योगदान सदैव याद किया जाएगा.

रघुवर दास ने अपने शोक संदेश में कहा कि ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे एवं शोक-संतप्त परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य व संबल प्रदान करें।। शत-शत नमन.

पूर्व वित्‍त मंत्री के निधन पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा द्वारा जारी शोक संदेश में कहा गया है कि पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली जी के निधन से भारतीय राजनीति को बहुत बड़ा नुकसान हुआ. वे करोड़ों भारतीयों की पसंदीदा राजनेता थे. उन्होंने वित्त मंत्री के पद पर रहते हुए कई ऐतिहासिक फैसले लिये. इस दुःख की घड़ी में हम सब उनके परिजनों के साथ हैं. भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।ॐ शान्ति.

अरुण जेटली का निधन आज दोपहर 12.07 बजे दिल्‍ली एम्‍स में हुआ. वह 66 साल के थे. जेटली वाजपेयी और मोदी दोनों सरकारों में वित्‍त मंत्री थे. वह नौ अगस्त से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती थे. अरुण जेटली ऐसे नेता थे, जिन्होंने अपने राजनीतिक करियर में कभी कोई लोकसभा चुनाव नहीं जीता, बावजूद उन्हें राजनीति का पुरोधा माना जाता है. अरुण जेटली, मुश्किल वक्त में हमेशा पार्टी के खेवनहार रहे हैं. मुश्किल संसद के अंदर हो या कोर्ट में उन्होंने हर जगह अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.