Bihar Election Date 2020 in Hindi | चुनाव आयोग ने ऐलान किया बिहार चुनाव की तारीख

by

Bihar Election Date 2020 in Hindi: चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी है.  चुनाव आयोग ने कहा है कि बिहार में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे. दिल्ली में आयोजित हुए एक संवाददाता सम्मेलन में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान किया. बता दें कि बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 29 नवम्बर को समाप्त होगा.  

अक्टूबर में पहले चरण का मतदान होगा. दूसरा और तीसरा चरण नवंबर में होगा. दिवाली से पहले वोटों की गिनती की जाएगी. दरअसल इससे पहले ही चुनाव आयोग ये साफ कर चुका है कि 29 नवंबर तक बिहार विधानसभा चुनाव और सारे उपचुनाव संपन्न करा लिए जाएंगे. इसी के फौरन बाद चुनाव आयोग की दो सदस्यीय टीम ने बिहार का दौरा भी किया था. इस दौरे में उप निर्वाचन आयुक्त सुदीप जैन और चन्द्रभूषण कुमार की टीम ने पटना में बैठक और भागलपुर का दौरा भी किया था. इसी के बाद ये तय माना जाने लगा था कि बिहार चुनाव को लेकर आयोग की तैयारी पूरी हो चुकी है.  

Contents

पहले चरण का मतदान – 28 अक्टूबर

बिहार में पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी. ये सीटें हैं कहलगांव, सुल्तानगंज, अमरपुर, धौरैया, बांका, कटोरिया, बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय, शेखपुरा, बरबीघा, मोकमा, बाढ़, मसौढ़ी, पालीगंज, बिक्रम, संदेश, बड़हरा, आरा, अगिआँव, तरारी, जगदीशपुर, शाहपुर, ब्रहमपुर, बक्सर, डुमरांव, राजपुर, रामगढ़, मोहनियां, भभुआ, चैनपुर, चेनारी, सासाराम, करगहर, दिनारा, नोखा, डिहरी, काराकट, अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, मखदुमपुर, गोह, ओबरा, नवीनगर, कुटुम्बा, औरंगाबाद, रफीगंज, गुरूआ, शेरघाटी, इमामगंज, बाराचट्टी, बोध गया, गया टाउन, टिकारी, बेलागंज, अतरी, वजीरगंज, रजौली हिसुआ, नवादा, गोबिंदपुर, वारसलीगंज, सिकंदरा, जमुई, झाझा और चकाई सीट, इन पर पहले चरण के तहत 28 अक्टूबर को मतदान होगा.

दूसरे चरण का मतदान – 3 नवंबर

वहीं दूसरे चरण में उत्तर बिहार के जिलों की 94 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी. ये सीटें हैं नौतन, चनपटिया, बेतिया, हरसिद्धि, गोविंदगंज, केसरिया, कल्याणपुर, पिपरा, मधुबन, शिवहर, सीतामढ़ी, रून्नीसैदपुर, बेलसंड, मधुबनी, राजनगर, झंझारपुर, फुलपरास, कुशेश्वरस्थान, गौड़ाबौराम, बेनीपुर, अलीनगर, दरभंगा ग्रामीण, मीनापुर, कांटी, बरूराज, पारू, साहेबगंज, बैकुण्ठपुर, बरौली, गोपालगंज, कुचायकोट, भोरे, हथुआ, सिवान, जीरादेई, दरौली, रघुनाथपुर, दरौंदा, बड़हरिया गौरेयाकोठी, महराजगंज, एकमा, मांझी, बनियापुर, तरैया, मढ़ौरा, छपरा, गरखा, अमनौर, परसा, सोनपुर, हाजीपुर, लालगंज, वैशाली, महुआ, राजा पाकार, राधोपुर, महनार, उजियारपुर, मोहिउद्दीननगर, विभूतिपुर, रोसड़ा, हसनपुर, चेरिया बरियारपुर, बछवाड़ा, तेघड़ा, मटिहानी, साहेबपुर कमाल, बेगूसराय, बखरी, अलौली, खगड़िया, बेलदौर, परबत्ता, बिहपुर, गोपालपुर, पीरपैंती, कहलगांव, भागलपुर, सुल्तानगंज, नाथनगर, अस्थावां, बिहारशरीफ, राजगीर, इस्लामपुर, हिल्सा, नालंदा, हरनौत, बख्तियारपुर, दीघा, बांकीपुर, कुम्हरार, पटना साहिब, फतुहा, दानापुर, मनेर और फुलवारी सीट.

तीसरे चरण का मतदान – 7 नवंबर

तीसरे चरण में बिहार की 78 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. ये सीटें हैं बाल्मिकिनगर, रामनगर, नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, सिकटा, रक्सौल, सुगौली, नरकटिया, मोतिहारी, चिरैया, ढाका, रीगा, बथनाहा, परिहार, सुरसंड़, बाजपट्टी, हरलाखी, बेनीपट्टी, खजौली, बाबूबरही, बिस्फी, लौकहा, निर्मली, पिपरा, सुपौल, त्रिवेणीगंज, छातापुर, नरपतगंज, रानीगंज, फारबिसगंज, अररिया, जोकाहाट, सिकटी, बहादुरगंज, ठाकुरगंज, किशनगंज, कोचाधामन, अमौर, बायसी, कसबा, बनमनखी, रुपौली, धमदाहा, पूर्णिया, कटिहार, कदवा, बलरामपुर, प्राणपुर, मनिहारी, बरारी, कोढ़ा, आलमनगर, बिहारीगंज, सिंधेश्वर, मधेपुरा, सोनबरसा, सहरसा, सिमरी बख्तियारपुर, महशी, हायाहाट, बहादुरपुर, केवटी, जाले, गायघाट, औराई, मीनापुर, बोचहां, सकरा, कुढनी, मुजफ्फरपुर, महुआ, पातेपुर, कल्याणपुर, वारिसनगर, समस्तीपुर, मोरवा और सरायरंजन सीट.

तीनों चरणों के मतदान संपन्न होने के बाद मतगणना 10 नवंबर को होगी और चुनाव के नतीजे जारी किए जाएंगे. तब पता चल जाएगा कि बिहार में किसकी सरकार बनेगी.

पोलिंग बूथ पर घटाई गई मतदाताओं की संख्या

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा (Chief Election Commissioner Sunil Arora) ने बताया कि कोरोना (Corona) काल में बिहार चुनाव (Bihar Election Latest News) के मद्देनजर काफी तैयारी की गई है, कई जरूरी कदम उठाए गए हैं. पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या घटाई गई है, इस बार एक बूथ पर एक हजार मतदाता होंगे. सभी मतदान केंद्र ग्राउंड फ्लोर पर ही होंगे.

कोरोना पीड़ित भी कर सकेंगे मतदान

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि कोरोना काल में सबसे बड़ा चुनाव है. इस बार 6 लाख पीपीई किट, 46 लाख मास्क का इस्तेमाल होगा. 6 लाख फेस शिल्ड, 23 लाख ग्लव्स, 47 लाख हैंड सेनेटाइजर की व्यवस्था की गई है. कोरोना पीड़ित भी मतदान के आखिरी समय में कर सकेंगे वोटिंग. 7 फरवरी 2020 को मतदाता सूची जारी हुई.

कब से शुरू होगी नामांकन प्रक्रिया

पहले चरण में 16 जिलों के 71 विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले चुनाव के लिए 1 अक्टूबर को अधिसूचना जारी होगी. नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 8 अक्टूबर होगी, जबकि 12 अक्टूबर नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख होगी. दूसरे चरण के लिए 9 अक्टूबर को नोटिफिकेशन जारी होगा. 16 अक्टूबर नामांकन दाखिल की आखिरी तारीख होगी, जबकि 19 अक्टूबर तक उम्मीदवार अपना नामांकन वापस ले सकेंगे. वहीं तीसरे चरण में 13 अक्टूबर को नोटिफिकेशन जारी होगा और नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 20 अक्टूबर होगी, जबकि 23 अक्टूबर तक नामांकन वापस ले सकेंगे.

मतदान केंद्रों पर ग्लब्स और मास्क की भी रहेगी व्यवस्था

कोरोना संक्रमण को देखते हुए वोटिंग के लिए आने वाले प्रत्येक वोटरों के लिए मास्क और ग्लब्स को अनिवार्य किया गया है. इस दौरान प्रत्येक पोलिंग बूथ पर मास्क और ग्लब्स की व्यवस्था भी रहेगी. जिनके पास मास्क और ग्लब्स नहीं होगा, उन्हें यह दिया जाएगा. इसके तहत 46 लाख मास्क और 7 करोड़ हैैंड ग्लब्स, लगभग 7 लाख हैंड सैनीटाइजर, 6 लाख पीपीइ किट का इंतजाम किया गया है. प्रत्येक पोलिंग बूथ पर थर्मल स्कैनर भी रहेगी. जहां मतदान के लिए आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जांच के बाद भी पोलिंग बूथ के अंदर जाने दिया जाएगा. वहीं कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए भी वोट डालने की व्यवस्था की गई है. जो वोटिंग के अंतिम घंटे में मतदान के लिए आएंगे. यानी सामान्य बूथ पर शाम 5 से 6 बजे तक संक्रमित वोटर आ सकेंगे.

7.29 करोड़ वोटर डालेंगे वोट, सभी के पास होगा फोटो आइडी

बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार 7.29 करोड़ से ज्यादा वोटर मतदान में हिस्सा ले सकेंगे. इनमें लंबे समय से बाहर रहने वाले करीब 2.3 लाख ऐसे लोग मजदूर भी है, जो कोरोना संक्रमण के चलते लगाए देशव्यापी लॉकडाउन के बीच लौट आकर आए थे. विशेष अभियान चलाकर इन सभी के नाम पहली बार वोटर लिस्ट में शामिल किया गया है. हालांकि इस दौरान बाहर से आए 14 लाख मजदूर और भी है, लेकिन इनके नाम वोटर लिस्ट में पहले से ही थे.

बिहार चुनाव का पूरा शिड्यूल (Bihar Assembly Election Full Schedule)

चुनाव तीन चरणों में होगा. पहले चरण में 16 जिलों और 71 सीटों पर चुनाव. दूसरे चरण में 17 जिलों में चुनाव होगा. दूसरे चरण में 94 सीटों पर चुनाव होगा.तीसरे चरण में 15 जिलों में 78 सीटों पर चुनाव होगा. पहले चरण की अधिसूचना 1 अक्टूबर को जारी होगी. नामांकन की आखिरी तारीख 8 अक्टूबर है. 28 अक्टूबर को पहले चरण का मतदान होगा. दूसरे चरण के लिए अधिसूचना 9 अक्टूबर को जारी होगी. नामांकन की आखिरी तारीख 16 अक्टूबर होगी. 3 नवंबर को दूसरे चरण की वोटिंग होगी. इसी तरह तीसरे चरण के लिए अधिसूचना 13 अक्टूबर को जारी होगी. नामांकन की आखिरी तारीख 20 अक्टूबर होगी. आखिर चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. इसके साथ ही 10 नवंबर को चुनाव परिणाम आएंगे.

सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल पर होगी कानूनी कार्रवाई: चुनाव आयुक्त

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि चुनाव के दौरान सोशल मीडिया का इस्तेमाल भी एक चुनौती है. सोशल मीडिया पर कोई भी अगर समाज में तनाव पैदा करने की कोशिश करता है तो उसपर कानूनी कार्रवाई होगी. सभी मतदान केंद्र ग्राउंड फ्लोर पर ही होंगे. उम्मीदवारों के बारे में जानकारी वेबसाइट पर देनी होगी. उम्मीदवारों पर केस की जानकारी सार्वजनिक की जाएगी. चुनाव आयोग ने बताया कि नामांकन के दौरान उम्मीदवार के साथ दो से ज्यादा वाहन नहीं जा सकते हैं. इस बार वर्चुअल चुनाव प्रचार होगा. बड़ी- बड़ी जनसभाएं नहीं की जा सकेंगी.

सुबह 7 बजे से शाम के 6 बजे तक होगी वोटिंग : चुनाव आयोग

बिहार विधानसभा चुनाव में कुल 7 करोड़ से ज्यादा मतदाता अपने वोट का इस्तेमाल कर पाएंगे. बिहार विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन Online और Offline भरे जा सकते हैं. सुबह 7 बजे से शाम के 6 बजे तक होगी वोटिंग. मतदान का समय एक घंटा बढ़ा दिया गया है. नामांकन ऑनलाइन भी किया जा सकेगा. विधानसभा कैंडिडेंट समेत कुल 5 लोग ही डोर टू डोर कैंपेन में शामिल होंगे. 5 से ज्यादा लोग घर जाकर प्रचार नहीं कर पाएंगे.

कोविड के चलते नए सुरक्षा मानकों के तहत होंगे चुनाव: चुनाव आयोग

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि कोविड के चलते नए सुरक्षा मानकों के तहत चुनाव होंगे. पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या घटाई जाएगी. एक बूथ पर 1 हजार मतदाता होंगे. 7 लाख हैंड सैनेटाइजर, 6 लाख पीपीई किट्स,  23 लाख हैंड ग्लब्स का इंतजाम किया गया है. 7 लाख से ज्यादा हैंड सैनिटाइजर और 46 लाख से ज्यादा मास्क उपलब्ध करवाए जाएंगे. कोरोना काल में लोगों के हेल्थ और सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा. चुनाव आयोग ने इसके लिए काफी तैयारी की है. चुनाव कार्यक्रम को भी इसी को ध्यान में रखकर बनाया गया है. राज्यसभा चुनाव और विधान परिषद चुनावों में हमने ऐसा किया है.

2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए

2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं. सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था. लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी. इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी. लोजपा 35 सीटों पर आगे थी. एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था. इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा हैं और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी. अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में एआईएमआईएम और एक पर सीपीआई एमएल आगे थी.

विधानसभा में कुल कितनी सीटें, अभी कितनी किसके पास?

बिहार विधानसभा में कुल 243 विधानसभा सीटें हैं. इस वक्त भाजपा और जदयू का गठबंधन सत्ता में है. राजद बिहार में अभी सबसे बड़ी पार्टी है, जिसके पास 73 सीटें हैं. लेकिन नीतीश कुमार की जदयू ने 2017 में आरजेडी से गठबंधन तोड़कर भाजपा के साथ सरकार बनाई है. बिहार में एक बार फिर चुनावी जंग एनडीए और महागठबंधन के बीच लड़ी जानी है. भाजपा की ओर से ऐलान किया गया है कि एनडीए नीतीश कुमार की अगुवाई में ही चुनाव लड़ेगा.

एनडीए ( कुल सीटें- 130)

• जदयू – 69

• भाजपा – 54

• लोजपा – 2

• हम – 1

• निर्दलीय – 4

महागठबंधन (कुल सीटें 101)

• राजद – 73

• कांग्रेस – 23

• सीपीआई (ML) – 3

• निर्दलीय – 1

अन्य

1. AIMIM – 1

2. खाली सीटें – 12

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.