बिहार: कांग्रेस में टूट की आंशका, तेजस्‍वी ने किया सरकार बनाने का दावा

by
Advertisements

Patna: बिहार चुनावों में महागठबंधन को हार मिली हैं और एनडीए सरकार बनाने की कवायद में लगी हुई है. इन सबके बीच कांग्रेस को अपने विधायकों की टूट का डर सता रहा है. कांग्रेस ने टूट की आशंका के चलते फिर से विधायक दल की बैठक बुलाई है, जिसमें छत्तीगढ़ के सीएम भूपेश बघेल भी और कांग्रेस नेता अरविंद पांडेय भी मौजूद रहेंगे.

मिली जानकारी के अनुसार, इस बैठक में सभी नवनिर्वाचित विधायकों से वन-टू-वन बात होगी. जिसमें विधायकों से बात की जाएगी और उनको भरोसे में लिया जाएगा. यह बैठक सदाकत आश्रम में होगी. हालांकि बिहार प्रभारी वीरेंद्र सिंह राठौर ने टूट की आशंकाओं को खारिज किया है.

तेजस्‍वी ने विधायकों से किया सरकार बनाने का दावा

तेजस्वी यादव को भी इस बात का पता है कि कांग्रेस के विधायक टूट सकते हैं, इसलिए उन्‍होंने महागठबंधन की बैठक में विधायकों से दावा किया कि सरकार उनकी ही बनने जा रही है. तेजस्वी यादव ने अपने विधायकों से अपील की है कि वो अगले एक महीने तक पटना में ही रहें.

जानकारी के अनुसार तेजस्वी यादव को गठबंधन में से कांग्रेस के कुछ विधायकों के छिटकने की आशंका है, ऐसे में वो पूरी तरह सतर्क रहना चाहते हैं.

मांझी का कांग्रेस विधायकों को ऑफर

बता दें कि यह सब जीतन राम मांझी के बयान से शुरू हुआ, जिसमें उन्‍होंने कांग्रेस विधायकों को नीतीश कुमार के साथ आने का ऑफर दिया. मांझी ने कहा कि कांग्रेस विधायकों को सीएम नीतीश के साथ आ जाना चाहिए. नीतीश सबके नेता हैं और उनकी नीति कांग्रेस से बहुत अलग नहीं है. सभी कांग्रेस विधायक साथ आ जाएं ये उनके लिए भी बेहतर है.

मांझी ने यह ऑफर तब दिया है जब यह खबर आई कि बिहार विधानसभा चुनाव परिणामों में बहुमत से महज 12 सीटें दूर रहने पर महागठबंधन ने अभी सरकार बनाने की आस नहीं छोड़ी है. वह अपने पुराने सहयोगी जीतन राम मांझी की हम और मुकेश सहनी की वीआईपी पर डोरे डाल रहा है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.