जम्‍मू-कश्‍मीर पर पीएम मोदी की बड़ी बातें

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi Massage to Nation) ने गुरुवार को कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 और 35ए ने भ्रष्टाचार, आतंकवाद और परिवारवाद के अलावा कुछ नहीं दिया. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 (Article 370) के बारे में मान लिया गया था कि ये बदलेगा ही नहीं, इससे जो हानि हो रही थी, उसकी चर्चा ही नहीं हो रही थी. 

पीएम मोदी ने गुरुवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा, “इसका इस्तेमाल किया जा रहा था. इसकी वजह से 42 हजार निर्दोष लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी. हम सबने मिलकर ऐतिहासिक फैसला लिया है, सरदार पटेल ने जो सपना देखा था उसे पूरा किया गया.”

उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) और लद्दाख (Ladakh) के लोग विकास से वंचित थे, वो अब दूर हो गई है. अब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों का वर्तमान तो सुधरेगा ही, उनका भविष्य भी सुरक्षित होगा.

मोदी ने कहा कि पहले की सरकारें एक कानून बनाकर वाहवाही लूटती थीं, लेकिन वह भी ये दावा नहीं कर पाती थीं कि उनका कानून जम्मू-कश्मीर में भी लागू होगा. जम्मू-कश्मीर के डेढ़ करोड़ से ज्यादा लोग उससे वंचित रह जाते थे.

Read Also  36th national games 2022 उद्घाटन समारोह में पीएम के सामने बिना ब्‍लेजर मार्च पास्‍ट करेगी झारखंड टीम

जम्‍मू-कश्‍मीर पर पीएम मोदी की बड़ी बातें

  • पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर के लोग तमाम अधिकारों से वंचित थे. धारा 370 हटाए जाने के बाद उन्हें सभी अधिकार मिलेंगे.
  • पीएम मोदी ने कहा कि जो सपना सरदार पटेल का था, बाबा साहेब अंबेडकर का था, डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का था, अटल जी और करोड़ों देशभक्तों का था, वो अब पूरा हुआ है. अब देश के सभी नागरिकों के हक और दायित्व समान हैं.
  • उन्होंने कहा कि समाज जीवन में कुछ बातें, समय के साथ इतनी घुल-मिल जाती हैं कि कई बार उन चीजों को स्थाई मान लिया जाता है. अनुच्छेद 370 के साथ भी ऐसा ही भाव था. उससे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहनों की जो हानि हो रही थी, उसकी चर्चा ही नहीं होती थी.
  • पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि एक राष्ट्र के तौर पर, एक परिवार के तौर पर, आपने, हमने, पूरे देश ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है. एक ऐसी व्यवस्था, जिसकी वजह से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहन अनेक अधिकारों से वंचित थे, जो उनके विकास में बड़ी बाधा थी, वो हम सबके प्रयासों से अब दूर हो गई है.
  • पीएम ने कहा कि देश के अन्य राज्यों में दलितों पर अत्याचार रोकने के लिए सख्त कानून लागू है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में ऐसे कानून लागू नहीं होते थे. देश के अन्य राज्यों में सफाई कर्मचारियों के लिए सफाई कर्मचारी एक्ट लागू है, लेकिन जम्मू-कश्मीर के सफाई कर्मचारी इससे वंचित थे. अब उन्हें अब अपना हक हासिल होगा.
  • मोदी ने कहा कि आर्टिकल 370 और 35ए इन दोनों अनुच्छेद का देश के खिलाफ कुछ लोगों की भावनाएं भड़काने के लिए पाकिस्तान की ओर से एक शस्त्र की तरह उपयोग किया जा रहा था. उन्होंंने कहा कि आर्टिकल 370 और 35ए ने जम्मू कश्मीर को अलगाववाद, आतंकवाद, परिवारवाद और व्यवस्थाओं में बड़े पैमाने में फैले भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं दिया.
  • पीएम मने कहा कि लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश बना रहेगा. वहीं हालात सुधरने के बाद जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य बनाया जाएगा. जम्मू कश्मीर में जैसे पंचायत के चुनाव पारदर्शिता के साथ हुए, वैसे ही विधानसभा के भी चुनाव होंगे.
  • लद्दाख में स्पिरिचुअल टूरिज्म, एडवेंचर टूरिज्म और इको टूरिज्म का सबसे बड़ा केंद्र बनने की क्षमता है.
  • केंद्र शासित प्रदेश बन जाने के बाद अब लद्दाख के लोगों का विकास भारत सरकार की विशेष जिम्मेदारी है. स्थानीय प्रतिनिधियों, लद्दाख और कारगिल की डवलपमेंट काउंसिल्स के सहयोग से केंद्र सरकार विकास की तमाम योजनाओं का लाभ अब और तेजी से पहुंचाएगी.
  • उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के केसर का रंग हो या कहवा का स्वाद, सेब का मीठापन हो या खुबानी का रसीलापन,  कश्मीरी शॉल हो या फिर कलाकृतियां, लद्दाख के ऑर्गैनिक प्रॉडक्ट्स हों या हर्बल मेडिसिन… इसका प्रसार दुनियाभर में किए जाने का जरूरत है.
  • ईद का मुबारक त्योहार भी नजदीक ही है. ईद के लिए मेरी ओर से सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं. सरकार इस बात का ध्यान रख रही है कि जम्मू-कश्मीर में ईद मनाने में लोगों को कोई परेशानी न हो. हमारे जो साथी जम्मू-कश्मीर से बाहर रहते हैं और ईद पर अपने घर वापस जाना चाहते हैं, उनको भी सरकार हर संभव मदद कर रही है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.