आजसू-भाजपा को पछाड़ बबीता ने बचायी पति की लाज

#BOKARO : गोमिया विधानसभा क्षेत्र की नयी और पहली महिला विधायक के रूप में बबीता देवी काबिज हो गयी हैं. पूर्व विधायक योगेन्द्र प्रसाद महतो की अर्द्धांगिनी सह महागंठबंधन की प्रत्याशी बबीता देवी ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्दी आजसू उम्मीदवार लम्बोदर महतो को 1341 वोट के अंतर से शिकस्त दी. जबकि भाजपा प्रत्याशी माधवलाल सिंह तीसरे पायदान पर खिसक गये.

झामुमो की बबीता देवी को कुल 60,552, भाजपा के माधवलाल सिंह को 42038 तथा आजसू पार्टी के लम्बोदर महतो को 59211 मत प्राप्त हुए. बोकारो के सेक्टर-1बी स्थित बोकारो इस्पात विद्यालय में कुल 18 चक्रों में हुई गोमिया उपचुनाव की मतगणना के बाद उक्त परिणाम सामने आया. निर्वाची पदाधिकारी सह बेरमो के अनुमंडल पदाधिकारी प्रेम रंजन ने विजेता प्रत्याशी की घोषणा की तथा प्रमाण-पत्र प्रदान किया.

परिणाम घोषित होने के लगभग आधे घंटे के बाद बबीता अपने पति योगेन्द्र महतो व अन्य समर्थकों के साथ यहां पहुंचीं और काउंटिंग हाल में तमाम कागजी प्रक्रियायें पूरी करने के बाद प्रमाण-पत्र प्राप्त किया. मौके पर डुमरी के झामुमो विधायक जगरनाथ महतो भी मौजूद थे. गौरतलब है कि कोयला चोरी के एक मामले में कथित संलिप्तता के बाद बबीता देवी के पति योगेन्द्र महतो जेल चले गये थे.

Read Also  Jharkhand Mob Lynching: भीड़ ने गुमला के एजाज खान को पीट-पीटकर मार डाला

उसके बाद गोमिया से उनकी विधायकी खत्म कर दी गयी थी और इसी रिक्त स्थान को भरने के लिये गोमिया में उपचुनाव हुआ. संयोग देखिये कि घर की सीट घर में ही रह गयी. बबीता ने अपने पति की लाज और साख दोनों बचा ली. कांटे की टक्कर में अपनी जीत दर्ज कर उन्होंने अपने विरोधियों को करारा जवाब दे दिया.

गोमिया विधानसभा उप चुनाव, 2018 में मतों की गणना हेतु 20 टेबल बनाये गए थे, जिसमें 60 मतगणना कर्मियों को मतगणना हेतु लगाया गया था. निर्वाची पदाधिकारी के टेबल पर सामान्य प्रेक्षक अनुराग पाण्डेय, उप विकास आयुक्त रविरंजन मिश्रा, निर्वाची पदाधिकारी सह अनुमंडल पदाधिकारी प्रेमरंजन, निदेशक डीपीएलआर एस.एन. उपाध्याय, उप निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय कुमार पाण्डेय सहित अन्य सहायक निर्वाची पदाधिकारी लगे रहे. वहीं, डीसी मृत्युंजय कुमार वर्णवाल, एसपी कार्तिक एस.

Read Also  राष्‍ट्रपति से पुरस्‍कार प्राप्‍त करने वाले पारा टीचर के घर से एक करोड़ की ब्राउन शुगर बरामद

खुद घूम-घूमकर निगरानी करने में लगे रहे. मतगणना पूर्वाहन 08.00 बजे प्रारम्भ कर की गयी थी तथा अपराहन 03.00 बजे पूर्ण हो गया. अनुमंडल पदाधिकारी -सह- निर्वाची पदाधिकारी प्रेमरंजन के द्वारा राउण्डवार अभियर्थियों को मिले मतो की संख्या की जानकारी लाउडस्पीकर के माध्यम से दी जा रही थी साथ ही बड़े साईज की एलईडी स्क्रीन पर मतों की संख्या भी प्रदर्शित की जा रही थीे.

पूरी मतगणना के सफल संचालन में अपर समाहर्ता जुगनू मिंज, अनुमंडल पदाधिकारी सतीश चन्द्रा, जिला आपूर्ति पदाधिकारी नीरज कुमार सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी महिप कुमार सिंह, जिला भूमि सुधार उप समाहर्ताजेम्स सुरीन, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी विकाश कुमार हेम्ब्रम, पुलिस उपाधीक्षक (सीसीआर) रजतमणि बाखला, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय पूनम मिंज, पुलिस उपाधीक्षक (नगर) अजय कुमार आदि की अहम भूमिका रही.

Read Also  Dussehra 2022 के दौरान मौसम खराब होने के आसार, पूरे झारखंड के लिए जारी हुआ येलो अलर्ट

फंसाये गये थे पति, जनता ने किया न्याय : बबीता बबीता देवी ने गोमिया विधानसभा क्षेत्र की जनता को हृदय से धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा – यह मेरी जीत नहीं, गोमिया विधानसभा क्षेत्र के लोगों की जीत है. मैं उन्हें बहुत-बहुत धन्यवाद देना चाहती हूं. इस क्षेत्र के विकास को लेकर मेरे पति के जो अधूरे कार्य रह गये हैं, उन्हीं को पूरा करना मेरी प्राथमिकता होगी.

उन्होंने यह भी कहा कि उनके पति को एक साजिश के तहत फंसाया गया, जिसका न्याय जनता ने उन्हें जिताकर कर दिया है. मौके पर योगेन्द्र-बबीता की पुत्री भी मौजूद थीं. उसने भी अपने माता-पिता को फूल-माला पहनाकर उनका अभिनंदन किया तथा गले मिलकर खुशियां जतायी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top
OTT पर खूंखार हो चली ये Hot Actress प्‍यार वाला राशिफल: 5 अक्‍टूबर 2022 Adipurush में प्रभास बने श्रीराम, टीजर का मजाक उड़ा प्‍यार वाला राशिफल: 4 अक्‍टूबर 2022 रांची के TOP Selfie Pandal