JEE Mains, Advanced दिए बिना भी B.Tech की पढ़ाई, स्‍कॉलरशिप और प्‍लेसमेंट भी मिलेगा

Ranchi: झारखंड के स्‍टूडेंट्स के लिए बड़ी खबर है. यहां के स्‍टूडेंट्स अब JEE Mains या फिर Advanced दिए बिना भी B.Tech की पढ़ाई कर सकेंगे.

यहां के छात्रों को इसके तहत सीधे प्लेसमेंट का भी अवसर देने की तैयारी चल रही है. प्लस टू साइंस या कॉमर्स के बिजनेस मैथ पास छात्रों के लिए यह सबकुछ संभव हो पाया है श्रम विभाग और एचसीएल टेक्नोलॉजी स्टॉकिंग सर्विस प्राइवेट लिमिटेड (HCL Technology Stocking Service Pvt Ltd) के एक साथ आगे आने से.

दोनों के बीच इसे लेकर एमओयू हुआ है. B.Tech के बाद इन छात्रों को सीधे HCL जैसी IT कंपनियों में प्लेसमेंट दिया जाएगा.

इसके तहत तहत एक वर्षीय प्रशिक्षण सह प्लेसमेंट कार्यक्रम HCL टेकबी, HCL TSS की ओर से चलाया जा रहा है. इसके लिए इसमें पहले निबंधन कराना होगा.

एक घंटे का होगा टेस्ट

इसके बाद एक घंटे का ऑनलाइन टेस्ट (Online test) होगा. जिसमें मैथ, इंग्लिश, रिजनिंग और निबंध लेखन शामिल होगा. ऑनलाइन टेस्ट में सफल होने के बाद ऑनलाइन इंटरव्यू लिये जायेंगे.

इसके बाद छात्रों का अंतिम रूप से चयन होगा. चयन होने के बाद पहले छह माह ऑनलाइन मोड से प्रशिक्षण होगा, जिसमें कम्यूनिकेशन स्कील्स, टेक्निकल स्कील्स आदि का प्रशिक्षण होगा. प्रशिक्षण के दौरान कंपनी Data cost के रूप में 650 रुपये प्रतिमाह देती है.

छह माह प्रशिक्षण करना होगा पूरा

पहले छह माह प्रशिक्षण पूर्ण करने के बाद अभ्यर्थियों को अगले छह माह इंटर्नशिप (An internship) करने के लिए HCL के किसी भी कार्यालय में जाना होता है.

वहां अभ्यर्थी लाइव प्रोजेक्ट पर काम करते हैं. इस दौरान एचसीएल छात्रों को 10 हजार छात्रों रुपये मासिक छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान करती है, ताकि हर आय वर्ग के बच्चे कार्यक्रम लाभ ले सके.

विद्यार्थियों में ये योग्यता होनी है जरूरी

ऑनलाइन टेस्ट में शामिल होने के लिए 10 प्लस टू 60 प्रतिशत अंकों के साथ मैथमैटिक्स या बिजनेस मैथमैटिक्स से उत्तीर्ण होना चाहिए.

गणित विषय में न्यूनतम 60 प्रतिशत अंक अनिवार्य हैं. इच्छुक छात्र-छात्राएं https://www.hcltech.com/ पर जाकर रजिस्‍ट्रेशन करा सकते है. श्रम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि यह छात्र-छात्राओं के लिए यह अच्छा मौका है.

कंपनी योग्य उम्मीदवार को जरूरत पड़ने पर B.Tech का कोर्स भी कराती है. इसमें स्कॉलशिप का प्रावधान है, जो बीटेक नहीं करना चाहते हैं, उनके लिए रोजगार भी उपलब्ध है.

2.20 लाख रुपए तक का मिलेगा पैकेज

एक सफलतापूर्वक पूर्ण होने के उपरांत अभ्यर्थी HCL के फुल टाइम इंप्लाई बन जाते हैं. जो कंपनी के पेरोल पर होते हैं. प्रथम वर्ष का पैकेज 1.70 लाख से 2.20 लाख रुपये के बीच होता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.