3300 से 3500 रुपये के प्रीमियम दरों पर बेचे जायेंगे अटल बिहारी वाजपेयी के 100 रुपये के नये सिक्‍के

by

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में 100 रुपये का स्मारक सिक्का जारी किया. इस सिक्के पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर है. 25 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती है. उसी के अवसर पर स्मारक सिक्का जारी किया गया है. बता दें, अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को ग्वालियर में हुआ था. ऐसे में सरकार उनकी 95वीं जन्मतिथि को खास बनाया है.

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी का सिक्का हमारे दिलों पर 50 साल से ज्यादा चला. हम अगर उनके आदर्शों पर चलते हैं तो हम भी अटल बन सकते हैं. हमें उनकी जिंदगी से प्रेरणा लेनी चाहिए.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

सिक्के के दूसरी तरफ अशोक स्तंभ है

सिक्के कीदूसरी तरफ अशोक स्तंभ है. सिक्के के एक तरफ पूर्व प्रधानमंत्री का पूरा नाम देवनागरी और अंग्रेजी में लिखा गया है. वहीं तस्वीर के निचले हिस्से में वाजपेयी का जन्म वर्ष 1924 और देहांत का वर्ष 2018 अंकित किया गया है. इस सिक्के का वजन 35 ग्राम है. सिक्के की बांयी परिधि पर देवनागरी लिपि में भारत और दांयी तरफ अंग्रेजी में इंडिया लिखा गया है

प्रीमियर दरों पर बेचे जाएंगे सिक्के

इस स्मारक सिक्के को 100 रुपये के मूल्य वर्ग में रखा जाने का प्लान है और यह सिक्का प्रचलन में नहीं आएंगे. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस सिक्के को 3300 से 3500 रुपये की प्रीमियम दरों पर बेचे जाने की उम्मीद है.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

35 ग्राम वाले इस सिक्के में 50 प्रतिशत चांदी, 40 प्रतिशत तांबा, पांच प्रतिशत निकिल और पांच प्रतिशत जस्ता है. 100 रुपये की कीमत वाला यह सिक्का प्रचलन में नहीं आएगा. भारत सरकार सिक्के की बुकिंग के लिए समय तय करेगी और इसे प्रीमियम दरों पर बेचा जाएगा. इसे टकसाल से सीधे भी खरीदा जा सकेगा.

आपको बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का इसी साल 16 अगस्त को 93 वर्ष की उम्र में देहांत हो गया था. उन्होंने तीन बार प्रधानमंत्री के रूप में देश की सेवा की. उत्तराखंड सरकार पहले ही देहरादून एयरपोर्ट का नाम बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री के नाम पर करने का ऐलान कर चुकी है. इससे पहले लखनऊ के मशहूर हजरतगंज चौराहे का नाम बदलकर अटल चौक किया गया.

एक नजर में सिक्के की खासियत

– सिक्के पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर है.

Read Also  सदर अस्प‍ताल रांची से शुरू हुई झारखंड में कोरोना वैक्सीनेशन, हेमंत सोरेन ने कहा- वरदान साबित होगा

– सिक्के की दूसरी तरफ अशोक स्तंभ है. इस पर एक तरफ पूर्व प्रधानमंत्री का नाम देवनागरी और अंग्रेजी में लिखा गया है.

– तस्वीर के निचले हिस्से में वाजपेयी का जन्म वर्ष 1924 और देहांत का वर्ष 2018 अंकित किया गया है.

– सिक्के का वजन 35 ग्राम है और इसमें 50 प्रतिशत चांदी, 40 प्रतिशत तांबा, 5 प्रतिशत निकिल और 5 प्रतिशत जस्ता है.

– सरकार सिक्के की बुकिंग के लिए समय तय करेगी और इसें प्रीमियम दरों पर बेचा जाएगा. इसे टकसाल से सीधे भी खरीदा जा सकता है.

– सिक्के को 3300 से 3500 रुपये की प्रीमियम दरों पर बेचे जाने की उम्मीद है.

 

Categories Delhi

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.