बंगाल समेत 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव का ऐलान, 2 मई को आएंगे नतीजे

by

New Delhi: चुनाव आयोग ने शुक्रवार को पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान किया. सीईसी सुनील अरोड़ा ने पांचों राज्यों के चुनावों की तारीखों का ऐलान करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में मार्च में चुनाव होंगे और यहां आठ चरणों में चुनाव होंगे. सभी पांच राज्यों के चुनावों के नतीजों की घोषणा 2 मई को होगी. पांच राज्यों की 824 सीटों पर वोट डाले जाएंगे और 18 करोड़ से ज्यादा मतदाता मतदान करेंगे. चुनाव आयोग ने कहा कि कोरोना को देखते हुए गाइडलाइंस जारी की गई हैं, जिनका पांचों राज्यों की सरकारों को सख्ती से पालन करना होगा.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

जानिए कब कहां होंगे चुनाव

  • पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान होगा. पहला चरण- 27 मार्च, दूसरा चरण- 1 अप्रैल, तीसरा चरण-6 अप्रैल , चौथा चरण-10 अप्रैल, पांचवां चरण-17 अप्रैल, छठा चरण-22 अप्रैल, सातवां चरण- 26 अप्रैल और आठवें चरण के चुनाव 29 अप्रैल को होंगे
  • असम में तीन चरणों में चुनाव होंगे, पहले चरण का चुनाव 27 मार्च को, दूसरे चरण 1 अप्रैल और तीसरे चरण के चुनाव 6 अप्रैल को होंगे.
  • केरल में एक ही चरण को मतदान होगा. केरल में 6 अप्रैल को चुनाव होगा.
  • तमिलनाडु में भी एक ही चरण में सभी सीटों पर 6 अप्रैल को चुनाव होगा.
  • केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव 6 अप्रैल को होंगे.

EC ने जारी की गाइडलाइंस

  • जिन अधिकारियों की चुनाव में ड्यूटी लगेगी, उन सभी को कोरोना वैक्सीन लगानी होगी.
  • मतदान के लिए एक घंटा बढ़ाया गया.
  • जिस दिन त्योहार होगा, उस दिन वोटिंग नहीं होगी. वहीं परीक्षा वाले दिन भी मतदान नहीं होगा.
  • डोर टू डोर कैंपेन के लिए 5 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे. यानि 5 लोगों को ही घर-घर जाने की इजाजत होगी.
  • उम्मीदवारों के नामांकन के लिए ऑनलाइन सुविधा होगी. सिक्योरिटी मनी भी ऑनलाइन जमा की जा सकेगी.
  • बंगाल समेत दूसरे राज्यों में संवेदनशील बूथों पर CRPF की तैनाती होगी.
  • सभी मतदान केंद्र ग्राउंड फ्लोर पर होंगे.
  • CCTV की निगरानी में मतदान होगा.
  • मतदान केंद्रों में मास्क और सेनेटाइजर का पूरा प्रबंध हो.
  • ऑनलाइन वोटर कार्ड आईडी भी निकाली जा सकती है.
  • चुनाव से जुड़ी हर जानकारी के लिए 1950 टोल फ्री नंबर पर फोन कर सकते हैं.
  • उपचुनावों के लिए अलग नोटिफिकेशन जारी होगा.
Read Also  झारखंड में कोरोना से निपटने के लिए हेमंत सोरेन ने सेना से मांगी मदद

आयोग ने कहा कि चुनावों के दौरान मतदाताओं की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा. आयोग ने कहा कि इस बार कोरोना के कारण चुनाव काफी चुनौतीपूर्ण है. आयोग ने कोरोना काल में बिहार में हुए विधानसभा चुनाव के सफलतापूर्वक होने की भी प्रशंसा की. आयोग ने कहा कि कोरोना योद्धाओं को सलाम जिन्होंने इस स्थिति का डटकर सामना किया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.