अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से पूछे तल्ख सवाल पर बवाल

by

New Delhi: देश भर में कोरोना संकट के बीच ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड्स की कमी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बैठक की. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी हिस्सा लिया और राजधानी में ऑक्सीजन की कमी का मुद्दा उठाया. मीटिंग के हिस्से टीवी पर भी लाइव प्रसारित हुए जिसमें केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी के सामने कुछ तल्ख सवाल किए.

केंद्र में ऑक्सीजन के लिए किससे बात करूं, बताएं: केजरीवाल

केजरीवाल ने कहा, ‘सर हमें आपके मार्गदर्शन की जरूरत है. दिल्ली में ऑक्सीजन की भारी कमी है. अगर यहां ऑक्सीजन का प्लांट नहीं है तो क्या दिल्ली के लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगा. कृपया मुझे बताएं कि जब दिल्ली के लिए अधिकृत ऑक्सीजन टैंकर किसी और राज्य में रोक लिया जाता है तो ऐसे में केंद्र में मुझे किससे बात करना चाहिए.’

Read Also  आदिवासियों में होने वाले सिकल सेल आनुवांशिक बीमारी के उन्‍मूलन के लिए मुहिम शुरू

साथ ही केजरीवाल ने पीएम मोदी से बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों से ऑक्सीजन सिलेंडर एयर लिफ्ट कराने का भी सुझाव दिया. केजरीवाल ने कहा, ‘पीएम सर प्लीज इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों को फोन करें जहां सबसे ज्यादा टैंकर रूके हुए हैं ताकि ऑक्सीजन दिल्ली पहुंच सके.’

केजरीवाल के सवालों के दौरान टीवी पर लाइव प्रसारण पर विवाद

केजरीवाल जब पीएम मोदी के सामने अपनी बातें रख रहे थे, उस सेशन को कुछ प्राइवेट न्यूज चैनल के जरिए टीवी पर लाइव दिखाया गया. एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार सरकार के सूत्रों ने बताया कि ये पहले से तय ही नहीं था. सरकारी सूत्र अब केजरीवाल पर पूरे मुद्दे को लेकर टीवी के जरिए राजनीति करने का आरोप लगा रहे हैं.

Read Also  Modi 2.0: 7 राज्यों की विधानसभा चुनाव के पहले कैबिनेट में बड़े बदलाव की तैयारी

एक सूत्र ने कहा, पहली बार पीएम की मुख्यमंत्रियों के साथ निजी बैठक को टेलीविजन पर दिखाया गया. ऐसा लगता है कि उनका पूरा भाषण किसी समाधान की कोशिश नहीं थी बल्कि राजनीति खेलने और जिम्मेदारी को किसी और के कंधे पर डालने की थी.

सूत्र ये भी आरोप लगा रहे हैं कि पिछली कोविड मीटिंग में केजरीवाल ‘हंसते हुए और जम्हाई’ लेते नजर आए थे. गौरतलब है कि दिल्ली में कई अस्पताल में पिछले कुछ दिनों से ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं.

गंगाराम अस्पताल में ही पिछले 24 घंटे में ऑक्सीजन की कमी से 25 मरीजों की मौत की खबर आई है. ऐसे ही हालात मैक्स साकेत अस्पताल के भी थे. हालांकि शुक्रवार सुबह इन जगहों पर ऑक्सीजन पहुंचाई गई.

Read Also  कोरोना फाउंडेशन के नाम पर हो रहा है ऑनलाइन ठगी

बताते चलें कि भारत में कोरोना संक्रमण के पिछले 24 घंटे में तीन लाख 32 हजार 730 नए मामले सामने आए हैं. साथ ही 2263 लोगों की जान भी चली गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इसी के साथ देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1 लाख 86 हजार 920 हो गई है. वहीं एक्टिव केस 24 लाख 28 हजार 616 हो गए हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.