अंकिता हत्‍याकांड का कनेक्‍शन गैर-मुस्लिम लड़कियों से शादी को बढ़ावा देने वाले संगठन से

Ranchi: दुमका की बेटी अंकिता हत्‍याकांड मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. पुलिस की जांच का दायरा बढ़ गया है. हत्‍याकांड के आरोपी नईम का आतंकी कनेक्‍शन को खंगाला जा रहा है. जानकारी के अनुसार उच्‍चस्‍तरीय जांच दल ने बताया कि नईम के मोबाइल से पता चला है कि वह प्रतिबंधित संगठन अंसार-उल-बांग्‍ला से प्रभावित था. वह अक्‍सर अपने मोबाइल पर संगठन के गतिविधियों को देखता था. 

अंसार-उल-बांग्‍ला मूलत: गैर-मुस्लिम लड़कियों से शादी कर बच्‍चा पैदा करने और उन्‍हें इस्‍लाम धर्म कबूल करने के उद्देश्‍य से काम करता है. नईम साल 2021 में 17 वर्षीया लड़की को भगा ले गया था. जिसमे उसे पोक्‍सो एक्‍ट में जेल भेजा गया था. वह जमानत पर था. नईम ने पुलिस को बताया कि 22 अगस्‍त की शाम शाहरुख उससे मिला था. कहा कि वह अंकिता को जला देगा. फिर उसने ही पेट्रोल खरीद कर शाहरुख को दिया था. 

Read Also  रांची में डांडिया नाइट की धूम, बाजार में बढ़ी लहंगा की डिमांड 

प्रतिबंधित अंसार-उल-बांग्ला संगठन का उद्देश्य

यह संगठन मूलत: गैर इस्लामिक लड़कियों से शादी कर उससे बच्चा पैदा करने व उन्हें इस्लाम धर्म कबूल करने के उद्देश्य से काम करता है. जानकारी के अनुसार नईम अक्सर अपने मोबाइल पर इस संगठन की गतिविधियों को देखता था और इससे प्रभावित था. माना जा रहा है कि शाहरुख को अंकिता के साथ दोस्ती बढ़ाने में हर कदम पर साथ दे रहा था.

अनुसंधान में नईम से पूछताछ के दौरान उसने स्वीकारोक्ति बयान में पुलिस को बताया है कि शाहरुख उसका जिगरी दोस्त था. उसने पुलिस के समक्ष यह भी बयान दिया है कि 22 अगस्त की शाम शाहरुख उससे मिला था. उस वक्त वह काफी गुस्से में था. शाहरुख ने जब उससे यह कहा कि वह अंकिता को पेट्रोल छिड़क कर जला देगा तो उसने यह कहा कि अगर वह बात नहीं करती है, तो उसकी यही सजा है. फिर उसी ने शाहरुख के लिए पेट्रोल खरीद कर लाया और दोनों मिलकर सुबह चार बजे घटना को अंजाम देने पहुंचे थे. पुलिस के पास यह भी साक्ष्य मिले हैं कि शाहरुख अंकिता को काफी पहले से जानता था और उसे अक्सर तंग किया करता था.

Read Also  रांची में डांडिया नाइट का जोश, लोगों की फरमाइश पर बदलते गए गीत

बाबूलाल मरांडी के ट्वीट से केस में नया मोड़

झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने भी ट्वीट करके हत्या के आरोपियों के आतंकी कनेक्शन होने की आशंका जताई है. इसके बाद बांग्लादेशी आतंकी ग्रुप से संपर्क होने की जांच शुरू हो गई है. पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया कि अंकिता का हत्यारा शाहरुख और उसका दोस्त मोहम्मद नईम आतंकवादी संगठन, अंसारुल्ला बांग्ला से प्रेरित थे. उन्होंने लिखा कि यह संगठन बांग्लादेश में ब्लॉगर्स की हत्याओं के लिए भी जिम्मेदार था.

केस में आतंकी कनेक्शन की थ्योरी

दरअसल बीजेपी नेता और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के ट्वीट के बाद से अंकिता मर्डर केस में आतंकी कनेक्शन की थ्योरी सामने आई है. बाबूलाल मरांडी के ट्वीट के एक-एक शब्द पर गौर करें तो अंकिता मर्डर केस में आतंकी कनेक्शन सामने आ रहा है. बीजेपी नेता ने ट्वीट में लिखा कि अंसार-उल-बांग्ला भारतीय उपमहाद्वीप में अल-कायदा के लिए एक फ्रंट ग्रुप है, जिसका मकसद गैर मुस्लिम महिलाओं को निशाना बनाना और उनका धर्म परिवर्तन कराना है.

Read Also  रांची में डांडिया नाइट की धूम, बाजार में बढ़ी लहंगा की डिमांड 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.