Take a fresh look at your lifestyle.

अनिल अंबानी को बुरे वक्‍त में मिल रहा बड़े भाई मुकेश अंबानी का साथ

0 53

New Delhi: अनिल अंबानी भले ही दुनिया के अमिर लोगों में गिने जाते हैं, लेकिन उनका अभी टाइम खराब चल रहा है. वह पुरी तर से बर्बाद हो गये हैं. अनिल अंबानी का यह बुरा वक्‍त समय से चल रहा है. अनिल अंबानी मुकेश अंबानी के छोटे भाई हैं. ऐसे बुरे वक्‍त में उन्‍हें बड़े भाई का साथ मिल गया है.

मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी के बीच के संबंध कैसे हैं ये बात तो किसी से छिपी नहीं हैं. दोनों के बीच के रिश्ते काफी अच्छे नहीं है. लेकिन इन सबके बावजूद भी मुकेश अंबानी अपने भाई के बुरे वक्त में उनके साथ खड़े हैं. इसका सबसे बड़ा कारण उनकी मां हैं, जी हां दोनों भाई को साथ लाने में उनकी मां कोकिला बेन ने एक अहम भूमिका निभाई है.

अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन्स के दिवाला प्रक्रिया को एसबीआई बोर्ड ने मंजूरी दे दी है. एकबार फिर उन्हें भाई का साथ मिला. बड़े भाई मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो आरकॉम के टॉवर और फाइबर बिजनस को खरीदेगी. इसके बदले कंपनी 4700 करोड़ देने को तैयार है. आरकॉम पर 82000 करोड़ का भारी कर्ज है.

दोनों भाइयों का रास्ता 2008 में एक विवाद के साथ अलग-अलग हो गया था. जिसके बाद दोनों के बीच के रिश्ते कुछ खास नहीं रहे हैं. मगर मां कोकिलाबेन अंबानी ने बंटवारे के जख्म पर लगातार मरहम लगाई. यही वजह है कि जब एरिक्शन मामले में अनिल अंबानी के जेल जाने की नौबत आ गई थी तब मुकेश अंबानी ने बड़े भाई के नाते 500 करोड़ जमा कर उन्हें जेल जाने से बचाया.

आपको बता दें कि एक वक्त था जब दोनों भाईयों के बीच बेशुमार प्यार था. ये वक्त उस समय का है, जब उनके पिता धीरूभाई अंबानी जिंदा थे. फिर साल 2002 में दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई. उन्होंने कोई वसीयत नहीं लिखी थी. इसी के बाद दोनों भाइयों के बीच विवाद शुरू हो गया.

2005 में मां कोकिलाबेन ने दोनों भाइयों का बंटवारा कर दिया. मुकेश अंबानी को ऑयल और केमिकल बिजनस दिया गया, जबकि छोटे बेटे अनिल अंबानी को प्रॉफिट मेकिंग टेलिकॉम और इलेक्ट्रिसिटी बिजनस दिया गया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.