ईवीएम बदलने को लेकर पूर्वांचल के जिलों में हंगामा

by

Varanashi: लोकसभा चुनाव की मतगणना के पूर्व ही वाराणसी सहित पूर्वांचल के कुछ जिलों में सुनियोजित तरीके से स्ट्रांग रूम में ईवीएम बदलने की अफवाह के चलते सपा, बसपा, कांग्रेस के पदाधिकारियों के साथ कार्यकर्ता सोमवार की देर शाम से आधी रात के बाद तक हंगामा कर धरना-प्रदर्शन करते रहे.

अफवाहों की शुरुआत गृहमंत्री राजनाथ सिंह के गृह जनपद और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्रनाथ के संसदीय क्षेत्र चन्दौली से हुई. यहां ईवीएम बदले जाने की शिकायत कर सपा, कांग्रेस और जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय मंडी समिति के बाहर जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया.

उनके विरोध प्रदर्शन की जानकारी पाते ही चन्दौली जिलाधिकारी मौके पर पहुंच गये. जिलाधिकारी के समझाने बुझाने के बाद भी हंगामा कर रहे कार्यकताओं का आरोप था कि ईवीएम बदली जा रही हैं.

चन्दौली में हंगामे की खबर जैसे ही पूर्वांचल के अन्य जिलों में फैली तो वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्जापुर, मऊ में भी हंगामा होने लगा. सूचना पाते ही आला अफसर मौके पर पहुंच गये. अचानक देर रात हुए हंगामे से इन जिलों में मंडी समिति के स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम की सुरक्षा में तैनात फोर्स के जवान भी सकते में आ गये. उन्होंने तत्काल इसकी सूचना आला अफसरों को दी.

सूचना पाते ही मौके पर अफसर भारी फोर्स के साथ पहुंच गये. वाराणसी में ईवीएम बदलने की अफवाह से खफा विभिन्न दलों के नेता पहड़िया मंडी में मंगलवार को भी धरना पर बैठे रहे.

मौके पर मौजूद एसपी सिटी दिनेश सिंह, एडीएम सिटी ने कार्यकर्ताओं को सुरक्षा घेरे में स्ट्रांग रूम ले जाकर ईवीएम और सीसीटीवी को दिखाया, तब जाकर कार्यकर्ताओं और उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर सन्तोष जताया.

इस सम्बन्ध में वाराणसी के जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि पिंडरा में चुनाव के बाद से ही कई प्रत्याशियों के प्रतिनिधि पहड़िया मंडी समिति में 24 घण्टे सीसीटीवी के माध्यम से ईवीएम पर नजर रख रहे हैं. उन्होंने कहा कि ईवीएम को लेकर कुछ लोग अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश में हैं.

सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी. एसपी सिटी दिनेश सिंह ने भी बताया कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले लोगों को चिन्हित किया जा रहा है.

गाजीपुर और चन्दौली में जमकर हंगामा

ईवीएम बदलने का आरोप लगाकर गाजीपुर और चन्दौली में देर रात तक हंगामा होता रहा. गाजीपुर के गठबंधन प्रत्याशी अफजाल अंसारी अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ जंगीपुर मंडी समिति में बनाए गए स्ट्रांग रूम के बाहर जुट कर विरोध प्रदर्शन करने लगे.

सूचना पर सदर एसडीएम व सीओ भी भारी फोर्स के साथ पहुंच गए. अफसरों से बातचीत के दौरान अफजाल अंसारी ने ईवीएम की सुरक्षा पर सवाल लगाते हुए कहा कि उन्हें जिला प्रशासन पर भरोसा नहीं है. उनके लोग खुद मशीन की निगरानी करेंगे.

उन्होंने आरोप लगाया कि चंदौली में ईवीएम बदलने की कोशिश हुई है. अफसरों ने उन्हें समझा-बुझाकर वहां से हटाने की कोशिश लेकिन वह और उनके समर्थक एक भी बात मानने को तैयार न थे. उम्मीदवार अंसारी के अड़ियल तेवर से प्रशासनिक अधिकारियों के बीच तीखी नोक-झोंक भी हुई.

देर रात तक चले हंगामा के बाद तीन बजे भोर में प्रत्येक विधानसभा के स्ट्रांग रूम के सामने एजेंटों के रखे जाने की सहमति पर मामला शांत हुआ. इस दौरान पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह और जंगीपुर सपा विधायक वीरेंद्र यादव के अलावा सुभासपा के जखनियां विधायक त्रिवेणी राम भी मौजूद रहे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.