राजनाथ सिंह आज राफेल में भरेंगे उड़ान

New Delhi: आज विजयादशमी के दिन भारत को पहला अत्याधुनिक लड़ाकू विमान राफेल मिलने वाला है. केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस खास मौके के लिए फ्रांस पहुंच चुके हैं जहां वो एयरफोर्स डे सेरेमनी में भाग लेंगे. इस दौरान राजनाथ सिंह फ्रांसीसी एयरपोर्ट के बेस से उड़ान भी भरेंगे.

कुछ बदलावों के बाद इसको अगले साल भारत को सौंपा जायेगा.

कहा जा रहा है कि राफेल जेट लड़ाकू विमानों के भारतीय सेना में शामिल होने से इसकी ताकत कई गुणा बढ़ जाएगी.

राफेल फाइटर प्लेन की खासियत

राफेल का निर्माण दसाल्ट नामक एक फ्रांसीसी कंपनी ने किया है. ये एक ऐसा लड़ाकू विमान है जिसे हर मिशन पर भेजा जा सकता है. राफेल एक मिनट में 60 हजार फुट की ऊंचाई तक जा सकता है और इसकी फ्यूल कैपेसिटी तकरीबन 17हजार किलोग्राम है. राफेल विमान 2,223 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से उड़ान भर सकती है.

राफेल लड़ाकू विमान हर तरह के मौसम में काम करने में सक्षम है इसलिए इस विमान को मल्टिरोल फाइटर एयरक्राफ्ट के नाम से भी जाना जाता है. राफेल की मारक क्षमता 3700 किलोमीटर है. इसकी स्काल्प की रेंज तकरीबन 300 किलोमीटर है. स्काल्प एक खास प्रकार की मिसाइल है जो जमीन से हवा में मार कर सकने में सक्षम है.

मारक खूबियों से लैस है राफेल विमान

राफेल फाइटर प्लेन एंटी शिप अटैक से लेकर परमाणु अटैक, क्लोज एयर सपॉर्ट और लेडर डायरेक्ट लॉंग रेंज मिसाइल अटैक में भी अग्रणी है. ये क्षमताएं इस विमान को और भी ज्यादा खतरनाक बनाती है. राफेल फाइटर प्लेन एक साथ 24,500 किलोमीटर तक का वजन लादकर 60 घंटे की अतिरिक्त उड़ान लगातार भर सकता है.

हालांकि भारत को जब ये विमान सौंपा जायेगा तो इसमें कुछ बदलाव किए जाएंगे जो भारतीय वायु सेना के अनुरूप होगा. इसमें इजरायली हेलमेंट माउंटेड डिस्प्ले, राडार वार्निंग रिसीवर्स, लो बैंड जैमर्स, 10 घंटे का फ्लाउट डेटा रिकार्डिंग सिस्टम सहित इन्फ्रा रेड सर्च ट्रैकिंग सिस्टम लगाया जाएगा.

ये मिसाइलें बनाती हैं विमान को खतरनाक

राफेल दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है. इसमें मिटिऑर और स्काल्प मिसाइलें तैनात हैं जो हवा से हवा और जमीन से हवा में मार कर सकने में सक्षम हैं. ये दो मिसाइलें राफेल को और भी खतरनाक बनाती हैं. राजनाथ सिंह ने इस मौके पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि हमें ये विमान सौंप दिया जाएगा. लोगों को इस कार्यक्रम को जरूर देखना चाहिए.

Arms Worshipदशहराराजनाथ सिंहराफेलशस्त्र पूजनDussehraRafaleRafale fighter Planerajnath singh
Comments (0)
Add Comment