रघुवर दास से ज्‍यादा संपत्ति सरयू राय के पास, जानिए कुंदन पाहन से ज्‍यादा अपराधिक मामले किस पर

Ranchi: झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) के तहत दूसरे चरण की 20 सीटों पर नाम वापस लेने की अंतिम तिथि खत्म होने के बाद मैदान में रह गए उम्म्मीदवारों की तस्वीर साफ हो गई है. इस चरण में 260 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इनमें एक दर्जन से अधिक पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. कई करोड़पति हैं तो कुछ की संपत्ति हजारों रुपये में भी है. वे अभी तक लखपति भी नहीं बन सके हैं. इस चरण में उच्च शिक्षा प्राप्त उम्मीदवार से लेकर नन मैट्रिक उम्मीदवार भी चुनाव लड़ रहे हैं.

इस चरण में कोई एमबीए-पोस्ट ग्रेजुएट तो कोई आठवीं पास भी है.  घाटशिला से जदयू प्रत्याशी अमित कुमार तथा झाविमो उम्मीदवार सुनीता कुमारी उर्फ सुनीता देवदूत सोरेन एमबीबीएस डॉक्टर हैं. मनोहरपुर से चुनाव लड़ रहे शिवसेना के रितू राज सिंह इंजीनियर (बीटेक) हैं. मझगांव के जदयू प्रत्याशी सालखन मुर्मू एलएलबी हैं. यहीं से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे अशोक बिरुवा भी यही योग्यता रखते हैं.

जगन्‍नाथपुर  से भाजपा प्रत्याशी सुधीर सुंडी पीएचडी तथा घाटशिला से आजसू उम्मीदवार प्रदीप बलमुचू एमकॉम उत्तीर्ण हैं. कई अन्य उम्मीदवार भी उच्च शिक्षा रखते हैं. दूसरी तरफ, झामुमो के मंगल कालिंदी महज आठवीं कक्षा उत्तीण हैं. जगन्नाथपुर से कांग्रेस के उम्मीदवार सोनाराम ङ्क्षसकु भी नन मैट्रिक हैं. कई अभ्यर्थी मैट्रिक और इंटर भी उत्तीर्ण हैं. दूसरी तरफ, चाईबासा से चुनाव लड़ रहे जेबी तुबिद रिटायर्ड आइएएस हैं.

आपराधिक मामलों की बात करें तमाड़ से चुनाव लड़ रहे पूर्व नक्सली कुंदन पाहन पर सबसे अधिक 44 मामले दर्ज हैं. पूर्व मंत्री बंधु तिर्की पर भी दस मामले चल रहे है. झामुमो के टिकट पर खरसावां से चुनाव लड़ रहे दशरथ गगराई पर हत्या के प्रयास समेत सात मामले दर्ज हैं. इसी तरह, गुरुचरण नायक पर चार और बिरसा मुंडा पर तीन मामले लंबित है.

चुनाव लड़ रहे कई उम्मीदवार करोड़पति है. वहीं पोटका के मंगल कालिंदी के पास महज 2.49 हजार तथा संजीव सरदार के पास महज 15.70 हजार रुपये ही संपत्ति है. मांडर के  प्रत्याशी संजय महली के पास महज लगभग छह हजार रुपये की ही संपत्ति है. मुख्यमंत्री रघुवर दास अभी भी करोड़पतियों में शामिल नहीं हो सके हैं.

हथियारों के भी शौकीन हैं नेताजी

इस चरण में कुछ ऐसे भी उम्मीदवार हैं जो हथियारों के शौकीन हैं. भाजपा के देवेंद्र सिंह के पास दो, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ के पास दो और गुरुचरण नायक के पास भी दो हथियार है. कांग्रेस पार्टी के बन्ना गुप्ता के पास चार हथियार है. इसी तरह, झामुमो के प्रत्याशी सुखराम उरांव के पास तीन और चंपई सोरेन के पास तीन हथियार है.

बम विस्फोट से लेकर रंगदारी के भी मामले

झामुमो से सरायकेला के उम्मीदवार पूर्व मंत्री चंपई सोरेन के विरुद्ध वर्ष 1993 में गम्हरिया थाना क्षेत्र में बम विस्फोट मामले दर्ज हैं. भाजपा के गणेश माहली पर कदमा थाने में रंगदारी व मारपीट का आरोप है.

ये हैं करोड़पति

  1. अभय सिंह, राजद (पूर्वी सिंहभूम) : 9.19 करोड़
  2. रामदास सोरेन, झामुमो (घाटशिला) : 9.06 करोड़
  3. सरयू राय, निर्दलीय (पूर्वी सिंहभूम) : 4.34 करोड़
  4. जेबी तुबिद, भाजपा (चाईबासा) : 2.48 करोड़
  5. सूर्य सिंह बेसरा (घाटशिला) : 2.09 करोड़
  6. मेनका सरदार, भाजपा (पोटका) : 2.8 करोड़
  7. देवकुमार धान, भाजपा (मांडर) : 1.24 करोड़
  8. सुनील सिंह मुंडा, जदयू (तमाड़) : 1.67 करोड़
  9. प्रकाशचंद्र उरांव, निर्दलीय (तमाड़) : 1 करोड़

इनपर हैं आपराधिक मामले

  1. कुंदन पाहन : 44
  2. बंधु तिर्की, झाविमो : 10
  3. रामदास सोरेन, झामुमो : 5
  4. समीर मोहंती, झामुमो : 3
  5. संजीव सरदार : 3
  6. देवकुमार धान, भाजपा : 2

इनपर नहीं है कोई मामला

  1. रघुवर दास, भाजपा
  2. सरयू राय, निर्दलीय
  3. कुणाल षाड़ंगी, भाजपा
  4. मेनका सरदार, भाजपा
  5. कनाई मुर्मू, सीपीआइ
2nd phase Jharkhand Assembly Election 2019assembly election in Jharkhandझारखंड चुनाव 2019झारखंड विधानसभा चुनाव 2019Government and Politicsjharkhand assembly election 2019Jharkhand assembly election updateJharkhand Chunav 2019jharkhand Electionjharkhand election 2019jharkhand vidhan sabhajharkhand vidhan sabha chunav 2019Jharkhand vidhan sabha election 2019Jharkhand vidhan sabha electionsJharkhans Politics
Comments (0)
Add Comment