100 रुपये प्रति/लीटर तक हो सकती है पेट्रोल की कीमत

New Delhi: मौजूदा समय में अमेरिका और ईरान के बीच तनाव का माहौल है. दोनों दुनिया के सबसे ताकतवर देशों में एक है. इस तनाव का असर अब दुनिया भर पड़ने वाला है.

दरअसर पिछले दिनों ईरान ने अमेरिकी सेना का एक ड्रोन मार गिराया था. जिसके बाद दोनों देशों के बीच जंग की आशंका बढ़ गई है. ड्रोन गिराने की खबर आने के तुरंत बाद कच्चे तेल की कीमत 5 फीसदी का उछाल देखा गया था. जो इस साल की सबसे सबसे अधिक है.

जानकारों के मुताबिक, अगर अमेरिका और ईरान के बीच जंग हुई तो इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल का भाव 90 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकता है, जो अभी 65 डॉलर प्रति बैरल पर है. भारत में इसका असर पेट्रोल की कीमतों पर दिखेगा और एक लीटर पेट्रोल की कीमत बढ़कर 100 रुपये प्रति/लीटर तक हो सकती है.

ईरान और अमेरिका के बीच तनातनी के कारण कच्चे तेल की कीमतों को लेकर भारत सरकार की चिंता बढ़ गई है. इस तनावपूर्ण हालात के कारण तेल की कीमतें तेजी से बढ़ी हैं, जिसपर भारत ने चिंता जाहिर की है.

जानकारों के मुताबिक, अमेरिका और ईरान के बीच युद्ध हुआ तो कच्चे तेल की कीमत 90 डॉलर प्रति बैरल तक बढ़ सकती है. जिसका सीधा असर पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर पड़ेगा.

कच्चे तेल के भाव में बढ़ोतरी और इंपोर्ट खर्च बढ़ने का असर पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर पड़ेगा, जिससे देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें 100 रुपये प्रति लीटर के पार जा सकती हैं.

America and Iranअमेरिका और ईरानकच्चे तेल की कीमतपेट्रोल की कीमतपेट्रोल के दामCrude oil priceprice of petrol
Comments (0)
Add Comment