कारगिल दिवस पर कपिल और गंभीर ने कहा- धोनी का फैसला युवाओं के लिए प्रेरणादायक

धोनी के सेना के साथ समय बिताने के फैसले की तारीफ

New Delhi: भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के सेना (Indian Army) के साथ दो महीने बिताने के फैसले की कारगिल दिवस के मौके पर तारीफ की जा रही है.

कारगिल दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में धोनी की तारीफ

कारगिल दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में विश्‍व विजेता कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने तारीफ की है. उन्‍होंने कहा है कि धोनी का यह फैसला देश के कई युवाओं को प्रेरित करेगा.

पूर्व क्रिकेटर और अब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद गौतम गंभीर पहले कई बार यह कह चुके हैं कि धोनी को सेना की वर्दी तभी पहननी चाहिए जब वह सेना के लिए कुछ करें, लेकिन अब गंभीर ने धोनी के सेना के साथ समय बिताने के कदम को ऐतिहासिक बताया है.

धोनी को सेना की वर्दी में देख युवा होंगे प्रेरित

गंभीर ने समाचार चैनल एबीपी न्यूज (ABP) द्वारा करगिल युद्ध (Kargil War) के 20 साल पूरे होन पर आयोजित किए गए शिखर सम्मेलन के दौरान कहा, “धोनी का यह कदम कमाल का है. मैंने पहले कई बार कहा है कि धोनी को सेना की वर्दी तभी पहननी चाहिए जब वो सेना के लिए कुछ करें और अब धोनी ने सेना के साथ समय बिताने का फैसला किया है.

गौतम गंभीर ने कहा- इससे पता चलता है कि वह सेना के प्रति कितने समर्पित और गंभीर हैं. धोनी का यह कदम देश के कई युवाओं के लिए प्रेरणा का काम करेगा और युवा सेना में शामिल होने के लिए प्रेरित होंगे.”

गंभीर की बात को भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव का समर्थन मिला. कपिल ने कहा, “धोनी ने जो किया है, वो बड़ा फैसला है. इससे देश का युवा प्रेरित होगा. मुझे लगता है कि देश के युवाओं को कुछ समय सेना में जरूर बिताना चाहिए, जिससे देश का भला हो सके और युवाओं को नई सीख मिल सके.”

विश्व कप के बाद धोनी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को बता दिया था कि वह सेना के साथ समय बिताने के लिए क्रिकेट से दो महीने का ब्रेक लेंगे. इसी कारण धोनी को वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली वनडे और टी-20 सीरीज के लिए भी टीम में नहीं चुना गया.

कारगिल दिवसमहेंद्र सिंह धोनीसेनाindian armyMahendra Singh Dhoni
Comments (0)
Add Comment