Indian Army ने तबाह किये POK में चार आतंकी ठिकाने, 20 पाक सैनिक-आतंकी ढेर

New Delhi: कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) के कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर में पाकिस्तान की गोलीबारी (Pakistan Firing) में दो जवानों के शहीद होने व एक नागरिक की मौत का बदला भारतीय सुरक्षाबलों (Indian Force) ने दो घंटे के भीतर ही ले लिया.

भारतीय सेना (Indian Army) ने पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में आतंकियों के ठिकानों पर कार्रवाई करके चार आतंकी लांचिंग पैड तबाह कर दिए. इस जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के 6 से 10 सैनिक मारे गए हैं और कई अन्य घायल हुए हैं.

जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर भारत की जवाबी कार्रवाई के बारे में जानकारी देते हुए थल सेना अध्यक्ष जनरल विपिन रावत ने बताया कि प्राप्त सूचनाओं के अनुसार भारत की ओर से की गई कार्रवाई में छह से दस पाकिस्तानी सैनिक मारे गए हैं और इतनी ही संख्या में आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया गया है.

पाकिस्तान ने रविवार सुबह कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन करते हुए भारतीय चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया जिसमें भारतीय सेना के दो जवान शहीद हो गए.

इसके अलावा एक नागरिक की मौत हो गई जबकि एक सैनिक सहित चार लोग घायल हुए. सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

इसके बाद भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में पाक अधिकृत कश्मीर में जुरा, अथमुक्कम और कुंडलसाही स्थित तीन आतंकी लांचिंग पैड बुरी तरह तबाह कर दिए. एक अन्य आतंकी अड्डे को भी काफी नुकसान पहुंचा है.

भारतीय सेना की आर्टिलरी गन से की गई इस कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के 6 से 10 सैनिक मारे गए हैं जबकि कई घायल हुए हैं.

पाकिस्तान की इस गोलीबारी में तंगधार सेक्टर के चित्रकूट गांव में 6 व गुंडी साल गांव में दो घर तबाह हुए हैं. इस सीजफायर उल्लंघन में एक मकान और चावल के गोदाम, दो कारें और दो गौशालाएं ध्वस्त हुई हैं. इन दो गोशालाओं में 19 पशु और भेड़ें थीं.

कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर के मनियारी गांव में भी पाकिस्तान ने भारी गोलीबारी की जिसमें एक मकान घ्वस्त हो गया है. गनीमत यह रही कि मकान में उस समय कोई मौजूद नहीं था. 

थल सेना अध्‍यक्ष विपिन रावत ने कहा कि आतंकवादियों के हताहत होने के बारे में और सूचनाएं भी मिल रही हैं. सेना की कार्रवाई में तीन आतंकवादी ठिकाने पूरी तरह नष्ट कर दिए गए हैं जबकि एक अन्य ठिकाने को नुकसान पहुंचा है.

सेना अध्यक्ष ने कहा कि सरकार या राजनीतिक नेतृत्व को सेना की इस जवाबी कार्रवाई के बारे में  नियमित रूप से जानकारी दी जा रही है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को सीमा पर हुए घटनाक्रम की पूरी जानकारी दी जा रही है. 

सरकार और सेना के बीच पूरा तालमेल है. जनरल रावत ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से पाकिस्तान राज्य में अशांति पैदा करने का माहौल बना रहा है. राज्य में आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिश की जा रही है.

पाकिस्तान ने अपने इलाके में कायम आतंकवादियों को फिर से सक्रिय कर दिया है. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर से तेजी से सामान्य हो रहे हालात को पाकिस्तान बिगाड़ने का मंसूबा बना रहा है.

सेनाध्य़क्ष ने कहा कि हमें जानकारी मिली थी कि पिछले एक महीने के दौरान आतंकवादी सीमा पर कई सेक्टरों से भारत में घुसने की कोशिश कर रहे हैं. सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में मौजूद अड्डों को तोपों से निशाना बनाया.

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने तंगधार सेक्टर में आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की कोशिश की, जिस पर भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई की. इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने हमारी चौकियों पर फायरिंग की जिससे हमें कुछ नुकसान हुआ. इसके बावजूद सीमापार से घुसपैठ की कोशिश को नाकाम बना दिया गया. सेना ने आतंकवादी ठिकानों को निशाना बनाया और आतंकवादी ढांचे को भारी नुकसान पहुंचाया.

भारतीय उप उच्चायुक्त को तलब किया

उधर, पीओके में भारतीय सेना द्वारा आतंकी लॉन्च पैड्स पर हमले के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रविवार को भारतीय उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को तलब किया है.

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर हमलाभारत-पाकिस्तानindia attack pakindia Headlinesindia Latest Newsindia NewsIndia News in HindiIndian Army PakistanPoK
Comments (0)
Add Comment