भारत में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट, ममता बनर्जी बोलीं- दिल्‍ली दंगे से ध्‍यान भटकाने की साजिश

by

New Delhi: भारत में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है. देश में जांच के बाद 28 लोगों के सैंपल पॉजिटिव पाये गये हैं. दिल्‍ली से सटे नाएडा में दो स्‍कूलों को इसलिए बंद करना पड़ा क्‍योंकि संक्रमण की आशंका बढ़ गई थी. वहीं अब कोरोना वायरस को लेकर भी पॉलिटिक्‍स शुरू हो गई है. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी द्वारा जारी बयान के मुताबिक यह सब दहशत फैलाने की कोशिश है, ताकि दिल्‍ली हिंसा से लोगों का ध्‍यान भटकाया जा सके.

कोरोना वायरस का डर दिल्‍ली दंगों से ध्‍यान भटकाने की चाल

पश्चिम बंगाल की सीएम मता बनर्जी ने बुधवार को केंद्र के मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि वह दिल्‍ली दंगों से ध्‍यान हटाने के लिए कोरोना वायरस के नाम पर दहशत फैला रही है.

उन्‍होंने कहा कि आज कुछ लोग कोरोना-कोरोना हल्‍ला कर रहे हैं. हां, कोरोना कुछ हद तक जानलेवा बीमारी है, लेकिन दशत न फैलाएं. कुछ चैनल इसका हौवा खड़ा कर रहे हैं, ताकि दिल्‍ली की घटनाओं को दबाया जा सके. जब यह हो तो रिपोर्ट करें, हम नहीं चाहकि कि यह फैल जाए. लेकिन याद रखिए कि दिल्‍ली में मरने वाला कोई भी कोरोना वायरस से नहीं मरा है.

Read Also  पश्चिम बंगाल में TMC ऑफिस पर हमले से 2 कार्यकर्ताओं की मौत, हिरासत में लिए गए 6 लोग

पीएम और मंत्रियों ने होली मिलन से बनाई दूरी

इधर कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, मंत्री अर्जुन मुडा समेत कई भाजपा नेताओं ने होली मिलन से खुद को दूर रखने की बात कही हैं.

ममता बनर्जी को लग रहा है कि कोरोना वायरस का जितना खतरा है, सरकार उसको ज्यादा बढ़ा-चढ़ा कर पेश कर रही है. पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले के बुनियादपुर में एक रैली में उन्होंने कहा कि, ‘अगर वे लोग वायरस की वजह से मरे तो कम से कम हमें पता चलता कि उनकी मौत जानलेवा बीमारी की वजह से हुई, लेकिन स्वस्थ्य इंसानों को बेरहमी से मार डाला गया. उन्होंने (भाजपा) माफी तक नहीं मांगी. अहंकार देखिए. वो कह रहे हैं गोली मारो, मैं चेतावनी देती हूं कि बंगाल और यूपी एक नहीं है.’

Read Also  बाइडन करने जा रहे हैं अमेरिकी नागरिकता को लेकर बड़ा बदलाव

ममता बनर्जी ने कहा कि ‘बंगाल में किसी को चूहा भी काट ले तो ये लोग (भाजपा वाले) सीबीआई जांच की मांग शुरू कर देते हैं. लेकिन, दिल्ली में इतने लोग मारे गए, लेकिन इसको लेकर कोई न्यायिक जांच नहीं हुई. मैं सुप्रीम कोर्ट के जजों से न्यायिक जांच करवाने की मांग करती हूं.’

भारत में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ गई है

बता दें कि चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब वैश्विक महामारी का शक्ल अख्तियार कर चुका है. चीन के बाद ईरान और इटली में भी यह भयंकर कहर बरपा रहा है. अमेरिका में इसके मरीज की मौत की पुष्टि हो चुकी है. भारत में 28 लोगों के टेस्ट पॉजिटिव आ चुके हैं, जिसमें 16 तो इटली से आए सैलानी हैं. झारखंड में भी चीन से आए धनबाद के एक व्‍यक्ति का सैंपल जांच के लिए भेजा गया है.

अकेले चीन में इस बीमारी ने तीन हजार से ज्यादा लोगों को मौत की नींद में सुला दिया है और दुनिया में इससे संक्रमित मरीजों की संख्या 90,000 को पार कर चुकी है. बड़ी बात ये है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत सरकार की ओर से इसकी रोकथाम के लिए उठाए गए कदमों की सराहना की है और बताया है कि थोड़ी भी लापरवाही बहुत बड़े संकट को बुलावा दे सकती है. लेकिन, ये भारत है जिसमें हर चीज को देखने का एक राजनीतिक चश्मा होना भी सामान्य सी बात है.

Read Also  गुजरात के सूरत में फुटपाथ पर सो रहे 18 लोगों को डंपर ने रौंदा, 15 की मौत

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.