अखिलेश यादव ने जारी किया समाजवादी पार्टी का घोषणा-पत्र, कहा- भाजपा के पास कुछ बताने को नहीं

by

Lucknow: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने शुक्रवार को पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया.

मेनिफेस्टो का ऐलान करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि, सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन के विचार के साथ हम चुनाव में उतरे हैं. सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन पर आधारित हमारा डॉक्युमेंट जनता को समर्पित है.

इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए उनकी नीतियों की आलोचना की. उन्होंने कहा कि, बीजेपी के पास जनता को बताने के लिए कुछ भी नहीं है.

अखिलेश यादव ने पार्टी का घोषणापत्र जारी करते हुए कहा, ‘अमीरी-गरीबी की खाई बेहद गहरी हो चुकी है. हम सभी वर्गों के हितों का खयाल रखेंगे. सामाजिक न्याय से महापरिवर्तन एक नई दिशा- एक नई उम्मीद के साथ हमने लक्ष्य तय किये है.

अखिलेश यादव ने कहा कि बिना प्राइमरी एजुकेशन को ठीक किये कुछ सही नहीं हो सकता.

देश में जीएसटी लागू होने से व्यापारियों का नुकसान हुआ है. नोटबंदी से व्यापारी उबर भी नहीं पाए थे कि जीएसटी ने उनकी कमर तोड़ दी. उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास के लिए एक साथ आना होगा. हम तो किसान का पूरा कर्ज माफ होने के पक्ष में हैं. बिना महिलाओं को बराबर का सम्मान दिये विकास अधूरा है.

भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के पास बताने के लिए कोई काम नहीं है. भाजपा सरकार बेरोज़गारी, किसानों की आत्महत्या के आंकड़े छिपा रही है. ये ज़रूरी है कि सभी आंकड़े जनता के सामने आएं.

अपने कार्यकाल में किए गए कामों का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि, अगर से सत्ता में आते हैं तो उन कामों को पूरा करने का काम करेंगे जो अधूरे रह गए थे.

अखिलेश यादव ने कहा कि, हमने जो काम किया है, वहीं हमारी विश्वसनीयता है. अखिलेश ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के वायरस वाले बयान पर कसा तंज कसते हुए कहा कि, मुख्यमंत्री को कुछ पता ही नहीं है. हाल ही में दिल्ली में एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था, जिसमें ये नतीजा निकला था कि, ज्ञान और विज्ञान हमारे देश को आगे ले जाएगा. वो लोग टेस्ट ट्यूब बेबी पर बात कर रहे थे. इन्हे कोई जानकारी नहीं ये सिर्फ जनता को धोखा दे रहे हैं. अगर इन्हें जानकारी होती तो अभी तक यूपी में लैपटॉप बंट गए होते.

अखिलेश ने कहा कि, ये नई चीजें हैं ट्विटर और ट्वीट करना, यह मुख्यमंत्री नहीं जानते हैं. कहीं किसी से लिखवा लिया है, या किसी वायरस से तो नहीं लिखवा लिया. और जो बीजेपी ने वादे किए थे उनका क्या हुआ? आय दोगुनी हुई? नौजवानों को रोजगार मिला?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.