गांधी जयंती पर आजसू की स्‍वराज यात्रा, सुदेश बोले- गांव की आवाज मुकाम तक पहुंचाना मकसद

by

Ranchi: आजसू पार्टी (AJSU Party) के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो (Sudesh Kumar Mahto) ने कहा है कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने स्वराज की जो परिकल्पना की थी, वो आज भी प्रसांगिक है. स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा का मकसद लोगों तक गांधी जी के संदेशों को लेकर जाना और उनके विचारों को आगे बढ़ाना भी है.

बड़ी बातें:

  • एक ऐसा जनादेश जिसमें स्वराज, स्वाशासन और स्वाभिमान सुनिश्चित हो
  • गांधी जयंती पर अड़की के बारूहातू से शुरू की जनादेश यात्रा, गांवों को अगली कतार में लाने पर जोर
  • पूरे राज्य भर में स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा निकाला गया जिसमें लाखों लोगों ने शिरकत की.

दरअसल, स्वराज की अवधारणा में गांधी ने तय किया था कि लोकतंत्र की बुनियाद नीचे से मजबूत होते हुए ऊपर तक जाए. शक्ति का केंद्र बिंदु आम आदमी और उसका समूह हो जो आपसी संबंधों से जुड़ा रहे. उनका अभिप्राय लोक सम्मति के अनुसार होने वाला शासन था.

आपका जनादेश मेरी सेवा इसी संकल्प के साथ पदयात्रा की शुरुआत की है. शासन और प्रशासन आपके दरवाजे पर आए, यही मेरा पहला और आखिरी उद्देश्य है.

तमाड़ विधानसभा क्षेत्र के अड़की प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय में आयोजित स्वराज स्वाभिमान जनादेश सभा में उन्होंने यह बातें कही. इससे पहले बारूहातू मोड़ से विद्यालय तक छह किलोमीटर की पदयात्रा कर उन्होंने लोगों से गांधी के स्वराज के लिए जनादेश की अपील की. एक ऐसा जनादेश जिसमें स्वराज, स्वाशासन और स्वाभिमान सुनिश्चित हो.

उन्होंने कहा कि स्वराज और स्वाभिमान की सुरक्षा हमारी राजनीति का मूल विषय है. व्यवस्था और विषय ही हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं. ये राज्य आपका है, तो शासन भी आपका होना चाहिए और स्वाभिमान भी सुरक्षित रहना चाहिए.

सुदेश कुमार महतो ने कहा कि स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा का मकसद बिल्कुल साफ है कि हम गांवों की आवाज को उस मुकाम तक पहुंचाना चाहते हैं जिसमें हमारा हक और अधिकार मिले. साथ ही हमारा स्वाभिमान सुरक्षित हो.

उन्होंने कहा कि जनादेश की सरकार बनाने के लिए गांवों का हमें साथ चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने पिछले साल दो अक्तूबर को शुरू की गई स्वराज स्वाभिमान यात्रा की चर्चा की. उन्होंने कहा कि अबुआ दिसुम अबुआ राज को लेकर गांव-गांव में वातावरण बना है.

उन्होंने महात्मा गांधी के संदेश एवं मूल्यों को आदर्श बताते हुए कहा कि आज आजसू पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पूरे राज्य में गांधी के विचारों को आगे बढ़ाने के लिए जनादेश यात्रा निकाली है.

स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा के जरिए ही हम संकल्प ले रहे हैं कि जमीनी सवाल और झारखंड की वैचारिक डोर कहीं से ढीली नहीं पड़े.  

धरती आबा हमारे स्वाभिमान

उन्होंने कहा, उलगुलान के महानायक बिरसा मुंडा की धरती से हमने जनादेश यात्रा निकाली है. धरती आबा की लड़ाई ही हमारा स्वाभिमान है. हम सभी बड़ी लड़ाई की तैयारी करें. गांव जो सोचेगा, शासन भी वही करेगा.

गांवों को बुनियादी सुविधाएं मिले और सोच के अनुरूप सिस्टम काम करे. बीडीओ-सीओ एक आम आदमी के दरवाजे पर आए और सेवा प्रदान करे. गांव के लोगों का सिस्टम पर यकीन रहे, बस इतना ही तो गांवों को चाहिए. वातावरण बनाने की दिशा में हम सभी एकजुट होकर बढ़ें. ये काम होकर रहेंगे.

उन्होंने कहा कि स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा के साथ कुछ महत्वपूर्ण विषयों का मूल्यांकन भी बेहद जरूरी है. ये विषय स्वराज, सत्ता के विकेंद्रीकरण, विस्थापन, रोजगार, खनिज-संपदा के लाभ, भाषा, संस्कृति परंपरा की रक्षा, सामाजिक सुरक्षा और स्वाभिमान से जुड़े हैं.

हमारी मंशा एकदम स्पष्ट है कि गांव और गांव के सवाल कतई पीछे नहीं छूटें. जिस आम जन को गांधी देश की आवाज बनाना चाहते थे वे बनकर रहें.

अड़की के बाद आजसू प्रमुख ने सिल्ली विधानसभा क्षेत्र के पतराहातु से राहे तक जनादेश यात्रा निकाली. 

उलिहातू के लिए 70 करोड़ की योजना

उन्होंने अड़की की सभा में बताया कि बिरसा की धरती पर कई मौके पर आते रहने की वजह से वे सिंचाई और पेयजल की दिक्कत से वे वाकिफ हैं. आपका बेटा इस समस्या के समाधान के साथ आज आया है.

उलिहातू और आसपास के गांवों में पेयजल एवं सिंचाई की सुविधा मुहैया कराने के लिए करकरी नदी पर एक बराज/बीयर के निर्माण के लिेए जल संसाधन विभाग द्वारा योजना पर काम किया जा रहा है. इस योजना पर 70 करोड़ खर्च होने का अनुमान है.

ग्राम बनडुगरी में यह योजना प्रस्तावित है. इस योजना के जमीन पर उतरने से उलिहातू समेत दस गांवों में पीने का पानी और सिंचाई की सुविधा बहाल होगी.

कहां-कहां निकली जनादेश यात्रा

सांसद चन्द्र प्रकाश चौधरी ने रामगढ तथा माण्डू में स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा की अगुवाई की. इन जगहों पर बड़ी संख्या में आजसू के कार्यकर्ता यात्रा में शामिल हुए.

जबकि मंत्री राम चन्द्र सहिस जुगसलाई तथा ईचागढ़ में यात्रा का और विधायक राजकिशोर महतो ने टुंडी तथा डुमरी में नेतृत्व किया.

उधर चंदनकियारी में पूर्व मंत्री उमाकांत रजक और पार्टी के महासचिव लम्बोदर महतो गोमिया, नवीन, संतोष, काशीनाथ सिंह बेरमों में, रौशनलाल चौधरी ने बड़कागांव में यात्रा निकाली. हसन अंसारी, डॉ दीपक कुशवाहा, नजरूल हसन हासमी, भरत काशी साहू, हटिया में आवाज मुखर की.

जबकि केंद्रीय प्रवक्ता डॉ देवशरण भगत खिजरी तथा हेमलता उरांव एवं अंजू देवी मांडर में हजारो कार्यकर्ताओं के साथ यात्रा में निकले.

चक्रधरपुर रामलाल मुंडा, सिमरिया मनोज चंद्रा, कांके राजेंद्र मेहता, पार्वती देवी एवं रमजीत गंझू, तिवारी महतो माण्डू, कन्हैया सिंह जमशेदपुर, मंटू महतो सिंदरी, सुभाष राय बाघमारा, नन्दलाल बिरूवा मंझगांव, बिरसा मुण्डा मनोहरपुर, सतीश कुमार पलामू, गुप्तेश्वर ठाकुर गढ़वा में यात्रा लेकर निकले. 

पार्टी द्वारा गांधी जयंती के अवसर पर राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों में स्वराज स्वाभिमान जनादेश यात्रा निकाला गया जिसमें लाखों लोगों ने शिरकत की.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.