हेमंत सोरेन सरकार के विफलताओं के खिलाफ जोरदार आंदोलन करेगी आजसू पार्टी

by

Ranchi: आजसू पार्टी (AJSU Party) के रांची स्थित केंद्रीय कार्यालय में सभी जिला प्रभारियों एवं जिलाध्यक्षों की बैठक केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो (Sudesh Kumar Mahto) की अध्यक्षता में हुई. बैठक को संबोधित करते हुए आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो ने कहा कि हमें आनेवाली चुनौतियों का सामना करने के लिए संघर्षशील, गतिशील एवं चिंतनशील होना होगा.

सुदेश महतो (Sudesh Mahto) ने कहा कि राजनीति के दो ही पहलू होते हैंः सत्ता और संघर्ष ही हमारी पहचान है. साथ ही उन्होंने सभी पदाधिकारियों को अपने सामाजिक एवं राजनीतिक दायित्वों का ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करने की बात करते हुए कहा कि हमें जनता की आवाज़ बनना होगा. जनता के हक और अधिकार की लड़ाई का नेतृत्व करना ही विपक्ष का मूल कर्तव्य है.

उन्होंने कहा कि आजसू पार्टी ओबीसी आरक्षण, स्थानीय नीति, शिक्षा, रोज़गार, और राज्य के संसाधन के दोहन के खिलाफ मुखर होगी.

Read Also  महाराष्‍ट्र के पूर्व मंत्री और बड़े कारोबारी ने रची थी हेमंत सरकार गिराने की साजिश!

बैठक में प्रखंड स्तर तक पार्टी संगठन के पुर्नगठन एवं विस्तार, सदस्यता अभियान पुनरारंभ, वर्तमान सरकार के कामकाज की समीक्षा, पार्टी के भावी कार्यक्रमों पर चर्चा, पंचायत एवं नगर इकाई चुनाव के लिए पार्टी की तैयारी, कोरोना संक्रमण और उससे उपजी समस्याओं पर मंथन एवं कोरोना से मरनेवालों के परिवारों को न्याय दिलाने के लिए आंदोलन की रुपरेखा करने तथा टीकाकरण जागरूकता अभियान को लेकर विस्तृत चर्चा की गयी.

बैठक में लिए गए निर्णय-

15 जुलाई तक सभी प्रखण्ड में प्रखंड सम्मेलन

बैठक में यह निर्णय लिया गया कि 15 जुलाई तक राज्य के सभी प्रखंड में प्रखंड समिति का पुनर्गठन एवं विस्तार कर लिया जाएगा एवं प्रखंड स्तर पर सम्मेलन का आयोजन भी किया जाएगा.

8 अगस्त से हर प्रखंड में सामाजिक न्याय मार्च का शुरुआत करेगी आजसू पार्टी

झामुमो महागठबंधन की सरकार ने चुनाव से पहले कई वादे किए थे, जिसमें पिछड़ों को आरक्षण देने की बात कही गयी थी. आज सरकार अपना डेढ़ साल पूर्ण कर चुकी लेकिन इस विषय पर कोई चर्चा तक नहीं हुई. आजसू पार्टी पिछड़ों की लड़ाई को लड़ते आयी है और पिछड़ों को उनका हक और अधिकार दिलाने के लिए अब आजसू पार्टी निर्णायक लड़ाई लड़ेगी. बैठक में यह निर्णय लिया गया कि आजसू पार्टी 8 अगस्त यानी झारखंड के वीर शहीद निर्मल महतो के शहादत दिवस पर हर प्रखंड में सामाजिक न्याय मार्च की शुरुआत करेगी और क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन सौंपेगी.

Read Also  हेमंत सरकार गिराने की साजिश में शामिल कांग्रेसी विधायकों के खिलाफ हो सकती है कार्रवाई

आजसू पार्टी 9 अगस्त को पूरे प्रदेश में विश्व आदिवासी दिवस मनाएगी.

15 सितंबर तक प्रत्येक जिला में जिला सम्मेलन का किया जाएगा आयोजन, प्रखंड स्तर पर आयोजित कार्यशाला में होंगे केंद्रीय अध्यक्ष शामिल बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि 15 सितंबर से पहले सभी जिला में जिला सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा एवं प्रखंड स्तर पर आयोजित कार्यशाला में आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं केंद्रीय पदाधिकारी शामिल होंगे.

कोरोना से मरनेवालों का डाटा इकठ्ठा कर, उनके परिवारवालों के हक और अधिकार के लिए लड़ाई लड़ेगी आजसू पार्टी

आजसू पार्टी कोरोना से मरनेवालों का प्रखंड स्तर पर डाटा इकठ्ठा करेगी और उनके हक और अधिकार के लिए निर्णायक लड़ाई लड़ेगी. जल्द ही पूरे राज्य में कोरोना से मरनेवालों का डाटा इकट्ठा करने का कार्य प्रारंभ किया जाएगा.

2021 की जनगणना में ओबीसी के आंकड़ें सुनिश्चित हो

आजसू पार्टी प्रतिनिधिमंडल भारत सरकार के सम्बंधित विभाग के मंत्री से मिलकर 2021 की जनगणना में ओबीसी के आंकड़ों को सुनिश्चित करने के लिए पत्र सौंपेगी.

स्थानीय नीति के बिना नियोजन नीति का कोई अर्थ नहीं

वर्तमान सरकार ने इस वर्ष को नियुक्ति वर्ष का नाम दिया है. लेकिन हकीकत के धरातल पर तस्वीर उलट नज़र आती है. झामुमो महागठबंधन की सरकार ने स्थानीय नीति को अभीतक स्पष्ट ही नहीं किया और स्थानीय नीति के बिना नियोजन नीति को कोई अर्थ नहीं बनता.

हर मोर्चे पर विफल साबित हो रही झारखंड सरकार, संपदा दोहन के खिलाफ जल्द ही जोरदार आंदोलन करेगी आजसू पार्टी

झामुमो महागठबंधन की सरकार अपने चुनावी घोषणापत्र के अनुसार दो कदम भी नहीं चल पायी है. चाहे पहली कैबिनेट में पांच लाख युवाओं को रोज़गार देने की बात हो या बेरोज़गारों को बेरोज़गारी भत्ता देने की बात, सब दावे खोखले साबित हुए. झामुमो महागठबंधन सरकार में फिर से भू-माफियाओं, बालू माफियाओं और लकड़ी माफियाओं का राज है. बिचौलिएं और सरकार मालामाल हो चुके लेकिन जनता का हाल बुरा है. वर्तमान सरकार झारखंडियों की आकांक्षाओं के खिलाफ कार्य कर रही है. सरकार कोविड का चादर ओढ़कर अपनी नाकामियों को छिपाने में लगी है लेकिन आजसू पार्टी चुप रहनेवाली पार्टी नहीं है. राज्यहित, जनहित और वर्तमान सरकार के संरक्षण में चल रहे संपदा दोहन के खिलाफ आजसू पार्टी जोरदार आंदोलन करेगी.

Read Also  महाराष्‍ट्र के पूर्व मंत्री और बड़े कारोबारी ने रची थी हेमंत सरकार गिराने की साजिश!

बैठक में आजसू पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो, गिरिडीह सांसद एवं वरीय उपाध्यक्ष चंद्रप्रकाश चौधरी, पूर्व मंत्री रामचंद्र सहिस, विधायक सह पार्टी के महासचिव लम्बोदर महतो, पार्टी के उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री उमाकांत रजक, पार्टी की संगठन सचिव शालिनी गुप्ता, पूर्व विधायक सह पार्टी के उपाध्यक्ष अक़ील अख्तर एवं कुशवाहा शिवपूजन मेहता, केंद्रीय मुख्य प्रवक्ता डॉ. देवशरण भगत, केंद्रीय प्रवक्ता मनोज सिंहा, केंद्रीय महासचिव राजेंद्र मेहता, महिला मोर्चा की केंद्रीय संगठन सचिव वर्षा गाड़ी तथा सभी जिला प्रभारी एवं जिलाध्यक्ष शामिल थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.