Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड: लोकसभा चुनाव बाद इन शहरों में बिजली मीटर को मोबाइल नंबर की तरह करना होगा रिचार्ज

0

Ranchi: झारखंड (Jharkhand) के कई शहरों के बिजली उपभोक्‍ताओं का मीटर लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के बाद बदल दिया जाएगा. नये बिजली मीटरों को मोबाइल फोन की तरह रिचार्ज करना होगा. उपभोक्‍ता जितने का रिचार्ज करेंगे, उतना ही बिजली इस्‍तेमाल कर सकेंगे. बैलेंस खत्‍म होने के बाद फिर से रिचार्ज करना होगा.

बिजली मीटर का यह नया सिस्‍टम 2019 लोकसभा चुनाव के बाद झारखंड के कई शहरों में लागू कर दिया जाएगा. जानकारी के अनुसार पहले फेज में करीब 7.5 लाख उपभोक्ताओं के घरों में प्री-पेड मीटर लगाये जाएंगे.

झारखंड की राजधानी रांची के 3.5 लाख घरों में स्मार्ट मीटर लगाया जाएगा. आदर्श चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद इसे अमली जामा पहनाया जाएगा. इस काम को दो महीने में पूरा किया जाएगा.

प्री-पेड मीटर (Pre-paid Electric Meter) से उपभोक्ता मोबाइल की तरह रिचार्ज करा सकेंगे. मीटर में ससमय बिजली खपत का डाटा दिखता रहेगा. साथ ही कितने का रिचार्ज कराया गया और कितनी राशि की बिजली उपयोग कर ली गयी, इसकी भी जानकारी मिलेगी.

उपयोग के औसत के आधार पर शेष राशि से कितने घंटे बिजली उपयोग की जा सकेगी यह जानकारी उपभोक्ताओं को मिलती रहेगी. बिजली के जरूरत से ज्‍यादा उपयोग की स्थिति में मीटर में अलर्ट मिलता रहेगा.

बिजली मीटर को मोबाइल नंबर की तरह ही ऑनलाइन रिचार्ज किया जा सकेगा.

7.5 लाख घरों में प्री-पेड मीटर

पहले फेज में झारखंड के 7.5 लाख घरों में प्री-पेड मीटर लगेगें. पहला चरण दो सालों में पूरा किया जएगा. प्री-पेड मीटर के लिए उपभोक्ताओं से अलग से पैसे नहीं लिये जाएंगे.

माना जा रहा है कि प्री-पेड मीटर से झारखंड बिजली वितरण निगम को लाइन लॉस कम करने में मदद मिलेगी. इस समय राज्य का लाइन लॉस 30 फीसदी के करीब है. प्री-पेड मीटर से बिजली चोरी पर कंट्रोल हो पायेगा. स्वीकृत लोड से अधिक भार पर बिजली का उपयोग किया जा सकेगा.

झारखंड में अगले तीन सालों के दौरान स्मार्ट प्री-पेड मीटर ही लगाए जाएंगे. ऊर्जा मंत्रालय ने ऊर्जा संरक्षण, आसान बिलिंग और बिजली वितरण करने वाली कंपनी की वित्तीय स्थिति में सुधार को मद्देनजर रखते हुए वर्ष 2021 तक स्मार्ट प्री-पेड मीटर ही लगाने का निर्देश दिया है.

पहले चरण में यहां लगेंगे प्री-पेड मीटर

प्रारंभ में प्री-पेड मीटर मुख्य रूप से रांची, लोहरदगा, सिमडेगा, चिरकुंडा, खूंटी, पाकुड़, राजमहल, चक्रधरपुर, फुसरो, कोडरमा, डालटनगंज, आदित्यपुर, चकुलिया, चक्रधरपुर, चास, गुमला, लातेहार, गढ़वा, दुमका, जामताड़ा, चाईबासा, चतरा, साहिबगंज, रामगढ़, हजारीबाग, झुमरीतिलैया, धनबाद, गिरिडीह, देवघर आदि शहरों में लगेंगे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More