26 मरीजों की मौत के बाद अब रिम्‍स के जूनियर डॉक्‍टर्स और नर्सों का बढेगा भत्‍ता और सुविधा

by
  • -स्वास्थ्य मंत्री और मुख्य सचिव के साथ वार्ता में 15 सूत्री मांगों पर बनी सहमति
  • -विधानसभा के अगले सत्र में इसे पारित होगा मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट
  • -इमरजेंसी समेत वार्डों में एक मरीज के साथ एक परिजन ही रहेगा
  • -सख्त की होगी रिम्स की सुरक्षा व्यवस्था,
  • -7 जगहों पर तैनात रहेगी पुलिस
  • -पारा मेडिकलकर्मियों की समस्याओं का समाधान शासी परिषद की बैठक में

#RANCHI : झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स (राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडकिल साइंसेज) में विगत 36 घंटे तक चली नर्सों और जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल रविवार को समाप्त होने के बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी और मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि जेडीए (जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन) और रिम्स जूनियर नर्सेंस संघ के साथ बातचीत के बाद 15 सूत्री मांगों पर सहमति बनी है. नर्स के साथ मारपीट करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जायेगी. साथ ही रिम्स में सुरक्षा व्यवस्था सख्त की जायेगी. रिम्स में सात जगहों पर पुलिस बल तैनात किये जायेंगे. इमरजेंसी समेत वार्डों में एक मरीज के साथ एक ही परिजन को अंदर जाने की अनुमति दी जायगी.

मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट को कैबिनेट से स्वीकृति दी गयी है. विधानसभा के अगले सत्र में इसे पारित कराया जायेगा. मंत्री ने कहा कि रिम्स के जूनियर डॉक्टरों को अगले 15 दिनों में 7वें वेतनमान का लाभ दिया जायेगा. रिम्स की नर्सों को एम्स (नई दिल्ली) की तर्ज पर भत्ते का भुगतान किया जायेगा.

रिम्स पारा मेडिकल कर्मियों की समस्याओं का समाधान अगली शासी परिषद की बैठक में किया जायेगा. शासी परिषद की बैठक इस माह के अंत में होगी. स्वास्थ्य मंत्री ने घोषणा की कि रिम्स शासी परिषद की बैठक में जूनियर डॉक्टरों और नर्सों के एक-एक प्रतिनिधि को शामिल किया जायेगा. जूनियर डॉक्टरों एवं नर्सों की अन्य समस्याओं का समाधान महीने के पहले सप्ताह में विभाग के संयुक्त सचिव और निदेशक प्रमुख स्वास्थ्य सेवाएं द्वारा किया जायेगा.

इस मौके पर मुख्य सचिव ने कहा कि हड़ताल के दौरान मरीजों की मौत दुर्भाग्यपूर्ण है. भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो, इसके लिए प्रयास किये जा रहे हैं. वार्ता में विभाग के संयुक्त सचिव बीरेन्द्र कुमार सिंह, निदेशक प्रमुख स्वास्थ्य सेवाएं डॉ. सुमंत मिश्रा, रिम्स निदेशक डॉ. आरके श्रीवास्तव, उपनिदेशक प्रशासन जीएस प्रसाद, एडीएम लॉ एडं आर्डर एके सिंह, सिटी एसपी अमन कुमार, उपाधीक्षक डॉ. संजय कुमार उपस्थित थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.