किसान आंदोलन के कारण दिल्‍ली के यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी

दिल्‍ली के यात्रियों के लिए एडवाइजरी
Advertisement
Advertisement

New Delhi: दिल्ली के चारो ओर डटे किसानों ने केंद्र सरकार की बातचीत की शर्तें ठुकरा दी हैं. फरीदाबाद के बहादुरगढ़ स्थित टिकरी बॉर्डर पर डटे किसानों का कहना है कि वो बुराड़ी जाकर बातचीत करने को तैयार नहीं हैं. किसानों ने सरकार को साफ संदेश दिया है कि बातचीत यहीं पर आकर की जाए.

इसे भी पढ़ें: Corona Year 2020 Calendar: जनवरी में कोविड 19 वायरस ने एंट्री मारी, अब तक कोरोना संक्रमितों की संख्‍या एक करोड़

किसानों की चेतावनी 5 प्रमुख सड़कें बंद कर देंगे

रविवार शाम को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसान नेताओं ने खुली चेतावनी दी कि वो दिल्ली आने वाली सभी 5 अहम सड़कें जाम कर देंगे. किसानों ने ये भी कहा कि उनके मंच पर राजनीतिक दलों के लिए कोई जगह नहीं है. वहीं कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक बार फिर किसानों को 3 दिसंबर को बातचीत का माहौल बनाने की अपील की है.

दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के आंदोलन के चलते आम यात्रियों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है. सड़क बंद होने की वजह से लोग दूसरे रास्तों के जरिए आवाजाही कर रहे हैं, जिसमें पैसा और वक्त दोनों ज्यादा लग रहा है.

दिल्‍ली पुलिस ने यात्रियों के लिए जारी की एडवाइजरी

दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है, जिसके मुताबिक टिकरी बॉर्डर को अभी भी बंद रखा गया है.

दिल्ली पुलिस की एडवाइजरी के मुताबिक, टिकरी बॉर्डर किसी भी ट्रैफिक मूवमेंट के लिए बंद है. इसके अलावा झारोदा, धांसा, दौराला झटीकरा, बडूसरी, कापसहेड़ा, राजोखरी NH 8, बिजवासन / बजघेरा, पालम विहार और दुंदाहा बॉर्डर खुला है, जहां से यात्री अपनी यात्रा कर सकते हैं.

दिल्‍ली मेट्रो के लिए एडवाइजरी नहीं

हालांकि, दिल्ली मेट्रो की ओर से अभी कोई एडवाइजरी जारी नहीं की गई है. किसान आंदोलन की वजह से कई मेट्रो रूट को बंद किया गया था, लेकिन डीएमआरसी ने शुक्रवार को शाम 5 बजकर 35 मिनट से मेट्रों सेवाएं फिर से बहाल कर दी. शनिवार और रविवार को भी मेट्रो की सामान्य सेवाएं जारी रही. आज भी सामान्य सेवाएं जारी रहने की उम्मीद है.

इस बीच किसानों के जमावड़े के चलते सोनीपत में प्रशासन सतर्क है. एहतियात के तौर पर इलाके के सभी पेट्रोल पंप और शराब दुकानें बंद करवा दी गई हैं. साथ ही तमाम दफ्तरों और फैक्ट्रियों को गाइडलाइन जारी की गई है कि महिला कर्मियों को न तो नाइट शिफ्ट में बुलाया जाए न ही देर शाम तक ड्यूटी करवाई जाए.

Advertisement

5 thoughts on “किसान आंदोलन के कारण दिल्‍ली के यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी”

  1. Pingback: कार्तिक पूर्णिमा में यहां लगता है भूतों का सबसे बड़ा मेला, तांत्रिक पूरी रात करते हैं अनुष्ठान | Local K

  2. Pingback: भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 94.32 लाख पार, 1.37 लाख से ज्यादा मौतें | Local Khabar

  3. Pingback: अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए 9 जातियों का प्रस्‍ताव केंद्र भेजेगी झारखंड सरकार | Local Khabar

  4. Pingback: ‘कोविडशील्ड’ से गंभीर साइड-इफेक्ट का दावा, अब वैक्सीन कंपनी करेगी 100 करोड़ का मुकदमा | Local Khabar

  5. Pingback: खेत में काम कर रहे 110 लोगों का गला काट, औरतों को उठा ले गए | Local Khabar

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top
प्‍यार वाला राशिफल: 6 अक्‍टूबर 2022 OTT पर खूंखार हो चली ये Hot Actress प्‍यार वाला राशिफल: 5 अक्‍टूबर 2022 Adipurush में प्रभास बने श्रीराम, टीजर का मजाक उड़ा प्‍यार वाला राशिफल: 4 अक्‍टूबर 2022