झारखंड सरकार के आम बजट में छात्रों को है काफी उमीदें : दुर्गेश कुमार

by

Ranchi: झारखंड सरकार के आम बजट में छात्रों को काफी उम्मीद है , सरकार बनने से पूर्व बहुत सारे वादे सरकार ने किए जिसमें रोजगार, पठन-पाठन के लिए महाविद्यालय विश्वविद्यालय में समुचित व्यवस्था, राज्य में कानून व्यवस्था, स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा व्यवस्था आज राज्य में पूरी तरह से चरमराई हुई है, किसी भी राज्य को चलाने के लिए इन व्यवस्थाओं का पटरी पर होना अति आवश्यक है, परंतु सरकार इन सभी विषयों पर गंभीर नहीं है.

रोजगार का मुद्दा था प्राथमिकता लेकिन वर्तमान सरकार में सिर्फ केंद्र सरकार को कोसने का ही किया है काम

रोजगार के मसले पर वर्तमान की सरकार सत्ता में आई, सरकार ने सिर्फ केंद्र सरकार को कोसने का कार्य किया, युवाओं को रोजगार उपलब्ध नहीं करा पाई, आम बजट में युवाओं के रोजगार पर विशेष तौर पर ध्यान देने की आवश्यकता है.

Read Also  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मानहानि मामले में ट्विटर फेसबुक को नोटिस

उसी प्रकार झारखंड में आए दिन जिस प्रकार बलात्कार की घटना घटी है इससे पूरे देश में झारखंड की छवि खराब हुई है, जो कि वर्तमान की सरकार पर कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान है इस पर भी सरकार को राज्य में कानून व्यवस्था सुदृढ़ हो इसके लिए भी योजना बनाकर आवश्यक कदम उठाने की आवश्यकता है.

शिक्षा में सरकार को महाविद्यालय विश्वविद्यालय में पर्याप्त शिक्षकों की नियुक्ति करना अति आवश्यक है, जिससे कि छात्र सुलभ तरीके से शिक्षा ग्रहण कर सकें, परंतु आज पूरे झारखंड में शिक्षकों की कमी है. बजट में इसका भी ध्यान देने की आवश्यकता है.

पूरे झारखंड में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से ठप है आए दिन हम अखबारों के माध्यम से देखते हैं कि किस प्रकार स्वास्थ्य के प्रति यह सरकार उदासीन है. सभी सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी बड़ी समस्या है, एक गरीब अपना इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पताल जाता है. परंतु उसका इलाज डॉक्टर ना होने के कारण नहीं हो पाता और मरीज मर जाता है. सरकार को सभी सरकारी अस्पतालों को प्राइवेट हॉस्पिटल के तर्ज पर तैयार कर समुचित व्यवस्था राज्य की जनता के लिए करने की आवश्यकता है. स्वास्थ्य व्यवस्था के ऊपर भी सरकार को बजट में गंभीर होने की आवश्यकता है.

Read Also  झारखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित, कैबिनेट की मुहर

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.