Take a fresh look at your lifestyle.

पादरी समेत 6 लोगों को गैंगरेप के मामले में उम्रकैद की सजा

0 8

Ranchi: झारखंड की एक अदालत ने शुक्रवार को गैंग‍रेप के एक मामले में एक पादरी समेत छह लोगों को उम्रकैद की सजा सुनायी. कोचांग गैंपरेप मामले में कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए फादर आल्फांसो आईंद सहित सभी छह आरोपितों को आजीवन कारावास और एक-एक लाख रुपये के जुर्माने की सजा सुनायी.

जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश राजेश कुमार की अदालत ने सात मई को ही सभी छह आरोपितों को गैंगरेप मामले में दोषी करार दिया था और 17 मई को सजा सुनाने की तिथि तय की थी. कोर्ट के फैसले के बाद सभी दोषियों को खूंटी उपकारा भेज दिया गया था.

गैंगरेप मामले में 8 आरोपी थे, जिसमें से एक फरार है और एक नाबालिग को किशोर न्यायालय भेज दिया गया. मामले में एक एनजीओ की दो ननों के खिलाफ जांच जारी है.

बता दें कि खूंटी जिले के अरकी में 19 जून 2018 को 5 लड़कियों के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था. पीड़ितों के बयान के अनुसार, पुलिस ने फादर अल्फोंसो समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया था.

पांचों पीड़ित सरकारी योजनाओं के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए नाटक पेश करने अड़की गयी हुई थी. उन्हें वहां अगवा कर लिया गया और उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया. साथ ही उन्हें गंभीर रूप से शारीरिक यातनाएं दी गयीं.

अपराधियों ने पीड़िताओं के साथ गैंगरेप और शारीरिक यातना देने के बाद कहा था कि बगैर ग्रामसभा और पत्थलगड़ी समर्थकों की इजाजत के कार्यक्रम करने के कारण ऐसी सजा दी गई है. घटना में पीएलएफआइ, पत्थलगड़ी समर्थक और फादर अल्फोन्स को दोषी पाया गया.

फादर आइंद के खिलाफ इस जघन्य अपराध के मामले में दो प्राथमिकी दर्ज की गयी थी. आइंद पर दोषियों को न रोकने और पुलिस को इस घटना के बारे में सूचित करने में विफल रहने का आरोप था. उन्होंने पीड़ितों को दोषियों के साथ जाने के लिए कहा था. साथ ही कहा था कि उन्हें कुछ समय बाद छोड़ दिया जाएगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.